स्वतन्त्र भारत के पहले मुख्य न्यायाधीश: हरिलाल जेकिसुनदास कनिया का जीवन परिचय

हरिलाल जेकिसुनदास कनिया का जीवन परिचय (Biography of Harilal Jekisundas Kania in Hindi)

एच. जे. कनिया भारत के सर्वोच्च न्यायालय के भूतपूर्व न्यायाधीश रहे हैं। 26 जनवरी को जब स्वतंत्र भारत एक गणराज्य बना तो हरिलाल जेकिसुनदास कनिया देश के सर्वोच्च न्यायालय के पहले मुख्य न्यायाधीश बने और उन्होने भारत के पहले राष्ट्रपति डॉ. राजेन्द्र प्रसाद के सामने अपनी शपथ ग्रहण की। उनका कार्यकाल 26 जनवरी 1950 से 06 नवम्बर 1951 तक रहा।

संक्षिप्त विवरण (Quick Info):

नाम हरिलाल जेकिसुनदास कनिया
जन्म तिथि 03 नवम्बर 1890
जन्म स्थान सूरत, ब्रिटिश भारत (अब गुजरात, भारत)
निधन तिथि 06 नवंबर 1951
उपलब्धि सर्वोच्च न्यायालय के प्रथम मुख्य न्यायाधीश
उपलब्धि वर्ष 1950

हरिलाल जेकिसुनदास कनिया से जुड़े महत्वपूर्ण तथ्य: (Important Facts Related to Harilal Jekisundas Kania)

  • हरिलाल जेकिसुनदास कनिया का जन्म 1890 में सूरत, ब्रिटिश भारत (अब गुजरात, भारत) के एक मध्यम वर्गीय परिवार में हुआ था।
  • उनके पिता का नाम जेकिसुनदास था।
  • एच. जे. कनिया ने 1910 में शामलदास कॉलेज से कला स्नातक की परीक्षा उत्तीर्ण की, और शासकीय विधी महाविद्यालय, बम्बई से 1912 में विधी स्नातक और 1913 में उसी विषय में स्नताकोत्तर की उपाधि प्राप्त की थी।
  • साल 1925 में हरिलाल जेकिसुनदास कनिया का विवाह सर चुन्नीलाल मेहता की बेटी कुसुम मेहता से हुआ।
  • वह इंडिया लॉ रिपोर्ट्स के कार्यकारी सम्पादक भी थे।
  • वर्ष 1930 में कुछ वक़्त के लिए वह बम्बई उच्च न्यायालय में कार्यकारी न्यायाधीश बने और जून 1931 में वह उसी न्यायालय में उच्च न्यायाधीश पद पर नियुक्त हुए। यह पद उन्होने 1933 तक सम्भाला।
  • वर्ष 1943 की बर्थडे ऑनर्ज़ लिस्ट में कनिया का नाम था और उन्हे सर की उपाधि मिली।
  • वह 20 जून 1946 में संघीय न्यायालय के सहयोगी न्यायाधीश नियुक्त हुए।
  • 14 अगस्त 1947 को संघीय न्यायालय के मुख्य न्यायाधीष सर पैट्रिक स्पेन्ज़ सेवानिवृत्त हुए और तब यह पद हरिलाल जेकिसुनदास कनिया को मिला।
  • देश के सर्वोच्च न्यायालय के पहले मुख्य न्यायाधीश का निधन 06 नवम्बर 1951 को 61 साल की आयु में दिल का दौरा पड़ने से हुआ।

This post was last modified on November 6, 2018 8:53 am

महत्वपूर्ण प्रश्न और उत्तर (FAQs):

  • प्रश्न: हरिलाल जेकिसुनदास को बर्थडे ऑनर्ज़ लिस्ट में नाम था और सर की उपाधि कब मिली थी?
    उत्तर: वर्ष 1943
  • प्रश्न: 20 जून 1946 में संघीय न्यायालय का सहयोगी न्यायाधीश किसे नियुक्त गया था?
    उत्तर: हरिलाल जेकिसुनदास कनिया
  • प्रश्न: हरिलाल जेकिसुनदास कनिया की मृत्यु कितने वर्ष की आयु में हुई थी?
    उत्तर: 61
  • प्रश्न: 1890 में किस महापुरुष का जन्म हुआ था?
    उत्तर: हरिलाल जेकिसुनदास कनिया
  • प्रश्न: सर चुन्नीलाल मेहता की बेटी का क्या नाम है?
    उत्तर: कुसुम मेहता
You just read: Harilal Jekisundas Kania Biography - FAMOUS PEOPLE Topic

Recent Posts

13 जुलाई का इतिहास भारत और विश्व में – 13 July in History

आईये जानते हैं भारत और विश्व इतिहास में 13 जुलाई यानि आज के दिन की…

July 13, 2020

12 जुलाई का इतिहास भारत और विश्व में – 12 July in History

आईये जानते हैं भारत और विश्व इतिहास में 12 जुलाई यानि आज के दिन की…

July 12, 2020

11 जुलाई का इतिहास भारत और विश्व में – 11 July in History

आईये जानते हैं भारत और विश्व इतिहास में 11 जुलाई यानि आज के दिन की…

July 11, 2020

10 जुलाई का इतिहास भारत और विश्व में – 10 July in History

आईये जानते हैं भारत और विश्व इतिहास में 10 जुलाई यानि आज के दिन की…

July 10, 2020

09 जुलाई का इतिहास भारत और विश्व में – 9 July in History

आईये जानते हैं भारत और विश्व इतिहास में 09 जुलाई यानि आज के दिन की…

July 9, 2020

08 जुलाई का इतिहास भारत और विश्व में – 8 July in History

आईये जानते हैं भारत और विश्व इतिहास में 08 जुलाई यानि आज के दिन की…

July 8, 2020

This website uses cookies.