स्वतंत्रता सेनानी राम प्रसाद बिस्मिल का जीवन परिचय


Famous People: Ram Prasad Bismil Biography


राम प्रसाद बिस्मिल का जीवन परिचय: (Biography of Ram Prasad Bismil in Hindi)

राम प्रसाद बिस्मिल भारत के महान् स्वतन्त्रता सेनानी ही नहीं, बल्कि उच्च कोटि के कवि, शायर, अनुवादक, बहुभाषाविद् व साहित्यकार भी थे। इन्होने भारत की आज़ादी के लिये फांसी के फंदे पर चढ़ गये थे। तथा जब-जब भारत में क्रांतिकारियों की बात होगी इस महान आदमी का नाम ज़रूर आएगा।

Quick Info About Ram Prasad Bismil in Hindi:

नाम राम प्रसाद बिस्मिल
जन्म तिथि 11 जून 1897
जन्म स्थान शाहजहाँपुर, (ब्रिटिश भारत)
निधन तिथि 19 दिसम्बर 1927
उपलब्धि काकोरी कांड के सदस्य
उपलब्धि वर्ष  1925

राम प्रसाद बिस्मिल से जुड़े महत्वपूर्ण तथ्य: (Important Facts Related To Ram Prasad Bismil)

  1. राम प्रसाद बिस्मिल का जन्म 11 जून 1897 को शाहजहाँपुर में हुआ था।
  2. इनके पिता का नाम पंडित मुरलीधर और माता का नाम श्रीमती मूलमती था।
  3. राम प्रसाद बिस्मिल ने ‘सरफ़रोशी की तमन्ना, अब हमारे दिल में है, देखना है जोर कितना बाजु-ए- कातिल में है‘ का नारा दिया था।
  4. 11 वर्ष के क्रान्तिकारी जीवन में उन्होंने कई पुस्तकें लिखीं, उनके जीवन काल में मात्र 11 पुस्तकें ही प्रकाशित हुईं और ब्रिटिश सरकार द्वारा ज़ब्त की गयीं।
  5. 09 अगस्त 1925 को हुए ‘काकोरी काण्ड’ को रामप्रसाद बिस्मिल ने ही अंजाम दिया था, जिसने  ब्रिटिश साम्राज्य को दहला दिया था।
  6. वर्ष 1915 में भाई परमानन्द की फाँसी का समाचार सुनकर रामप्रसाद ब्रिटिश साम्राज्य को समूल नष्ट करने की प्रतिज्ञा कर चुके थे।
  7. सन 1921 में उन्होंने कांग्रेस के अहमदाबाद अधिवेशन में भाग लिया और मौलाना हसरत मोहनी के साथ मिलकर ‘पूर्ण स्वराज’ का प्रस्ताव कांग्रेस के साधारण सभा में पारित करवाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई।
  8. मैनपुरी षडयंत्र में शाहजहाँपुर से 6 युवक शामिल हुए थे, जिनके लीडर रामप्रसाद बिस्मिल थे।
  9. 19 दिसम्बर, 1927 को उन्हें और उनके साथियो को फांसी लग गई थी।
  10. जिस समय रामप्रसाद बिस्मिल को फांसी लगी उस समय जेल के बाहर विशाल जनसमुदाय उनके अंतिम दर्शनों की प्रतीक्षा कर रहा था।

ऐसे ही अन्य ज्ञान के लिए अभी सदस्य बनें, तथा अपनी ईमेल पर नवीनतम अपडेट प्राप्त करें!

Leave a Reply

Your email address will not be published.