प्रथम भारतीय महिला रेल चालक: सुरेखा यादव का जीवन परिचय

सुरेखा यादव का जीवन परिचय | Biography of Surekha Yadav in Hindi

सुरेखा यादव का जीवन परिचय: (Biography of Surekha Yadav in Hindi)

सुरेखा यादव भारत में भारतीय रेलवे की एक महिला लोकोपोलॉट (ट्रेन चालक) हैं। वह 1988 में भारत की पहली महिला ट्रेन चालक बनी थी। उन्होंने मध्य रेलवे के लिए पहली “देवियो स्पेशल” स्थानीय ट्रेन को चलाया था।

Quick Info about First Indian Woman Train Driver:

नाम सुरेखा यादव
जन्म तिथि 02 सितम्बर 1985
जन्म स्थान सतारा, महाराष्ट्र, (भारत)
उपलब्धि प्रथम भारतीय महिला रेल चालक
उपलब्धि वर्ष 1988

सुरेखा यादव से जुड़े महत्वपूर्ण तथ्य: (Important Facts Related to Surekha Yadav)

  • सुरेखा यादव का जन्म 02 सितम्बर 1985 को सतारा, महाराष्ट्र में हुआ था।
  • उनके पिता का नाम सोनाबाई और माता का नाम रामचंद्र भोसले था।
  • उनकी आरंभिक शिक्षा सेंट पॉल कान्वेंट स्कूल, सतारा से हुई थी। स्कूली शिक्षा पूरी होने के बाद उन्होंने पश्चिमी महाराष्ट्र के सतारा जिले के कराड में सरकारी पॉलिटेक्निक से इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग में डिप्लोमा के लिए पढ़ाई की।
  • उन्होंने वर्ष 1990 में महाराष्ट्र सरकार के पुलिस निरीक्षक, शंकर यादव से विवाह किया।
  • सुरेखा यादव केवल भारत की ही नही बल्कि पूरे एशिया की प्रथम रेल चालक है।
  • 8 मार्च 2011 को वह दक्कन रानी पुणे से छत्रपति शिवाजी महाराज टर्मिनस तक ट्रेन चलाने वाली एशिया की पहली महिला ट्रेन ड्राइवर बन गई।
  • साल 1991 में सुरेखा ने टेलीविज़न धारावाहिक (शीर्षक-हम किसी से कम नहीं) में भी काम किया।
  • उन्होंने काफी बार राष्ट्रीय व अंतरराष्ट्रीय टीवी चैनेलो पर साक्षात्कार भी दिए हैं।
  • उन्होंने काफी पुरस्कार भी जीते है- जिजाऊ पुरस्कार 1998, महिला प्राप्ति पुरस्कार 2001 तथा केन्द्रीय रेलवे द्वारा महिला प्राप्तकर्ता पुरस्कार (2011) आदि।
(Visited 32 times, 2 visits today)

Like this Article? Subscribe to Our Feed!

Leave a Reply