मदर टेरेसा का जीवन परिचय | Biography of Mother Teresa in Hindi

रेमन मैग्सेसे पुरस्कार प्राप्त करने वाली प्रथम भारतीय महिला: भारत रत्न मदर टेरेसा का जीवन परिचय

मदर टेरेसा का जीवन परिचय: (Biography of Mother Teresa in Hindi)

मदर टेरसा रोमन कैथोलिक नन थीं, जिन्होंने वर्ष 1948 में स्वेच्छा से भारतीय नागरिकता ले ली थी। उन्होंने 45 सालों तक गरीब, बीमार, अनाथ और मरते हुए लोगों की इन्होंने मदद की और साथ ही मिशनरीज ऑफ़ चैरिटी के प्रसार का भी मार्ग प्रशस्त किया।

Quick Info about First Indian woman to receive Ramon Magsaysay award:

नाम मदर टेरेसा
जन्म तिथि 26 अगस्त 1910
जन्म स्थान यूगोस्लाविया
निधन तिथि 05 सितम्बर 1997
उपलब्धि रेमन मैग्सेसे पुरस्कार प्राप्त करने वाली प्रथम भारतीय महिला
उपलब्धि वर्ष 1962

मदर टेरेसा से जुड़े महत्वपूर्ण तथ्य: (Important Facts Related to Mother Teresa)

  • मदर टेरेसा का जन्म 26 अगस्त, 1910 को ‘यूगोस्लाविया’ में हुआ था।
  • मदर टेरेसा के पिता का नाम निकोला बोयाजू था उनकी माता का नाम द्राना बोयाजू था।
  • मदर टेरेसा का वास्तविक नाम ‘अगनेस गोंझा बोयाजिजू’ था।
  • मदर टेरेसा को रोमन कैथोलिक चर्च द्वारा कलकत्ता की संत टेरेसा के नाम से नवाज़ा गया है।
  • मदर टेरेसा ने ‘निर्मल हृदय’ और ‘निर्मला शिशु भवन’ के नाम से आश्रम खोले, जिनमें वे असाध्य बीमारी से पीड़ित रोगियों व ग़रीबों की स्वयं सेवा करती थीं।
  • वर्ष 1948 में उन्होंने बच्चों को पढ़ाने के लिए एक स्कूल खोला और तत्पश्चात् ‘मिशनरीज ऑफ चैरिटी’ की स्थापना की।
  • मदर टेरेसा को उनकी पीड़ित मानवता की सेवा के लिए बहुत सारे सम्मानित पुरस्कार प्राप्त हो चुके है, जिनमे वर्ष 1962 में पद्मश्री, 1962 में रेमन मैग्सेसे पुरस्कार, 1979 नोबेल पुरस्कार तथा वर्ष 1985 में मेडल ऑफ फ्रीडम आदि सम्मान शामिल है।
  • मदर टेरेसा को वर्ष 1980 में देश के सर्वोच्च नागरिक सम्मान ‘भारत रत्न’ से अलंकृत किया गया था।
  • उन्हें नोबेल पुरस्कार के रूप में 192,000 डॉलर मिले थे, जो उन्होंने गरीब भारतीयों के लिए एक फण्ड के तौर पर इस्तेमाल करने का निर्णय लिया जो उनके विशाल हृदय को दर्शाता है।
  • मदर टेरेसा की दिल के दौरे के कारण 05 सितम्बर, 1997 को मृत्यु हुई थी।
(Visited 36 times, 1 visits today)

Like this Article? Subscribe to feed now!

Leave a Reply

Scroll to top