भारतीय रुपया के बारे में महत्वपूर्ण जानकारी

भारतीय मुद्रा की जानकारी

भारतीय रुपया के बारे में महत्वपूर्ण जानकारी: (Important information about Indian Rupee)

भारतीय रुपया जिसका प्रतीक-चिह्न ₹ और कोड INR है यह भारत की राष्ट्रीय मुद्रा है। और वर्तमान में इसका बाज़ार नियामक और जारीकर्ता भारतीय रिज़र्व बैंक है। भारतीय रुपया का प्रतीक चिन्न 15 जुलाई 2010 चुना गया था, जिसे आईआईटी, गुवाहाटी के प्रोफेसर डी. उदय कुमार ने डिज़ाइन किया है। भारत विश्व का ऐसा पंचवा देश है, जिसे उसके प्रतीक-चिह्न से पहचाना जाता है। भारत के रुपया शब्द का उद्गम संस्कृत के शब्द रुप् या रुप्याह् में निहित है, जिसका अर्थ चाँदी होता है और रूप्यकम् का अर्थ चाँदी का सिक्का है। इस शब्द का सर्वप्रथम प्रयोग शेर शाह सूरी ने भारत मे अपने शासन वर्ष 1540 से वर्ष 1545 के दौरान किया था। और यह शब्द भारत में ब्रिटिश राज के दौरान भी यह प्रचलन में रहा था।

भारतीय मुद्रा में प्रयुक्त भाषाएँ: (Languages ​​used in Indian currency)

भारतीय रुपया के सभी नोटो में कुल17 भाषाएँ लिखी गई हैं जो यह प्रदर्शित करती हैं की, इसकी मात्रा 17 भाषाओं में लिखी गई है। अग्रभाग पर, संप्रदाय अंग्रेजी और हिंदी में लिखा गया है । रिवर्स पर एक भाषा पैनल है जो भारत की 22 आधिकारिक भाषाओं में से 15 में नोट के मूल्य को प्रदर्शित करता है । भाषाओं को वर्णमाला क्रम में प्रदर्शित किया जाता है। पैनल में शामिल भाषाएँ असमिया , बंगाली , गुजराती , कन्नड़ , कश्मीरी , कोंकणी , मलयालम , मराठी , नेपाली , ओडिया हैं, पंजाबी , संस्कृत , तमिल , तेलुगु और उर्दू है।

भारतीय रुपया का इतिहास: (History of Indian Rupee)

वर्ष 1862 में महारानी विक्टोरिया के सम्मान में, विक्टोरिया के चित्र वाले बैंक नोटों और सिक्कों की श्रृंखला जारी की गई थी। जिसके बाद सर्वप्रथम वर्ष 1935 में भारतीय रिजर्व बैंक की स्थापना की गई थी भारतीय रिजर्व बैंक भारत सरकार के नोटों को जारी करने का अधिकार दिया गया था। रिजर्व बैंक ने 10,000 रुपयों का भी नोट छापा और परंतु स्वतंत्रता के बाद इसे बंद कर दिया। आरबीआई द्वारा जारी की गई पहली करेंसी नोट 5 रुपये की नोट था जिस पर किंग जॉर्ज VI की तस्वीर थी। यह नोट 1938 में छापा गया था। वर्ष 1947 में स्वतंत्रता के बाद और 1950 में जब भारत गणराज्य बन गया, भारत के आधुनिक रुपये ने अपना डिजाइन फिर से प्राप्त किया। कागज के नोट के लिए सारनाथ के चतुर्मुख सिंह वाले अशोक के शीर्षस्तंभ को चुना गया था। इसने बैंक के नोटों पर छापे जा रहे जॉर्ज VI का स्थान लिया। इस प्रकार स्वतंत्र भारत में मुद्रित पहला बैंक नोट 1 रुपये का नोट था।

भारतीय मुद्रा के सभी नोटों की महत्वपूर्ण जानकारी: (Important information of all Indian currency notes)

भारतीय ₹1 रुपये के नोट के बारे में महत्वपूर्ण जानकारी:

  • वर्तमान में, यह प्रचलन में सबसे छोटा भारतीय बैंकनोट है।
  • भारत सरकार द्वारा जारी किया जाने वाला एकमात्र नोट है।
  • इस नोट पर वित्त सचिव के हस्ताक्षर होते हैं।
  • वर्तमान में प्राचीलित भारत सरकार द्वारा जारी इस नोट की चौड़ाई 97 मिमी और ऊंचाई 63 मिमी होती है।
  • इस पर सागर सम्राट तेल रिग का चित्र प्रदर्शित होता है।

भारतीय ₹2 रुपये के नोट के बारे में महत्वपूर्ण जानकारी:

  • यह नोट दूसरा सबसे छोटा भारतीय नोट था।
  • इसे 1943 में पेश किया गया और 1995 में इसे प्रचलन से हटा दिया गया।

भारतीय ₹5 रुपये के नोट के बारे में महत्वपूर्ण जानकारी:

  • भारतीय रिज़र्व बैंक द्वारा वर्तमान में प्रचलित यह दूसरा सबसे छोटा भारतीय नोट है।
  • भारतीय रिज़र्व बैंक ने वर्ष1996 से महात्मा गांधी श्रृंखला में 5 रुपये के बैंकनोट की शुरुआत की थी।
  • परंतु भारतीय रिज़र्व बैंक द्वारा इन मूल्यवर्गों में नोटों की छपाई बंद कर दी गई है।

भारतीय ₹10 रुपये के नोट के बारे में महत्वपूर्ण जानकारी:

  • भारतीय रिज़र्व बैंक द्वारा जारी ₹10 नोट की चौड़ाई 123 मिमी और ऊंचाई 63 मिमी है।
  • नोट का आधार रंग चॉकलेट ब्राउन है।
  • नोट पर प्रदर्शित देवनागरी में ऐतिहासिक अंक १०
  • नोट के केंद्र में महात्मा गांधी का चित्र है।
  • नोट पर माइक्रो लेटर्स में ‘RBI’, ‘भारत’, ‘INDIA’ और ’10’ लिखा हुआ है।
  • नोट पर अंकित शिलालेखों के साथ विमुद्रीकृत सुरक्षा धागा ‘भारत’ और RBI है।
  • नोट पर अशोक स्तंभ दाहिनी ओर प्रदर्शित है।
  • नोट पर महात्मा गांधी चित्र और ₹10 इलेक्ट्रोटाइप द्वारा लिखा गया दोनों वॉटरमार्क द्वारा प्रदर्शित किए गए हैं।
  • नोट पर संख्या पैनल के साथ संख्याएँ ऊपर से बायीं ओर और बायीं ओर दायीं ओर नीचे की ओर बढ़ती हुई हैं।
  • नोट के बाईं ओर नोट की छपाई का वर्ष लिखा होता है।
  • अन्य भारतीय रुपये के बैंक नोटों की तरह, ₹10 बैंकनोट में इसकी राशि 17 भाषाओं में लिखी गई है।

भारतीय ₹20 रुपये के नोट के बारे में महत्वपूर्ण जानकारी:

  • भारतीय रिजर्व बैंक ने 26 अप्रैल 2019 को घोषणा की है कि वह जल्द ही एक नया। 20 का नोट जारी करेगा।
  • भारतीय रिज़र्व बैंक द्वारा जारी ₹20 नोट की चौड़ाई 129 मिमी और ऊंचाई 63 मिमी है।
  • नोट का आधार रंग हरे-पीले रंग का है।
  • इस नोट पर दृष्टिहीनों की सहायता के लिए ब्रेल सुविधा है।
  • नोट पर रिवर्स साइड में अंडमान और निकोबार द्वीप समूह में प्रसिद्ध माउंट हैरियट है।
  • इस नोट पर महात्मा गांधी के चित्र के दाहिने हाथ के बगल में ऊर्ध्वाधर बैंड पर बैंकनोट के मूल्य की अव्यक्त छवि है।
  • नोट पर महात्मा गांधी का वॉटरमार्क जो मुख्य चित्र की दर्पण छवि है।
  • अन्य भारतीय रुपये के बैंक नोटों की तरह, ₹20 बैंकनोट में इसकी राशि 17 भाषाओं में लिखी गई है।
  • इस बैंकनोट का नंबर पैनल एम्बेडेड फ्लोरोसेंट फाइबर और वैकल्पिक रूप से चर स्याही में मुद्रित होता है।

भारतीय ₹50 रुपये के नोट के बारे में महत्वपूर्ण जानकारी:

  • इस नोट को आधिकारिक तौर पर 18 अगस्त 2017 को घोषित किया गया था और वर्तमान में यह प्रचलन में है।
  • नोट के नए संस्करण में रिवर्स पर रथ के साथ हम्पी का चित्रण है।
  • भारतीय रिज़र्व बैंक द्वारा जारी ₹50 नोट की चौड़ाई 135 मिमी और ऊंचाई 66 मिमी है।
  • नोट का आधार रंग फ्लोरेसेंट ब्लू है।
  • नोट में अन्य डिजाइन, ज्यामितीय पैटर्न हैं, जो समग्र रंग योजना के साथ संरेखित करते हैं
  • इस नोट पर महात्मा गांधी के चित्र के दाहिने हाथ के बगल में ऊर्ध्वाधर बैंड पर बैंकनोट के मूल्य की अव्यक्त छवि है।
  • नोट पर गांधी का वॉटरमार्क जो मुख्य चित्र की दर्पण छवि है।
  • इस बैंकनोट का नंबर पैनल एम्बेडेड फ्लोरोसेंट फाइबर और वैकल्पिक रूप से चर स्याही में मुद्रित होता है।
  • अन्य भारतीय रुपये के बैंक नोटों की तरह, ₹50 बैंकनोट में इसकी राशि 17 भाषाओं में लिखी गई है।

भारतीय ₹100 रुपये के नोट के बारे में महत्वपूर्ण जानकारी:

  • 10 नवंबर 2016 को, भारतीय रिज़र्व बैंक ने महात्मा गांधी नई श्रृंखला के एक भाग के रूप में एक नया पुनर्निर्धारित ₹100 बैंकनोट उपलब्ध कराने की घोषणा की।
  • 19 जुलाई 2018 को, भारतीय रिजर्व बैंक ने ₹100 बैंकनोट के संशोधित डिजाइन का अनावरण किया।
  • नए बैंक नोट में रिवर्स की तरफ रानी की वाव का चित्र है।
  • नोट का आधार रंग लैवेंडर है।
  • रानी की वाव, पाटन, पाटन जिले, गुजरात, भारत में स्थित है। यह यूनेस्को की विश्व धरोहर स्थल है।
  • भारतीय रिज़र्व बैंक द्वारा जारी ₹100 नोट की चौड़ाई 142 मिमी और ऊंचाई 66 मिमी है।
  • इसमें मुद्रा की पहचान करने में दृष्टिहीनों की सहायता के लिए ब्रेल लिपि की सुविधा है।
  • नोट पर रिवर्स साइड से गोइचा ला का एक दृश्य दिखाई देता है, जो सिक्किम, भारत में एक उच्च पर्वत दर्रा है और हिमालय श्रृंखला में स्थित है।
  • नोट पर महात्मा गांधी के चित्र के दाहिने हाथ के बगल में ऊर्ध्वाधर बैंड पर बैंकनोट के मूल्य की अव्यक्त छवि है।
  • नोट पर महात्मा गांधी का वॉटरमार्क जो मुख्य चित्र की दर्पण छवि है।
  • इस बैंकनोट का नंबर पैनल एम्बेडेड फ्लोरोसेंट फाइबर और वैकल्पिक रूप से चर स्याही में मुद्रित होता है।
  • अन्य भारतीय रुपये के बैंक नोटों की तरह, ₹100 बैंकनोट में इसकी राशि 17 भाषाओं में लिखी गई है।

भारतीय ₹200 रुपये के नोट के बारे में महत्वपूर्ण जानकारी:

  • भारतीय रिज़र्व बैंक द्वारा जारी ₹200 नोट की चौड़ाई 142 मिमी और ऊंचाई 66 मिमी है।
  • 25 अगस्त 2017 को, भारतीय रिजर्व बैंक ने महात्मा गांधी की श्रृंखला में एक नया नोट ₹200 बैंकनोट पेश किया था।
  • इस नोट के नए संस्करण में देश की सांस्कृतिक विरासत का चित्रण करते हुए रिवर्स पर सांची स्तूप का चित्रण है।
  • इस नोट का बेस कलर ब्राइट येलो (पीला) है।
  • भारतीय रिजर्व बैंक ने घोषणा अनुसार नए ₹200 रुपये के बैंकनोट गणेश चतुर्थी के अवसर पर 25 अगस्त 2017 से प्रचलन जारी किए गए थे।
  • अन्य भारतीय रुपये के बैंक नोटों की तरह, ₹200 बैंकनोट में इसकी राशि 17 भाषाओं में लिखी गई है।

भारतीय ₹500 रुपये के नोट के बारे में महत्वपूर्ण जानकारी

  • 2016 के बीच महात्मा गांधी श्रृंखला के पिछले बैंक नोटों का 8 नवंबर, 2016 को विमुद्रीकरण कर दिया गया था।
  • भारतीय ₹500 रुपये का बैंकनोट भारतीय रुपये का एक मूल्यवर्ग है।
  • वर्तमान ₹500 बैंकनोट, 10 नवंबर 2016 से प्रचलन में है, जो महात्मा गांधी न्यू सीरीज़ का एक हिस्सा है।
  • भारतीय रिज़र्व बैंक द्वारा जारी ₹500 नोट की चौड़ाई 150 मिमी और ऊंचाई 66 मिमी है।
  • इसमें मुद्रा की पहचान करने में दृष्टिहीनों की सहायता के लिए ब्रेल सुविधा है।
  • इस नोट पर अव्यक्त अंक 500 के साथ उसकी एक अव्यक्त छवि है।
  • इस बैंकनोट के बाईं ओर माइक्रो अक्षर में’ ‘RBI’ और ‘500’ लिखा है।
  • इस नोट के झुक जाने पर धागे का रंग हरे से नीले में बदल जाता है
  • इस नोट पर 500 रुपये के सिंबल के साथ डिनोमिनेशन अंक, नीचे दाईं ओर रंग बदलने वाली स्याही (हरे से नीले) में प्रदर्शित होती है।
  • इस नोट का आधार रंग स्टोन ग्रे है।
  • इस नोट पर दायीं ओर महात्मा गांधी के चित्र के साथ-साथ इलेक्ट्रोटाइप 500 वाटरमार्क पर अशोक स्तंभ प्रतीक का चित्रण है।
  • नोट के रिवर्स साइड में लाल किले की भारतीय विरासत स्थल और स्वच्छ भारत अभियान की एक टैग लाइन है।
  • इस बैंकनोट का नंबर पैनल एम्बेडेड फ्लोरोसेंट फाइबर और वैकल्पिक रूप से चर स्याही में मुद्रित होता है।
  • अन्य भारतीय रुपये के बैंक नोटों की तरह, ₹500 बैंकनोट में इसकी राशि 17 भाषाओं में लिखी गई है।

भारतीय ₹1000 रुपये के नोट के बारे में महत्वपूर्ण जानकारी:

  • 8 नवंबर 2016 को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने घोषणा द्वारा नवंबर वर्ष 2016 से सभी ₹1000 के नोट महात्मा गांधी सीरीज वैध मुद्रा के रूप में स्वीकार नहीं किया जाएगा।
  • अन्य भारतीय रुपये के बैंक नोटों की तरह, ₹1000 बैंकनोट में इसकी राशि 17 भाषाओं में लिखी गई थी।
  • इस नोट की चौड़ाई 177 मिमी और ऊंचाई 73 मिमी थी।

भारतीय ₹2000 रुपये के नोट के बारे में महत्वपूर्ण जानकारी:

  • भारतीय रिजर्व बैंक द्वारा इसे 8 नवंबर 2016 को ₹1000 के नोट बंद हो जाने के बाद प्रचलित किया गया था।
  • यह भारतीय रिजर्व बैंक द्वारा सक्रिय मुद्रा में छपा भारत का उच्चतम नोट है।
  • भारतीय रिज़र्व बैंक द्वारा जारी ₹2000 नोट की चौड़ाई 166 मिमी और ऊंचाई 66 मिमी है।
  • इस नोट का आधार रंग मैजेंटा है।
  • इस नोट पर ब्रेल प्रिंट है, जिससे मुद्रा की पहचान करने में नेत्रहीनों को सहायता मिल सके।
  • इस नोट के रिवर्स साइड में मंगलयान का एक रूप है , जो भारत के पहले इंटरप्लेनेटरी स्पेस मिशन का प्रतिनिधित्व करता है।
  • इस नोट पर स्वच्छ भारत अभियान के लिए लोगो और टैग लाइन है।
  • इस नोट पर देवनागरी में २००० लिखा है।
  • इस बैंकनोट के बाईं ओर सूक्ष्म अक्षर ‘RBI’ और ‘2000’ लिखा है।
  • यह नोट झुक जाने पर इसके धागे का रंग हरे से नीले में बदल जाता है।
  • येन नोट गारंटी क्लॉज, प्रॉमिस क्लॉज के साथ गवर्नर के हस्ताक्षर, और दाईं ओर RBI का प्रतीक चिह्न प्रदर्शित है।
  • इस नोट पर बना अशोक स्तंभ, महात्मा गांधी चित्र और इलेक्ट्रोटाइप (2000) वॉटरमार्क पर प्रतीक है।
  • इस नोट पर महात्मा गांधी चित्र, अशोक स्तंभ प्रतीक, ब्लीड लाइन और पहचान चिह्न के नेत्रहीनों के लिए इन्टैग्लियो (उठाई गई छपाई) का उपयोग किया गया है।
  • नोट के बाईं ओर नोट की छपाई का वर्ष लिखा हुआ है।
(Visited 349 times, 1 visits today)

महत्वपूर्ण प्रश्न और उत्तर (FAQs):

  • प्रश्न: भारत की मुद्रा प्रणाली का दशमिकीकरण कब हुआ था?
    उत्तर: 1957ई० में (Exam - SSC SOC Nov, 1997)
  • प्रश्न: भारत में मुद्रास्फीति का मुख्य कारण क्या है?
    उत्तर: घाटे का बजट (Exam - SSC BSF Dec, 1997)
  • प्रश्न: मुद्रा का मुख्य कार्य किस रूप में कार्य करना है?
    उत्तर: विनिमय का माध्यम (Exam - SSC STENO G-D Dec, 1998)
  • प्रश्न: मुद्रा स्फीति एवं मूल्य वृद्धि के काल में मुद्रा की पूर्ति-
    उत्तर: बढ़ जाती है (Exam - SSC CML Oct, 1999)
  • प्रश्न: भारतीय मुद्रा प्रणाली में दशमलव का प्रयोग कब शुरू हुआ?
    उत्तर: 1957 ई० में (Exam - SSC SOC Dec, 2000)
  • प्रश्न: मुद्रा-स्फीति को कैसे रोका जा सकता है?
    उत्तर: मूद्रापूर्ति घटाकर (Exam - SSC CML Jun, 2002)
  • प्रश्न: जनता में प्रचलित मुद्रा और बैंकों में रखा नकदी रिजर्व का योग क्या कहलाता है?
    उत्तर: सकुंचित मुद्रा (Exam - SSC SOC Nov, 2003)
  • प्रश्न: मुद्रा के अवमूल्यन से क्या अभिप्राय है?
    उत्तर: मुद्रा के बहारी मूल्य में कमी (Exam - SSC SOA Dec, 2003)
  • प्रश्न: भारत में कागजी नोट मुद्रा को जारी करने का पूर्ण अधिकार किसके पास है?
    उत्तर: भारतीय रिजर्व बैंक (Exam - SSC DEO Aug, 2008)
  • प्रश्न: भारत की वर्तमान मुद्रा प्रणाली आधारित है-
    उत्तर: न्यूनतम रिजर्व प्रणाली पर (Exam - SSC TA Mar, 2009)
You just read: Information About Indian Currency - BANKING GK Topic

Like this Article? Subscribe to feed now!

Leave a Reply

Scroll to top