मक्का मस्जिद, हैदराबाद (तेलंगाना)


Famous Things: Mecca Masjid Hyderabad Telangana Gk In Hindi


मक्का मस्जिद, हैदराबाद (तेलंगाना) के बारे जानकारी: (Mecca Masjid, Hyderabad (Telangana) GK in Hindi)

भारत में मौजूद सबसे पुरानी मस्जिदों में से एक मक्का मस्जिद भारतीय राज्य तेलंगाना तथा आन्ध्र प्रदेश की संयुक्त राजधानी हैदराबाद में स्थित है। इस मस्जिद का इस्लामिक लोगो के बीच विशेष धार्मिक महत्व होने के साथ-साथ इसका ऐतिहासिक महत्व भी है और यह राज्य सरकार द्वारा संरक्षित एक धरोहर स्थल भी है।

मक्का मस्जिद का संक्षिप्त विवरण: (Quick Info about Mecca Masjid)

स्थान हैदराबाद, तेलंगाना (भारत)
स्थापना (निर्माण) 16वीं शताब्दी (1617-1694)
निर्माता मुहम्मद क़ुली क़ुत्ब शाह
वास्तुशैली इस्लामी वास्तुकला
प्रकार मस्जिद

मक्का मस्जिद का इतिहास: (Mecca Masjid History in Hindi)

भारत के सबसे बड़ी मस्जिदों में से एक इस मस्जिद का निर्माण कार्य गोलकोंडा (वर्तमान के हैदराबाद) के 6वें सुलतान मोहम्मद कुली कुतुब शाह द्वारा 16वीं शताब्दी में शुरू किया गया था। साल 1617 मे मीर फ़ैज़ुल्लाह बैग़ और रंगियाह चौधरी के निगरानी मे शुरू हुए निर्माण कार्य को मुग़ल सम्राट औरंग़ज़ेब ने 1694 में पूरा करवाया था। इस मस्जिद का काम अब्दुल्लाह क़ुतुब शाह और ताना शाह के वक़्त में भी ज़ारी रहा था।

मक्का मस्जिद के बारे में रोचक तथ्य: (Interesting Facts about Mecca Masjid in Hindi)

  • मस्जिद के निर्माण के लिए बनाये गए विशाल स्तंभ और मेहराब में ग्रेनाइट के एक ही स्लेब का इस्तेमाल किया गया था।
  • इस मस्जिद में उपयोग में लाई गई ग्रेनाइट को खदान से निकालने और तराशने में लगभग पांच वर्षो का समय लगा था।
  • मस्जिद के केन्द्रीय मेहराब बनाने के लिए मक्का से लाई गई मिट्टी से बनी ईटों का प्रयोग किया गया था, जिसके कारण ही इसका नाम मक्का मस्जिद रखा गया।
  • इस मस्जिद को लगभग 8000 से अधिक मजदूरों ने मिलकर 77 वर्षों में बनाकर पूरा किया था।
  • यह मस्जिद लगभग 300 फीट (91.44 मीटर) एकड़ में बनी हुई है।
  • मस्जिद के मुख्य हॉल की ऊंचाई 75 फीट, चौड़ाई 220 फीट और लंबाई 180 फीट है।
  • इसके किनारे मीनारों की चोटी पर एक कमानों की गैलरी बनी है और जिसके ऊपर एक छोटा गुंबद व एक शिखर मौजूद है।
  • मुख्य मस्जिद पर छत के चार किनारों पर, बालकनियों पर उलटे कप के आकार में ग्रेनाइट से बने छोटे गुम्बद बनाये गए हैं।
  • यह मस्जिद वास्तव में उस स्थान के बीच में स्थित है, जिसके आसपास कुली कुतुब शाह ने अपना साम्राज्य स्थापित किया था।
  • मस्जिद के अन्दर एक समय में 10,000 लोग एक साथ मिलकर नमाज़ अदा (प्रार्थना) कर सकते है।
  • मस्जिद के आँगन में एक कमरा बना हुआ है, जिसके बारे में कहा जाता है कि यहां नबी मोहम्मद के सर के एक बाल को सुरक्षित रखा गया है।
  • व्यक्तिगत रूप से इस मस्जिद का शिलान्यास मुहम्मद कुली क़ुतुब शाह द्वारा किया गया था।
  • रचेस से बने इस इमारत में असफ़ जाही शासकों की संगमरमर की कब्रें भी बनी हुई हैं। जिसमें निजाम और उनके परिवार की कब्र भी शामिल हैं।
  • इसके रखरखाव की अनदेखी और बढ़ते हुए प्रदुषण के कारण इस मस्जिद को काफी नुक्सान हुआ है जिसके चलते साल 1995 में इसे रासायनिक पदार्थों से धोया गया था ताकि उसकी पिछली सुंदरता को फिर से वापिस लाया जा सके।
  • मस्जिद के पास ही चारमीनार और चौमहला महल जैसी ऐतिहासिक इमारते भी स्थित है, जिस कारण से इस मस्जिद को एक पर्यटन स्थल के रूप में काफी ख्याति प्राप्त हुई है।
  • 18 मई, 2007 को मक्का मस्जिद में जुमे की नमाज के दौरान एक विस्फोट हुआ था। विस्फोट में 9 लोगों की मौत हो गई थी, जबकि इस धमाके में 58 से ज्यादा लोग घायल हो गए थे।

ऐसे ही अन्य ज्ञान के लिए अभी सदस्य बनें, तथा अपनी ईमेल पर नवीनतम अपडेट प्राप्त करें!

Comments are closed