लेसोथो देश के रोचक तथ्य और ऐतिहासिक जानकारी


Country Facts: History About Lesotho


विश्व के भूगोल में लेसोथो देश का एक अलग ही स्थान है| इस देश में कई ऐसी बातें है जो इस देश को अन्य देशों से अलग करती है जैसे की भाषा, रहन सहन, वेश-भूषा, संस्कृति, धर्म, व्यवसाय| आइये जानते है लेसोथो(Lesotho) देश से जुड़े कुछ ऐसे अनोखे तथ्य तथा इतिहास से जुड़ी महत्वपूर्ण घटनाओं के बारे में, जिन्हें जानकर आपका ज्ञान बढ़ेगा|

लेसोथो की संक्षिप्त जानकारी (Quick info about Lesotho):-
नाम (हिंदी में)लेसोथो
नाम (अंग्रेजी में)Lesotho
महाद्वीप का नामAfrica
समूह का नामAfrican Union
देश का गठनOctober 4, 1966

लेसोथो देश से जुड़े रोचक तथ्य और अनोखी जानकारियाँ (Interesting facts about Lesotho country):

  • लेसोथो को आधिकारिक तौर पर लेसोथो किंगडम कहा जाता है, जो एक लैंडलॉक देश है। लेसोथो चारों तरफ से दक्षिण अफ्रीका गणतंत्र देश से घिरा हुआ है।
  • लेसोथो चारों तरफ से दक्षिण अफ्रीका गणतंत्र देश से घिरा हुआ है।
  • लेसोथो को 1868 में ब्रिटिश लोगो ने अपना उपनिवेश बना लिया था उस समय इसे बसुतोलैंड (Basutoland) कहा जाता था, जिसने 4 अक्टूबर 1966 को स्वतंत्रता हासिल की थी।
  • लेसोथो के वर्तमान राजा का नाम लेत्सी III (Letsie III) है।
  • लेसोथो का कुल क्षेत्रफल 30,355 वर्ग कि.मी. (12,727 वर्ग मील) है।
  • लेसोथो की आधिकारिक भाषाएं सिसोथो और अंग्रेजी है।
  • लेसोथो की मुद्रा का नाम लोती है।
  • विश्व बैंक के अनुसार 2016 में लेसोथो की कुल जनसंख्या 22 लाख थी।
  • लेसोथो में अधिकत्तर लोगो का मुख्य धर्म ईसाई धर्म है।
  • लेसोथो में सबसे बड़ा जातीय समूह सोथो (Sotho) है।
  • लेसोथो ऊंचाई पर होने के कारण अक्षांश के अन्य क्षेत्रों की तुलना में वर्ष भर ठंडा रहता है, इसकी ऊंचाई 2161 मीटर है।
  • लेसोथो का राष्ट्रीय पशु काला गैंडा है।
  • लेसोथो का सबसे ऊँचा पहाड़ थबाना एनटेलिनिया (Thabana Ntlenyana) है, जिसकी ऊंचाई 3,482 मीटर है।
  • लेसोथो की सबसे बड़ी नदी ऑरेंज रिवर है, जिसकी लंबाई 2,200 किमी (1,367 मील) है।

लेसोथो देश की ऐतिहासिक महत्वपूर्ण घटनाएं(Important history events related to Lesotho country):

  • 04 अक्टूबर 1966 - लेसोथो देश ने ब्रिटेन से अपनी स्वतंत्रता की घोषणा की और आज का दिन इस देश में राष्ट्रीय दिवस के रूप में मनाया जाता है।
  • 30 अगस्त 2014 - दक्षिण अफ्रीकी देश लेसोथो के प्रधानमंत्री टॉम थबाने सेना द्वारा कथित तौर पर तख्तापलट के प्रयासों के बाद दक्षिण अफ्रीका भाग गये।
Spread the love, Like and Share!

Like this Article? Subscribe to Our Feed!

Leave a Reply

Your email address will not be published.