फ़ातिमा बीबी का जीवन परिचय | Biography of Fatima Bibi in Hindi

फ़ातिमा बीबी का जीवन परिचय – Fatima Beevi Biography in Hindi

सर्वोच्च न्यायालय में प्रथम महिला न्यायाधीश: फ़ातिमा बीबी का जीवन परिचय: (Biography of Fatima Beevi in Hindi)

फ़ातिमा बीबी सर्वोच्च न्यायालय की पूर्व न्यायाधीश हैं। इनकी विद्यालयी शिक्षा कैथीलोकेट हाई स्कूल, पथानामथिट्टा से हुई। उन्होने यूनिवर्सिटी कॉलेज, त्रिवेंद्रम से स्नातक और लॉ कॉलेज, त्रिवेंद्रम से एल एल बी किया। 14 नवम्बर 1950 को वे अधिवक्ता के रूप में पंजीकृत हुयी, मई, 1958 में केरल अधीनस्थ न्यायिक सेवा में मुंसिफ़ के रूप में नियुक्त हुई।

फ़ातिमा बीबी के जीवन परिचय का संक्षिप्त विवरण:

नाम फ़ातिमा बीबी
जन्म तिथि 30 अप्रैल 1927
जन्म स्थान केरल, (भारत)
निधन तिथि
उपलब्धि सर्वोच्च न्यायालय में प्रथम महिला न्यायाधीश
उपलब्धि वर्ष 1989

फ़ातिमा बीबी से जुड़े महत्वपूर्ण तथ्य: (Important Facts Related to Fatima Beevi)

  1. फातिमा बीवी का जन्म 30 अप्रैल 1927 को तमिलनाडु के पतनमथिट्टा, त्रावणकोर (अब केरल, भारत) में हुआ था।
  2. इनका पूरा नाम मीरा साहिब फ़ातिमा बीबी है।
  3. 14 नवंबर 1950 को उन्हें वकील के रूप में नामांकित किया गया था।
  4. मई, 1958 में उन्हें केरल के उप-समन्वय न्यायिक सेवाओं में मुनसिफ के रूप में नियुक्त किया गया था।
  5. यह सर्वोच्च न्यायालय में मुख्य न्यायधीश बनने वाली पहली भारतीय महिला हैं, तथा उन्हें यह पद 1989 को मिला था।
  6. इनके पिता का नाम मीरा साहिब और माँ का नाम खदीजा बीबी है।
  7. 14 नवम्बर 1950 को वे अधिवक्ता के रूप में पंजीकृत हुयी, मई, 1958 में केरल अधीनस्थ न्यायिक सेवा में मुंसिफ़ के रूप में नियुक्त हुयी थी।
  8. 1968 में वे अधीनस्थ न्यायाधीश के रूप में पदोन्नत हुयी थी।
  9. 25 जनवरी, 1997 से 2001 के बीच वे तमिलनाडु की राज्यपाल भी रहीं है।
  10. 8 अप्रैल 1983 को उन्हें उच्च न्यायालय में एक न्यायाधीश के रूप में नियुक्त किया गया था।
  11. उन्हे 06 अक्टूबर 1989 को वे सर्वोच्च न्यायालय का न्यायाधीश नियुक्त किया गया था जहां उन्होने 24 अप्रैल 1992 तक कार्य किया था।
  12. फ़ातिमा बीबी के कानूनी ज्ञान और कौशल को देखते हुये, उन्हे वर्ष 1993 में बने फ़ातिमा बीबी केरल पिछड़ा वर्ग आयोग का अध्यक्ष और राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग का सदस्य नियुक्त किया गया था।
  13. फ़ातिमा बीबी को वर्ष 1990 में “डी-लिट्ट” सम्मान और महिला शिरोमणि पुरस्कार से सम्मानित किया गया था। वह ज्योति पुरस्कार से भी सम्मानित की जा चुकी है।
  14. फ़ातिमा बीबी ने अपनी पढ़ाई कैथोलिक हाई स्कूल, पठानमथिट्टा से शुरू की थी, जिसके बाद उन्होने बी.एससी यूनिवर्सिटी कॉलेज (तिरुवनंतपुरम से) और बी.एल. गवर्नमेंट लॉ कॉलेज (तिरुवनंतपुरम से) की थी।
(Visited 22 times, 1 visits today)

Like this Article? Subscribe to feed now!

Leave a Reply

Scroll to top