अर्जेंटीना देश के रोचक तथ्य और ऐतिहासिक जानकारी


Country Facts: History About Argentina


विश्व के भूगोल में अर्जेंटीना देश का एक अलग ही स्थान है| इस देश में कई ऐसी बातें है जो इस देश को अन्य देशों से अलग करती है जैसे की भाषा, रहन सहन, वेश-भूषा, संस्कृति, धर्म, व्यवसाय| आइये जानते है अर्जेंटीना(Argentina) देश से जुड़े कुछ ऐसे अनोखे तथ्य तथा इतिहास से जुड़ी महत्वपूर्ण घटनाओं के बारे में, जिन्हें जानकर आपका ज्ञान बढ़ेगा|

अर्जेंटीना की संक्षिप्त जानकारी (Quick info about Argentina):-
नाम (हिंदी में)अर्जेंटीना
नाम (अंग्रेजी में)Argentina
महाद्वीप का नामSouth America
समूह का नाम
देश का गठन

अर्जेंटीना देश से जुड़े रोचक तथ्य और अनोखी जानकारियाँ (Interesting facts about Argentina country):

  • अर्जेंटीना को आधिकारिक तौर पर अर्जेन्टीना गणराज्य कहा जाता है, यह दक्षिण अमेरिका महाद्वीप में स्थित एक संप्रभु देश है।
  • अर्जेंटीना की सीमाएं उत्तर में बोलिविया एवं पैराग्वे, पूर्व में उरुग्वे तथा ब्राजील और पश्चिम में चिली से लगती है।
  • अर्जेंटीना ने 9 जुलाई 1816 में स्पेन से स्वतंत्रता हासिल की थी।
  • अर्जेंटीना का कुल क्षेत्रफल 2,780,400 वर्ग कि.मी. (1,073,500 वर्ग मील) है।
  • अर्जेंटीना क्षेत्रफल एवं जनसंख्या की दृष्टि से दक्षिणी अमरीका महाद्वीप का दूसरा सबसे बड़ा देश है।
  • अर्जेंटीना की आधिकारिक भाषा स्पेनिश है।
  • अर्जेंटीना की मुद्रा का नाम पेसो है।
  • विश्व बैंक के अनुसार 2016 में अर्जेंटीना की कुल जनसंख्या 4.38 करोड़ थी।
  • अर्जेंटीना साल 2010 में समलैंगिक विवाह को मंजूरी देने वाला लैटिन या दक्षिण अमेरिका का पहला देश था।
  • जापान के बाद अर्जेंटीना दुनिया की दूसरी सबसे ज्यादा एनोरेक्सिया (anorexia) है और इलाज के हर 8 रोगियों में से 1 पुरुष है।
  • अर्जेंटीना में, राजनीतिक दलों के अपने स्वयं के ब्रांड बियर हैं।
  • अर्जेंटीना दुनिया में गोमांस का तीसरा सबसे बड़ा उत्पादक है। यह सालाना 2.8 से 3.5 मिलियन टन उत्पादन करता है।
  • अर्जेंटीना रेडियो प्रसारण करने वाला दुनिया के पहले देशों में से एक था। पहला रिले 27 अगस्त 1920 को बनाया गया था।
  • पेटागोनिया (Patagonia) में पेरिटो मोरेनो ग्लेशियर (Perito Moreno Glacier) दुनिया में ताजे पानी का तीसरा सबसे बड़ा रिजर्व है।
  • येर्बा मेट (Yerba Mate) अर्जेंटीना का राष्ट्रीय पेय है।

अर्जेंटीना देश की ऐतिहासिक महत्वपूर्ण घटनाएं(Important history events related to Argentina country):

  • 04 अक्टूबर 1725 - अर्जेंटीना में रोजारियो की स्थापना की गयी।
  • 26 अक्टूबर 1811 - अर्जेंटीना सरकार ने प्रेस के लिए अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता की घोषणा की।
  • 12 फरवरी 1817 - चैकाबुको की लड़ाई में अर्जेंटीना/चिली देशभक्ति सेना ने स्पेनिश सेना को हराया।
  • 08 फरवरी 1826 - यूनानीवादी बर्नार्डिनो रिवादाविया अर्जेंटीना के पहले राष्ट्रपति बने
  • 20 फरवरी 1827 - इटुजिंगो की लड़ाई (पेसो दो रोजारियो) में ब्राजील के इंपीरियल आर्मी के एक दल ने अर्जेंटीना-उरुग्वेयन सैनिकों से युद्ध में भाग लिया।
  • 20 मार्च 1861 - अर्जेंटीना का मेंडोना शहर शक्तिशाली भूकंप की वजह से पूरी तरह से तबाह हो गया।
  • 19 सितम्बर 1955 - अर्जेंटीना की सेना और नौसेना ने विद्रोह करके राष्ट्रपति जुआन पेरोन को पद से हटाया।
  • 23 फरवरी  1958 - अर्जेंटीना के महान फार्मूला वन चालक खुआन मानुएल फांगियो का दो आदमियों ने अपहरण कर लिया।
  • 01 मई 1958 - आर्टुरो फ्रोंडिजी अर्जेंटीना के राष्ट्रपति बने।
  • 01 जून 1978 - 1978 फीफा विश्व कप अर्जेंटीना में शुरू हुआ।

अर्जेंटीना से जुड़ी तत्कालीन घटनाएं (समसामयिक) [Current Affairs related to Argentina country]:

  • March 2018 - अर्जेंटीना के टेनिस खिलाड़ी जुआन मार्टिन डेल पोत्रो ने रोजर फेडरर को हराकर इंडियन वेल्स मास्टर्स टेनिस टूर्नामेंट 2018 का खिताब जीत लिया है। 19 मार्च 2018 को खेले गए इंडियन वेल्स मास्टर्स टेनिस टूर्नामेंट के फाइनल मुकबले में जुआन मार्टिन डेल पोत्रो ने रोजर फेडरर को6-4, 6-7 (8/10), 7-6 (7/2) से हराकर शिकस्त दी।
  • August 2017 - बार्सिलोना और अर्जेंटीना के स्टार लियोनेल मेस्सी ला लीगा के इतिहास में 350 गोल करने वाले पहले खिलाड़ी बने।
  • June 2016 - अर्जेंटीना के फ़ुटबॉल खिलाड़ी लियोनेल मेसी ने अंतरराष्ट्रीय फुटबॉल से संन्यास की घोषणा की। उन्होंने यह घोषणा कोपा अमेरिका के पेनल्टी शूटआउट के दौरान कोई गोल न कर पाने के बाद की।
  • June 2016 - चिली की फुटबॉल टीम ने 26 जून 2016 को अर्जेंटीना को हारकर दूसरी बार कोपा अमेरिका ख़िताब जीता। दोनों टीमों द्वारा 90 मिनट के खेल में कोई गोल नहीं कर पाने पर पेनल्टी शूटआउट द्वारा निर्णय लिया गया। पेनल्टी शूटआउट में चिली ने 4-2 से अर्जेंटीना को हराया।
  • December 2014 - संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद ने फिलिस्तीन द्वारा तैयार किए गए प्रस्ताव को नामंज़ूर किया। इस प्रस्ताव में वर्ष 2017 तक इजरायल के कब्जे को समाप्त करने की मांग की गई। प्रस्ताव के पक्ष में नौ की अपेक्षा सिर्फ आठ वोट ही मिले और पांच सदस्य अनुपस्थित रहे। रूस, चीन, चाड, चिली, फ्रांस, अर्जेंटीना, जॉर्डन और लक्जमबर्ग ने प्रस्ताव के पक्ष में मतदान किया जबकि, अमेरिका और ऑस्ट्रेलिया ने इसके खिलाफ मतदान किया।
Spread the love, Like and Share!

Like this Article? Subscribe to Our Feed!

Leave a Reply

Your email address will not be published.