वर्ष 2017 के नोबेल पुरस्कार से सम्मानित व्यक्तियों की सूची


General Knowledge: 2017 Nobel Prize Winners List In Hindi



वर्ष 2017 के नोबेल पुरस्कार से सम्मानित व्यक्तियों की सूची: (2017 Nobel Prize Winners List in Hindi)

नोबेल पुरस्कार का संक्षिप्त इतिहास:

साल 2017 के सभी श्रेणी के नोबेल पुरस्कारों के विजेताओ की घोषणा हो गई है। इस पुरस्कार की शुरुआत स्वीडन के एल्फ्रेड नोबेल के नाम पर 27 नवंबर 1895 में की गई थी। उन्‍होंने डायनामाइट का आविष्‍कार किया था। तब से हर साल  फिजियोलॉजी या चिकित्सा, भौतिकी, रसायन, साहित्य और शांति के साथ-साथ अर्थशास्त्र के क्षेत्र में अहम योगदान के लिए दुनिया के सर्वोच्‍च सम्‍मान नोबेल पुरस्कार दिए जाते हैं। केवल जीवित लोगों को ही नोबेल पुरस्कार दिया जा सकता है।

सबसे ज्यादा नोबेल पुरस्कार पाने वाले देशों में अमेरिका पहले नंबर पर है। दूसरे स्थान पर है जर्मनी। इसके बाद ब्रिटेन और फ्रांस का नंबर आता है। साल 2014 में नोबेल पाने वाली मलाला युसूफजई इस पुरस्कार की अब तक की सबसे युवा विजेता हैं।

नोबल पुरस्कार विजेता को मिलने वाली राशि:

नोबल पुरस्कार विजेता को पिछले सालों तक 80 लाख स्वीडिश क्रोनर (लगभग 6.25 करोड़ रुपये) पुरस्कार राशि के रूप में दिए जाते मिलते थे, परन्तु इस साल इसे बढ़ाकर 90 लाख स्वीडिश क्रोनर (करीब 7.25 करोड़ रुपए) कर दिया गया है। आइये जानते है इस वर्ष  किन-2 व्यक्तियों को नोबेल प्राइज 2017 के लिए नामांकित किया गया है। सभी विजेताओं को अल्फ्रेड नोबेल की पुण्यतिथि पर 10 दिसम्बर को स्वीडन में सम्मानित किया जाएगा।

वर्ष 2017 के विभिन्न क्षेत्रों में दिए गए नोबेल पुरस्कार श्रेणियां:

1. चिकित्सा नोबल पुरस्कार 2017:

नोबेल फाउंडेशन ने 02 अक्टूबर 2017 को वर्ष 2017 के लिए चिकित्सा श्रेणी के नोबेल पुरस्कार की घोषणा कर दी है। अमेरिका के तीन वैज्ञानिकों जैफ्री. सी. हाल, माइकल रोसबाश तथा माइकल डब्ल्यू यंग को मानव शरीर की आंतरिक जैविक घड़ी (बॉयलोजिकल क्लॉक) विषय पर किए गए महत्वपूर्ण शोध के लिए साल 2017 के चिकित्सा के नोबेल पुरस्कार के लिए चुना गया है। बॉयलोजिकल क्लॉक को सर्केडियन रिदम के नाम से जाना जाता है।

अमेरिकी शोधकर्ता जेफरी सी हॉल यूनिवर्सिटी ऑफ मेने में बतौर जेनेटिसिस्ट जुड़े हुए हैं। अमेरिका के कनकास सिटी में 07 मार्च, 1944 को जन्मे माइकल रोजबस दुनिया के मशहूर जेनेटिसिस्ट और क्रोनोबायोलॉजिस्ट हैं। वहीं 28 मार्च, 1949 को अमेरिका के फ्लोरिडा शहर में जन्मे माइकल डब्ल्यू यंग रॉकफेलर यूनिवर्सिटी से जुड़े है। उन्होंने तीन दशकों से भी ज्यादा समय ड्रोसोफिला मेलानोगास्टर से जुड़े विभिन्न पहलुओं पर रिसर्च में लगाया है।

इन्हें भी पढे: वर्ष 2016 के नोबेल पुरस्कार से सम्मानित व्यक्तियों की सूची

2. रसायन विज्ञान नोबल पुरस्कार 2017:

04 अक्टूबर 2017 को रयायन विज्ञान के नोबेल पुरस्कारों की घोषणा की गयी है। जैक्स ड्यूबचित, जोएचिम फ्रैंक और रिचर्ड हेंडरसन को नोबेल पुरस्कार से सम्मानित किया जायेगा। तीनों वैज्ञानिकों को बॉयोमालीक्यूल्स के सॉल्यूशन के उच्च संकल्प संरचना के निर्धारण के लिए क्रायो इलेक्ट्रान माइक्रोस्कोपी विकसित करने को लेकर चुना गया है। जैक्स ड्यूबचित स्विजरलैंड की यूनिवर्सिटी ऑफ लूसियाना में कार्यरत हैं। फ्रैंक न्यूयार्क के कोलंबिया यूनिवर्सिटी में अपनी सेवाएं दे रहे हैं। वहीं रिचर्ड हेंडरसन कैंब्रिज की एमआरसी लैबोरेटरी ऑफ मॉलीक्यूलर बॉयोलोजी में सेवारत हैं।

3. भौतिकी नोबल पुरस्कार 2017:

02 अक्टूबर 2017 को भौतिकी विज्ञान के नोबेल पुरस्कारों की घोषणा की गयी है। रैनर वीस, कीप एस थ्रोन और बैरी सी बारिश को लिगो डिटेक्टर (लेजर इंटरफेरोमीटर ग्रेविटेशनल वेव ऑब्जर्वेटरी) में निर्णायक योगदान के लिए और गुरुत्वाकर्षक तरंगों की पहचान के लिए वर्ष 2017 भौतिकी नोबेल पुरस्कार के लिए चुना गया है।

4.  साहित्‍य नोबेल पुरस्‍कार 2017:

05 अक्टूबर 2017 को साहित्य नोबेल पुरस्कार के विजेता की घोषणा की गई है। जापानी मूल के ब्रिटिश लेखक काजुओ इशीगुरो को वर्ष 2017 का साहित्य का नोबेल दिया जाएगा। आठ किताबें लिख चुके इशीगुरो ने ‘रीमेंश ऑफ द डे’ से वैश्विक स्तर पर ख्याति अर्जित की थी। इस उपन्यास पर हॉलीवुड फिल्म भी बन चुकी है। फिल्म को ऑस्कर के लिए नामांकित किया गया था। उन्हें वर्ष 1989 में बुकर अवार्ड से नवाजा गया था।

5. नोबेल शांति पुरस्कार 2017:

02 अक्टूबर 2017 को शांति के नोबेल पुरस्कार का ऐलान हो गया है। इस साल एंटी न्यूक्लियर अभियान चलाने वाली संस्था आईसीएएन (ICAN) को ये सम्मान मिला है। नॉर्वे की नोबेल कमेटी के मुताबिक, आईसीएएन को 2017 का शांति के नोबेल पुरस्कार दुनिया में परमाणु हथियारों के इस्तेमाल के बाद भयावह परिस्थितियों से अवगत कराने के लिए उसके प्रयासों की वजह से दिया गया है।  इस साल शांति के नोबेल पुरस्कार की दौड़ में आईसीएएन के अलावा पोप फ्रैंसिस, ईरान के विदेश मंत्री मोहम्मद जावेद जरीफ और सऊदी के ब्लॉगर रैफ बदावी भी शामिल थे।

शांति पुरस्कार क्यों दिया जाता है?

शांति का नोबेल पुरस्कार किसी व्यक्ति या संस्था को दिया जाता है जो दो देशों के बीच भाई-चारे को बढ़ावा देते हैं या फिर समाज के लिए सबसे अच्छा काम करते हैं जिससे लोगों को नई जिंदगी मिलती है।

6. अर्थशास्त्र नोबल पुरस्कार 2017:

09 अक्टूबर 2017 को अर्थशास्त्र के नोबेल का ऐलान कर दिया गया है। इस साल अमेरिकी अर्थशास्त्री रिचर्ड एच. थेलर को साल 2017 के लिए अर्थशास्त्र नोबेल पुरस्कार के लिए चुना गया है। 72 वर्षीय थेलर को ‘व्यावहारिक अर्थशास्त्र में योगदान’ के लिए दिया गया है।

थैलर, यूनिवर्सिटी ऑफ शिकागो बूथ स्कूल ऑफ बिजनेस में बिहेवियरल साइंस और इकोनॉमिक्स के प्रोफेसर हैं। 2008 में आई बुक नज के सह-लेखक हैं। थैलर ने ये बुक कैस आर.संस्टीन के साथ मिलकर लिखी थी। इसमें बताया गया था कि बिहेवियरल इकोनॉमिक्स के जरिए सोसाइटी की कई प्रॉब्लम्स को हल किया जा सकता है।

Spread the love, Like and Share!
  • 402
    Shares

Like this Article? Subscribe to Our Feed!

29 Comments:

  1. Anant ram prajapati

    आप के द्वारा दी गई जानकारी बहुत अच्छी है

  2. yes good knowledge

  3. Shyamjee ravidas

    Aap ke dwara de gayi jankaari bahut sundar hai

Leave a Reply

Your email address will not be published.