भारत रत्न विनोबा भावे का जीवन परिचय – रेमन मैगसेसे पुरस्कार प्राप्त करने वाले प्रथम भारतीय

विनोबा भावे का जीवन परिचय (Biography of Vinoba Bhave in Hindi)

आचार्य विनोबा भावे एक प्रसिद्ध भारतीय स्वतंत्रता संग्राम के सेनानी तथा गांधीवादी नेता थे। उन्हें भारत का राष्ट्रीय आध्यापक और महात्मा गांधी का आध्यातमिक उत्तराधीकारी समझा जाता है। वे जाने-माने समाज सुधारक एवं ‘भूदान यज्ञ’ नामक आन्दोलन के संस्थापक थे।

संक्षिप्त विवरण (Quick Info):

नाम विनोबा भावे
जन्म तिथि 11 सितम्बर, 1895 गाहोदे, ‎गुजरात (भारत)
निधन तिथि 15 नवम्बर 1982, महाराष्ट्र (भारत)
माता का नाम रुक्मिणी देवी
पिता का नाम नरहरी शम्भू राव
उपलब्धि रेमन मैगसेसे पुरस्कार प्राप्त करने वाले प्रथम भारतीय
उपलब्धि वर्ष 1958

विनोबा भावे का प्रारम्भिक जीवन एवं शिक्षा:

विनायक नरहरि भावे का जन्म 11 सितंबर 1895 को एक छोटे से गाँव गोगाजी (वर्तमान में गगोडे बुद्रुक) के कोलाबा में वर्तमान महाराष्ट्र में हुआ था। विनायक नरहरी शंभू राव और रुक्मिणी देवी के सबसे बड़े पुत्र थे। वे चार बहन-भाई थे, जिनमें बालकृष्ण, शिवाजी, और उनकी बहन दत्तात्रेय शामिल थे। उनके पिता एक तर्कवादी आधुनिक दृष्टिकोण के साथ एक प्रशिक्षित बुनकर थे, और बड़ौदा में काम करते थे।

नारस हिंदू विश्वविद्यालय में गांधी के भाषण के बारे में अखबारों की एक रिपोर्ट ने भावे का ध्यान आकर्षित किया। 1918 में, इंटरमीडिएट परीक्षा में बैठने के लिए बॉम्बे जाने के रास्ते में, भावे ने अपने स्कूल और कॉलेज के प्रमाणपत्रों को आग में फेंक दिया। भावे ने यह निर्णय महात्मा गांधी द्वारा लिखे गए अखबार में लिखने के अंश को पढ़ने के बाद लिया। उन्होंने गांधी को एक पत्र लिखा था और पत्रों के आदान-प्रदान के बाद, गांधी ने भावे को अहमदाबाद में कोचरब आश्रम में एक व्यक्तिगत बैठक के लिए आने की सलाह दी। भावे ने 7 जून 1916 को गांधी से मुलाकात की और बाद में अपनी पढ़ाई छोड़ दी। भावे ने गांधी के आश्रम में गतिविधियों में गहरी रुचि के साथ भाग लिया, जैसे कि शिक्षण, अध्ययन, कताई और समुदाय के जीवन में सुधार। खादी, ग्रामोद्योग, नई शिक्षा (नई तालीम), स्वच्छता और स्वच्छता से संबंधित गांधी के रचनात्मक कार्यक्रमों में उनकी भागीदारी भी बढ़ती रही।

विनोबा भावे से जुड़े महत्वपूर्ण तथ्य: (Important Facts Related to Vinoba Bhave)

  • विनोबा भावे का जन्म एक कुलीन ब्राह्मण परिवार में 11 सितम्बर, 1895 को गाहोदे, गुजरात (भारत) में हुआ था।
  • उनके पिता का नाम‎ ‎नरहरी शम्भू राव और माता का नाम‎ ‎रुक्मिणी देवी था।
  • विनोबा भावे का असली नाम विनायक नरहरी भावे था।
  • विनोबा नाम गांधी जी ने दिया था। महाराष्ट्र में नाम के पीछे ‘बा’ लगाने का जो चलन है, उसके अनुसार. तुकोबा, विठोबा और विनोबा.
  • विनोबा भावे ने ‘गांधी आश्रम’ में शामिल होने के लिए 1916 में हाई स्कूल की पढ़ाई बीच में ही छोड़ दी।
  • वर्ष 1923 में विनोबा भावे ने ‘महाराष्ट्र धर्म’ के नाम से एक मराठी मासिक पत्र का प्रकाशन भी शुरू किया था।
  • सन 1940 में भारत के राष्ट्रपिता महात्मा गाँधी द्वारा विनोबा भावे को पहले एकल सत्याग्रही के रूप में चुना और उन्हें ‘भारत छोड़ो’ आन्दोलन में भी साथ लिया।
  • भावे को 1920 और 1930 के दशक के दौरान कई बार गिरफ्तार किया गया और 1940 के दशक में ब्रिटिश शासन के खिलाफ अहिंसक प्रतिरोध के लिए पांच साल की जेल की सजा दी गई।
  • भावे के लिए जेलें पढ़ने और लिखने के स्थान बन गए थे। उन्होंने जेल में ही ईश्वरसावर्ती और शतप्रजना दर्शन लिखे। उन्होंने चार दक्षिण भारतीय भाषाओं को भी सीखा और वेल्लोर जेल में लोक नगरी की लिपि बनाई।
  • भावे के छोटे भाई बालकृष्ण भी गांधीवादी थे। गांधी ने उन्हें और मणिभाई देसाई को उराली कंचन में एक प्रकृति चिकित्सा आश्रम स्थापित करने के लिए सौंपा, जहाँ बालकृष्ण ने अपना सारा जीवन बिताया
  • 18 अप्रैल 1951 को, भावे ने भूदान आंदोलन, नालगोंडा जिले तेलंगाना के पोचमपल्ली में अपना भूमि दान आंदोलन शुरू किया। उन्होंने भूमि स्वामी भारतीयों से भूमि दान में ले ली और उन्हें गरीबों और भूमिहीनों को खेती करने के लिए दे दिया।
  • आचार्य विनोबा को सामुदायिक नेतृत्व के लिए साल 1958 में “रेमन मैग्सेसे पुरस्कार” से सम्मानित किया गया। वह ये सम्मान पपाने वाले पहले भारतीय व्यक्ति थे।
  • वर्ष 1979 के एक आमरण अनशन के परिणामस्वरूप सरकार ने समूचे भारत में गो-हत्या पर निषेध लगाने हेतु कानून पारित करने का आश्वासन दिया।
  • उनकी मृत्यु 15 नवम्बर 1982 को वर्धा, महाराष्ट्र में हुई थी।
  • वर्ष 1983 में उनके मरणोपरांत भारत सरकार द्वारा उन्हें देश के सर्वोच्च नागरिक सम्मान “भारत रत्न” से सम्मानित किया।

यह भी पढ़ें: भारत के राष्ट्रपिता: महात्मा गांधी का जीवन परिचय

This post was last modified on September 11, 2020 9:47 am

महत्वपूर्ण प्रश्न और उत्तर (FAQs):

  • प्रश्न: विनोबा भावे ने ‘महाराष्ट्र धर्म’ मासिक पत्र का प्रकाशन कब किया था?
    उत्तर: 1923
  • प्रश्न: विनोबा भावे को पहले एकल सत्याग्रही के रूप कब चुना गया था?
    उत्तर: 1940
  • प्रश्न: सामुदायिक नेतृत्व के लिए साल 1958 में “रेमन मैग्सेसे पुरस्कार” से किसे सम्मानित किया गया था?
    उत्तर: विनोबा भावे
  • प्रश्न: वर्ष 1983 में भारत सरकार द्वारा भारत रत्न से किसको अलंकृत किया गया था?
    उत्तर: विनोबा भावे
  • प्रश्न: गांधी आश्रम में शामिल होने के लिए विनोबा भावे ने कब अपनी पढाई कब छोड़ी थी?
    उत्तर: 1916
You just read: Vinoba Bhave Biography - FIRST AWARDEE Topic

Recent Posts

भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस की प्रथम महिला अध्यक्ष: डॉ. एनी बेसेंट का जीवन परिचय

डॉ. एनी बेसेंट का जीवन परिचय: (Biography of Dr. Annie Besant in Hindi) डॉ. एनी बेसेंट एक प्रख्यात समाजसेवी, लेखिका,…

September 20, 2020

20 सितम्बर का इतिहास भारत और विश्व में – 20 September in History

आईये जानते हैं भारत और विश्व इतिहास में 20 सितम्बर यानि आज के दिन की महत्वपूर्ण घटनाओं के बारे में।…

September 20, 2020

औषधीय पौधों के नाम व उपयोग – Names and Uses of Medicinal Plants

औषधीय पौधे औषधीय पौधों को भोजन, औषधि, खुशबू, स्वाद, रंजक और भारतीय चिकित्सा पद्धतियों में अन्य मदों के रूप में…

September 19, 2020

अंतरिक्ष में सर्वाधिक समय व्यतीत करने वाली प्रथम भारतीय मूल की महिला: सुनीता विलियम्स का जीवन परिचय

सुनीता विलियम्स का जीवन परिचय: (Biography of Sunita Williams in Hindi) सुनीता विलियम्स का जन्म 19 सितम्बर 1965 में हुआ…

September 19, 2020

19 सितम्बर का इतिहास भारत और विश्व में – 19 September in History

आईये जानते हैं भारत और विश्व इतिहास में 19 सितम्बर यानि आज के दिन की महत्वपूर्ण घटनाओं के बारे में।…

September 19, 2020

18 सितम्बर का इतिहास भारत और विश्व में – 18 September in History

आईये जानते हैं भारत और विश्व इतिहास में 18 सितम्बर यानि आज के दिन की महत्वपूर्ण घटनाओं के बारे में।…

September 18, 2020

This website uses cookies.