भारत की पहली महिला विधायक: मुथुलक्ष्मी रेड्डी का जीवन परिचय

मुथुलक्ष्मी रेड्डी का जीवन परिचय: (Biography of Muthulakshmi Reddi in Hindi)

डॉक्टर मुथुलक्ष्मी रेड्डी को देश की पहली महिला विधायक के रूप में याद किया जाता है। मुथुलक्ष्मी लड़कों के स्कूल में दाखिला लेने वालीं देश की पहली महिला भी थीं। मुथु जीवन भर महिलाओं के अधिकारों के लिए लड़तीं रहीं और देश की आज़ादी की लड़ाई में भी उन्होंने बढ़-चढ़कर सहयोग दिया।

Quick Info about First Women Legislator of India:

नाम मुथुलक्ष्मी रेड्डी
जन्म तिथि 30 जुलाई 1886
जन्म स्थान मद्रास (ब्रिटिश भारत)
निधन तिथि 22 जुलाई 1968
उपलब्धि भारत की पहली महिला विधायक
उपलब्धि वर्ष 1927

मुथुलक्ष्मी रेड्डी से जुड़े महत्वपूर्ण तथ्य: (Important Facts Related to Muthulakshmi Reddi)

  • मुथुलक्ष्मी को डॉक्टर मुथुलक्ष्मी रेड्डी भी कहा जाता है।
  • मुथु के पिता एस नारायण स्वामी चेन्नई के महाराजा कॉलेज के प्रिंसिपल थे।
  • मुथुलक्ष्मी देश की पहली (मेडिकल ग्रेजुएट) महिला डॉक्टर भी थीं।
  • मुथुलक्ष्मी पुरुषों के कॉलेज में दाखिला लेने और मेडिकल कॉलेज से पढ़ाई करने वाली पहली महिला थी।
  • मद्रास मेडिकल कॉलेज में दाखिला लेने के बाद उनकी दोस्ती एनी बेसेंट और सरोजिनी नायडू से हुई, जिनका नाम भारतीय इतिहास में दर्ज है।
  • वह मद्रास के सरकारी मातृत्व और नेत्र अस्पताल की पहली महिला हाउस सर्जन भी बनी।
  • वर्ष 1918 में, उन्होंने “महिला भारतीय संघ” की स्थापना में मदद की थी।
  • मुथु को साल 1927 में मद्रास लेजिस्लेटिव काउंसिल से देश की पहली महिला विधायक बनने का गौरव भी हासिल हुआ।
  • साल 1956 में उन्हें समाज के लिए किये गए अपने कार्यों के लिए पद्म भूषण अवार्ड से सम्मानित किया गया।
  • 22 जुलाई 1968 को उनका निधन हो गया।
(Visited 4 times, 1 visits today)

Like this Article? Subscribe to Our Feed!