विश्व धर्म परिषद् के भारतीय प्रतिनिधि: स्वामी विवेकानंद का जीवन परिचय

स्वामी विवेकानंद का जीवन परिचय: (Biography of Swami Vivekananda in Hindi)

स्वामी विवेकानंद वेदान्त के विख्यात और प्रभावशाली आध्यात्मिक गुरु थे। उन्होंने अमेरिका स्थित शिकागो में सन् 1893 में आयोजित विश्व धर्म महासभा में भारत की ओर से सनातन धर्म का प्रतिनिधित्व किया था। भारत का आध्यात्मिकता से परिपूर्ण वेदान्त दर्शन अमेरिका और यूरोप के हर एक देश में स्वामी विवेकानन्द की वक्तृता के कारण ही पहुँचा था।

स्वामी विवेकानंद के जीवन परिचय कक संक्षिप्त विवरण:

नाम स्वामी विवेकानंद
जन्म तिथि 12 जनवरी, 1863
जन्म स्थान कलकत्ता, पश्चिम बंगाल (भारत)
निधन तिथि 04 जुलाई, 1902
उपलब्धि विश्व धर्म परिषद् के भारतीय प्रतिनिधि
उपलब्धि वर्ष 1893

स्वामी विवेकानंद से जुड़े महत्वपूर्ण तथ्य: (Important Facts Related to Swami Vivekananda)

  • स्वामी विवेकानन्द जी का मूल नाम ‘नरेंद्रनाथ दत्त’ था।
  • इनके पिता का नाम विश्वनाथ दत्त और माता का नाम भुवनेश्वरी देवी था।
  • भारत में स्वामी विवेकानन्द के जन्म दिवस को राष्ट्रीय युवा दिवस के रूप में मनाया जाता है।
  • स्वामी विवेकानन्द की वेद, उपनिषद, भगवद् गीता, रामायण, महाभारत और पुराणों के अतिरिक्त अनेक हिन्दू शास्त्रों में गहन रूचि थी।
  • विवेकानंद ने 01 मई 1897 में कलकत्ता में रामकृष्ण मिशन और 09 दिसंबर 1898 को कलकत्ता के निकट गंगा नदी के किनारे बेलूर में रामकृष्ण मठ की स्थापना की थी।
  • सन्‌ 1893 में शिकागो (अमेरिका) में विश्व धर्म परिषद् हो रही थी। स्वामी विवेकानंदजी उसमें भारत के प्रतिनिधि के रूप से पहुंचे थे।
  • उनके शिष्यों और अनुयायियों ने पूरे विश्व में विवेकानंद तथा उनके गुरु रामकृष्ण के संदेशों के प्रचार के लिए 130 से अधिक केंद्रों की स्थापना की है।
  • स्वामी विवेकानन्द ने कहा था “उठो, जागो और तब तक रुको नहीं जब तक मंज़िल प्राप्त न हो जाये”।
  • स्वामी विवेकानन्द के गुरु का नाम रामकृष्ण परमहंस था, जिन्होंने उन्हें सबसे पहले विश्वास दिलाया कि ईश्वर वास्तव में है और मनुष्य ईश्वर को पा सकता है।
  • पाँच वर्षों से अधिक समय तक उन्होंने अमेरिका के विभिन्न नगरों, लंदन और पेरिस में व्यापक व्याख्यान दिए। उन्होंने जर्मनी, रूस और पूर्वी यूरोप की भी यात्राएं कीं।

This post was last modified on July 4, 2019 8:33 am

महत्वपूर्ण प्रश्न और उत्तर (FAQs):

  • प्रश्न: 01 मई 1897 में कलकत्ता में रामकृष्ण मिशन की स्थापना किसने की थी?
    उत्तर: स्वामी विवेकानन्द
  • प्रश्न: स्वामी विवेकानन्द के शिष्यों और अनुयायियों ने पूरे विश्व में विवेकानंद तथा उनके गुरु रामकृष्ण के संदेशों के प्रचार के लिए कितने से अधिक केंद्रों की स्थापना की है?
    उत्तर: 130 से अधिक
  • प्रश्न: रामकृष्ण मठ की स्थापना कब हुई थी?
    उत्तर: 09 दिसंबर 1898
  • प्रश्न: यह किसने कहा था कि “उठो, जागो और तब तक रुको नहीं जब तक मंज़िल प्राप्त न हो जाये”?
    उत्तर: स्वामी विवेकानन्द
  • प्रश्न: स्वामी विवेकानन्द को यह किसने विश्वास दिलाया कि ईश्वर वास्तव में है और मनुष्य ईश्वर को पा सकता है?
    उत्तर: गुरु ने
You just read: Swami Vivekananda Biography - FAMOUS PEOPLE Topic

Recent Posts

28 अक्टूबर का इतिहास भारत और विश्व में – 28 October in History

आईये जानते हैं भारत और विश्व इतिहास में 28 अक्टूबर यानि आज के दिन की महत्वपूर्ण घटनाओं के बारे में।…

October 28, 2020

27 अक्टूबर का इतिहास भारत और विश्व में – 27 October in History

आईये जानते हैं भारत और विश्व इतिहास में 27 अक्टूबर यानि आज के दिन की महत्वपूर्ण घटनाओं के बारे में।…

October 27, 2020

भारत के सभी विदेश सचिवों के नाम और उनके कार्यकाल की सूची (वर्ष 1948 से अब तक)

भारत के विदेश सचिवों की सूची (1948-2020): (List of Foreign Secretaries of India in Hindi) विदेश सचिव किस कहते है?…

October 26, 2020

26 अक्टूबर का इतिहास भारत और विश्व में – 26 October in History

आईये जानते हैं भारत और विश्व इतिहास में 26 अक्टूबर यानि आज के दिन की महत्वपूर्ण घटनाओं के बारे में।…

October 26, 2020

विजयदशमी (दशहरा) 2020

विजयदशमी (दशहरा) के बारे में जानकारी: विजयदशमी जिसे दशहरा, या दशैन के नाम से भी जाना जाता है, जो हर…

October 25, 2020

25 अक्टूबर का इतिहास भारत और विश्व में – 25 October in History

आईये जानते हैं भारत और विश्व इतिहास में 25 अक्टूबर यानि आज के दिन की महत्वपूर्ण घटनाओं के बारे में।…

October 25, 2020

This website uses cookies.