हिन्दी साहित्य अकादमी पुरस्कार विजेताओं की सूची वर्ष 1955 से अब तक


General Knowledge: Hindi Literature Award Winners List In Hindi
Hindi Mein Saahity Akaadamee Puraskaar Se Sammaanit Vyaktiyon Ki Suchi



हिन्दी में साहित्य अकादमी पुरस्कार: (Hindi Literature Award  in Hindi) 

साहित्य अकादमी पुरस्कार किसे कहते है?

साहित्य अकादमी पुरस्कार भारत में साहित्य अकादमी द्वारा दिया जाने वाला एक साहित्यिक सम्मान है। साहित्य अकादमी द्वारा हर साल भारत की अपने द्वारा मान्यता प्रदत्त प्रमुख भाषाओं में से प्रत्येक में प्रकाशित सर्वोत्कृष्ट साहित्यिक कृति को पुरस्कार प्रदान करती है। भारतीय संविधान की 8वीं अनुसूची में शामिल 22 भारतीय भाषाओं के अलावा ये राजस्थानी और अंग्रेज़ी भाषा सहित कुल 24 भाषाओं में प्रदान किया जाता हैं। पहली बार साहित्य अकादमी पुरस्कार सन् 1955 में दिए गए थे।

Quick Info About Hindi Literature Award:

पुरस्कार का वर्ग साहित्य
स्थापना वर्ष 1955
पुरस्कार राशि 50,000 रूपए
प्रथम विजेता माखनलाल चतुर्वेदी
आखिरी विजेता रमेश कुंतल मेघ (2017)

साहित्य अकादमी पुरस्कार में मिलने वाली राशि:

साहित्य अकादमी पुरस्कार में विजेताओं को वर्तमान सामान्य में एक लाख रुपए नक़द राशि और एक ताम्रपत्र दिया जाता है। पुरस्कार की स्थापना के समय पुरस्कार राशि 5,000/- रुपए थी, जो सन् 1983 में ब़ढा कर 10,000/- रुपए कर दी गई और सन् 1988 में ब़ढा कर इसे 25,000/- रुपए कर दिया गया। सन् 2001 से यह राशि 40,000/- रुपए की गई और उसके बाद सन् 2003 में यह राशि बढाकर  50,000/- रुपए कर दी गई थी।

इन्हें भी पढे: साहित्य में नोबेल पुरस्कार सम्मानित व्यक्तियों की सूची

साहित्य अकादमी पुरस्कार 2017:

हिंदी के जाने माने लेखक रमेश कुंतल मेघ को 22 दिसम्बर 2017 को हिन्दी में साहित्य अकादमी पुरस्कार देने की घोषणा की गई। रमेश कुंतल मेघ को उनकी हिन्दी पुस्तक ‘विश्वमिथकसरित्सागर’ के लिए इस पुरस्कार के लिए चुना गया है।

रमेश कुंतल मेघ के अलावा उर्दू के बेग एहसास, संस्कृत के निरंजन मिश्र, मराठी के श्रीकांत देशमुख, अंग्रेजी में ममंग दई के उपन्यास द ब्लैक हिल, असमिया में जयंत माधव बरा के उपन्यास मरियाहोला, बांग्ला में आफसार आमेद के उपन्यास सेइ निथोंज मानुषटा और तमिल में इंकलाब की कविता कानधल नाटकल को प्रदान किया गया।  इसके अलावा बोडो, डोगरी, गुजराती, कन्नड़, कश्मीरी, कोंकणी, मैथिली, मलयालम, मणिपुरी, मराठी, नेपाली, उड़िया, पंजाबी, राजस्थानी, संस्कृत, संथाली, सिंधी एवं तेलुगू सहित 24 भाषाओं की कृतियों के लेखकों को इस साल के साहित्य अकादमी पुरस्कार के लिए चुना गया है। इन पुरस्कारों में 7 उपन्यास, 5 काव्य संग्रह, 5 कहानी संग्रह, 5 समालोचना, 1 नाटक और 1 निबंध शामिल है। अगले साल 12 फरवरी को विजेताओं को पुरस्कार प्रदान किया जाएगा।

वर्ष 1955 से अब तक हिन्दी साहित्य अकादमी पुरस्कार विजेताओं की सूची:

वर्ष साहित्यकार का नाम रचना
2017 रमेश कुंतल मेघ विश्वमिथकसरित्सागर (पुस्तक)
2016 नासिरा शर्मा पारिजात (उपन्‍यास)
2015 रामदरश मिश्र आग की हंसी (कविता-संग्रह)
2014 रमेशचन्‍द्र शाह विनायक (उपन्‍यास)
2013 मृदुला गर्ग मिलजुल मन (उपन्‍यास)
2012 चंद्रकांत देवताले पत्थर फेंक रहा हूँ (कविता-संग्रह)
2011 काशीनाथ सिंह रेहन पर रग्घू (उपन्यास)
2010 उदय प्रकाश मोहन दास (लघु उपन्यास)
2009 कैलाश वाजपेयी हवा में हस्ताक्षर (कविता-संग्रह)
2008 गोविन्द मिश्र कोहरे में कैद रंग (उपन्यास)
2007 अमरकान्त इन्हीं हथियारों से (उपन्यास)
2006 ज्ञानेन्द्रपति संशयात्मा (कविता-संग्रह)
2005 मनोहर श्याम जोशी क्याप (उपन्यास)
2004 वीरेन डंगवाल दुश्चक्र में स्रष्टा (कविता-संग्रह)
2003 कमलेश्वर कितने पाकिस्तान (उपन्यास)
2002 राजेश जोशी दो पंक्तियों के बीच (कविता-संग्रह)
2001 अलका सरावगी कलि–कथा: वाया बाइपास (उपन्यास)
2000 मंगलेश डबराल हम जो देखते हैं (कविता-संग्रह)
1999 विनोद कुमार शुक्ल दीवार में एक खिड़की रहती थी (उपन्यास)
1998 अरुण कमल नए इलाक़े में (कविता-संग्रह)
1997 लीलाधर जगूड़ी अनुभव के आकाश में चाँद (कविता-संग्रह)
1996 सुरेन्द्र वर्मा मुझे चाँद चाहिए (उपन्यास)
1995 कुँवर नारायण कोई दूसरा नहीं (कविता-संग्रह)
1994 अशोक वाजपेयी कहीं नहीं वहीं (कविता-संग्रह)
1993 विष्णु प्रभाकर अर्द्धनारीश्वर (उपन्यास)
1992 गिरिराज किशोर ढाई घर (उपन्यास)
1991 गिरिजाकुमार माथुर मैं वक़्त के हूँ सामने (कविता-संग्रह)
1990 शिवप्रसाद सिंह नीला चाँद (उपन्यास)
1989 केदारनाथ सिंह अकाल में सारस (कविता-संग्रह)
1988 नरेश मेहता अरण्या (कविता-संग्रह)
1987 श्रीकांत वर्मा (मरणोपरांत) मगध (कविता-संग्रह)
1986 केदारनाथ अग्रवाल अपूर्वा (कविता-संग्रह)
1985 निर्मल वर्मा कव्वे और काला पानी (कहानी–संग्रह)
1984 रघुवीर सहाय लोग भूल गए हैं (कविता-संग्रह)
1983 सर्वेश्वरदयाल सक्सेना खूँटियों पर टँगे लोग (कविता-संग्रह)
1982 हरिशंकर परसाई विकलांग श्रद्धा का दौर (व्यंग्य)
1981 त्रिलोचन ताप के ताये हुए दिन (कविता-संग्रह)
1980 कृष्णा सोबती ज़िन्दगीनामा–जिन्दाय रुख़ (उपन्यास)
1979 धूमिल (मरणोपरांत) कल सुनना मुझे (कविता-संग्रह)
1978 भारत भूषण अग्रवाल उतना वह सूरज है (कविता-संग्रह)
1977 शमशेर बहादुर सिंह चुका भी हूँ नहीं मैं (कविता-संग्रह)
1976 यशपाल मेरी तेरी उसकी बात (उपन्यास)
1975 भीष्म साहनी तमस (उपन्यास)
1974 शिवमंगल सिंह ‘सुमन’ मिट्टी की बारात (कविता-संग्रह)
1973 हज़ारीप्रसाद द्विवेदी आलोक पर्व (निबंध–संग्रह)
1972 भवानीप्रसाद मिश्र बुनी हुई रस्सी (कविता-संग्रह)
1971 नामवर सिंह कविता के नए प्रतिमान (समालोचना)
1970 रामविलास शर्मा निराला की साहित्य साधना (जीवनी)
1969 श्रीलाल शुक्ल रागदरबारी (उपन्यास)
1968 हरिवंश राय ‘बच्चन’ दो चट्टानें (कविता-संग्रह)
1967 अमृतलाल नागर अमृत और विष (उपन्यास)
1966 जैनेन्द्र कुमार मुक्तिबोध (उपन्यास)
1965 नगेन्द्र रस–सिद्धांत (काव्यशास्त्र)
1964 अज्ञेय आँगन के पार द्वार (कविता-संग्रह)
1963 अमृत राय प्रेमचंद: क़लम का सिपाही (जीवनी)
1961 भगवतीचरण वर्मा भूले बिसरे चित्र (उपन्यास)
1960 सुमित्रानंदन पंत कला और बूढ़ा चाँद (कविता-संग्रह)
1959 रामधारी सिंह ‘दिनकर’ संस्कृति के चार अध्याय (भारतीय संस्कृति का सर्वेक्षण)
1958 राहुल सांकृत्यायन मध्य एशिया का इतिहास (इतिहास)
1957 आचार्य नरेन्द्र देव (मरणोपरांत) बुद्ध धर्म–दर्शन (दर्शन)
1956 वासुदेवशरण अग्रवाल पद्मावत: संजीवनी व्याख्या (टीका)
1955 माखनलाल चतुर्वेदी हिमतरंगिनी (कविता-संग्रह)

नोट: यह पोस्ट 23 दिसम्बर 2017 को अपडेट की गयी है।

Spread the love, Like and Share!

Like this Article? Subscribe to Our Feed!

2 Comments:

  1. सुधा गोस्वामी

    नमस्कार,
    मैं जानना चाहती हूँ कि क्या ज्ञानपीठ को इंग्लिश में Gyanpeeth लिख सकते हैं या नहीं? अबतक जो स्पेलिंग लिखी जा रही है वह पढ़ने में अटपटी लगती है. कृपया समाधान करें.

Leave a Reply

Your email address will not be published.