जॉर्डन देश के रोचक तथ्य और ऐतिहासिक जानकारी


Country Facts: History About Jordan


विश्व के भूगोल में जॉर्डन देश का एक अलग ही स्थान है| इस देश में कई ऐसी बातें है जो इस देश को अन्य देशों से अलग करती है जैसे की भाषा, रहन सहन, वेश-भूषा, संस्कृति, धर्म, व्यवसाय| आइये जानते है जॉर्डन(Jordan) देश से जुड़े कुछ ऐसे अनोखे तथ्य तथा इतिहास से जुड़ी महत्वपूर्ण घटनाओं के बारे में, जिन्हें जानकर आपका ज्ञान बढ़ेगा|

जॉर्डन की संक्षिप्त जानकारी (Quick info about Jordan):-
नाम (हिंदी में)जॉर्डन
नाम (अंग्रेजी में)Jordan
महाद्वीप का नामAsia
समूह का नाम
देश का गठन

जॉर्डन देश से जुड़े रोचक तथ्य और अनोखी जानकारियाँ (Interesting facts about Jordan country):

  • जॉर्डन जिसे आधिकारिक तौर पर हेशमाइट किंगडम ऑफ जॉर्डन कहा जाता है एशिया के दक्षिण पश्चिम में अकाबा खाड़ी के दक्षिण में, सीरियाई मरुस्थल के दक्षिणी भाग में स्थित एक अरब राष्ट्र है।
  • जॉर्डन की सीमाएं पूर्व और दक्षिण में सउदी अरब से, पश्चिम में इज़रायल से, उत्तर में सीरिया से और उत्तर-पूर्व में इराक से लगती है।
  • जॉर्डन ने 25 मई 1946 को यूनाइटेड किंगडम (UK) से स्वतंत्रता हासिल की थी।
  • जॉर्डन का कुल क्षेत्रफल 89,341 वर्ग कि.मी. (34,495 वर्ग मील) है।
  • जॉर्डन की आधिकारिक भाषा अरबी है।
  • जॉर्डन की मुद्रा का नाम जॉर्डनियन दिनार है।
  • विश्व बैंक के अनुसार 2016 में जॉर्डन की कुल जनसंख्या 94.6 लाख थी।
  • जॉर्डन में अधिकत्तर लोगो का धर्म इस्लाम है जो अधिकत्तर सुन्नी समुदाय के है।
  • जॉर्डन में सबसे महत्वपूर्ण जातीयसमूह अरबी है।
  • जॉर्डन का सबसे ऊँचा पर्वत जबल उम्म एड दमी (Jabal Umm ad Dami) है, जिसकी ऊंचाई 1,854 मीटर है।
  • जॉर्डन की सबसे लंबी नदी जॉर्डन नदी (River Jordan) है, जिसकी लंबाई 251 कि.मी. है।
  • जॉर्डन की सबसे बड़ी झील सी ऑफ़ गलिली (Sea of Galilee) है जो 166 वर्ग कि.मी. में फैली है।
  • जॉर्डन में सात अजूबो में से एक पेट्रा (Petra) उपलब्ध जो एक प्रसिद्ध पुरातात्विक स्थल है, यह 300 ई.पू. में नाबाटन साम्राज्य की राजधानी हुआ करती थी।
  • जॉर्डन में सितंबर 1970 से जुलाई 1971 तक एक ग्रहयुद्ध हो चूका है जिसे काला सितंबर (Black September) कहा जाता है।
  • जॉर्डन का राष्ट्रीय पशु अरबी ऑरिक्स (Arabian oryx) है और राष्ट्रीय पक्षी सिनाईरोजफिंच (Sinai rosefinch) है।

जॉर्डन देश की ऐतिहासिक महत्वपूर्ण घटनाएं(Important history events related to Jordan country):

  • 16 अप्रैल 1799 - नेपोलियन वार्स: माउंट ताबोर की लड़ाई - नेपोलियन एकर सेके पास जॉर्डन नदी में ओटोमन तुर्क ड्राइव करता था।
  • 19 सितम्बर 1918 - जॉर्डन घाटी में तीसरे ट्रांसजेर्डन हमले की शुरुआत हुई।
  • 02 मई 1953 - हुसैन को जॉर्डन के राजा का ताज पहनाया गया।
  • 25 सितम्बर 1955 - रॉयल जॉर्डन वायु सेना की स्थापना हुई।
  • 11 फरवरी 1968 - इस्राइल और जॉर्डन के बीच सीमावर्ती संघर्ष शुरू हुआ।
  • 12 अगस्त 1971 - सीरिया ने सीमा पर हो रहे विवाद के कारण जॉर्डन के साथ राजनयिक संबंधों समाप्त किया।
  • 12 जुलाई 1976 - बारबरा जॉर्डन एक राजनीतिक सम्मेलन के लिए सबसे पहले अफ्रीकी-अमेरिकी थे।
  • 01 सितम्बर 1986 - जॉर्डन विज्ञान और प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय की स्थापना की गयी।
  • 26 अप्रैल 1989 - ज़ेड इब्न शेखर जद अल-रिफाई की जॉर्डन के प्रधानमंत्री के रूप में चुने गए।
  • 25 जुलाई 1994 - जॉर्डन और इजरायल के बीच 46वर्षों से चल रहा युद्ध समाप्त हुआ।

जॉर्डन से जुड़ी तत्कालीन घटनाएं (समसामयिक) [Current Affairs related to Jordan country]:

  • December 2014 - संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद ने फिलिस्तीन द्वारा तैयार किए गए प्रस्ताव को नामंज़ूर किया। इस प्रस्ताव में वर्ष 2017 तक इजरायल के कब्जे को समाप्त करने की मांग की गई। प्रस्ताव के पक्ष में नौ की अपेक्षा सिर्फ आठ वोट ही मिले और पांच सदस्य अनुपस्थित रहे। रूस, चीन, चाड, चिली, फ्रांस, अर्जेंटीना, जॉर्डन और लक्जमबर्ग ने प्रस्ताव के पक्ष में मतदान किया जबकि, अमेरिका और ऑस्ट्रेलिया ने इसके खिलाफ मतदान किया।
  • June 2014 - संयुक्त राष्ट्र महासभा ने 16 जून 2014 को संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार के उच्चायुक्त पद हेतु जॉर्डन के ‘जायद अल हुसैन’ के नाम को अनुमति प्रदान की। जायद वर्तमान में, ‘संयुक्त राष्ट्र’ में जॉर्डन के राजदूत हैं।
  • December 2013 - इजराइल, जॉर्डन और फिलीस्तीन ने 9 दिसंबर 2013 को वाशिंगटन स्थित विश्व बैंक में एक ऐतिहासिक पानी के बंटवारे के समझौते पर हस्ताक्षर किए।
  • May 2012 - जॉर्डन की संसद ने 9 मई 2012 को देश में एक बहुदलीय राजनीतिक प्रणाली को प्रोत्साहित करने के लिए एक कानून पारित किया।
Spread the love, Like and Share!

Like this Article? Subscribe to Our Feed!

Leave a Reply

Your email address will not be published.