भारत की प्रमुख झीलों के नाम, प्रकार और महत्वपूर्ण तथ्यों की सूची


General Knowledge: List Of Famous Lakes Of India In Hindi
Bharat Ki Pramukh Jheelen, Sambandhit Raajy Aur Mahatvapoorn Tathyon Ki Suchi



भारत की प्रमुख झीलें और संबंधित राज्यों की सूची: (List of Famous Lakes of India in Hindi)

झील किसे कहते है?

झील जल का वह स्थिर भाग है जो चारों तरफ से स्थलखंडों से घिरा होता है। झील की दूसरी विशेषता उसका स्थायित्व है। सामान्य रूप से झील भूतल के वे विस्तृत गड्ढे हैं जिनमें जल भरा होता है। झीलों का जल प्रायः स्थिर होता है। झीलों की एक महत्त्वपूर्ण विशेषता उनका खारापन होता है लेकिन अनेक झीलें मीठे पानी की भी होती हैं। झीलें भूपटल के किसी भी भाग पर हो सकती हैं। ये उच्च पर्वतों पर मिलती हैं, पठारों और मैदानों पर भी मिलती हैं तथा स्थल पर सागर तल से नीचे भी पाई जाती हैं।

भारत में झीलों के प्रकार:

भारत में विभिन्न प्रकार की झीलें पायी जाती है, जिनके प्रकार निम्नलिखित है:-

  • विवर्तनिक झीलें: भूभर्गिक हलचलों के कारण निर्मित झीलों को विवर्तनिक झीलों के अंतर्गत रखा जाता है। कश्मीर की वूलर झील तथा कुमायूँ हिमालय में स्थित अनेक झीलें ।
  • क्रेटर झील या ज्वालामुखी क्रिया से निर्मित झील: शांत ज्वालामुखियों के वृहदाकार मुखों या क्रेटरों में जल भर जाने से ऐसी झीलों की उत्पत्ति होती है। इसका प्रमुख उदाहरण महाराष्ट्र के बुलढ़ाणा ज़िले की लोनार झील और अफ्रीका की विक्टोरिया झील है।
  • लैगून या अनूप झीलें: चिल्का झील (उड़ीसा), पुलिकट झील (आंध्र प्रदेश), कोलेरू झील (आंध्र प्रदेश)
  • हिमानी द्वारा निर्मित झीलें: ताजे या मीठे पानी की झीलें जिनमें नदियों के माध्यम से निरंतर ताजे जल का प्रवाह होता रहता है मीठे पानी की झीलें होती हैं क्योंकि इनमें विभिन्न प्रकार के लवणों का जमाव नहीं होने पाता है। कुमायूँ हिमालय की अधिकांश झीलें इसी प्रकार की हैं। इनके उदाहरण हैं: राकसताल, नैनीताल, सातताल, भीमताल, नौकुचिया ताल, खुरपाताल, समताल, पूनाताल, मालवाताल आदि।
  • वायु द्वारा निर्मित झीलें: राजस्थान की सांभर, डीडवाना, पंचभद्रा, लूनकरनसर आदि।
  • भ्रंशन द्वारा बनी झीलें: भूगर्भिक हलचलों के कारण धरातल के किसी भाग के नीचे धंस जाने या ऊपर उठ जाने से बनी बेसिनों में जल भर जाने के परिणामस्वरूप ऐसी झीलों का निर्माण होता है।
  • दरार घाटी झीलें: धरातल की दो समानांतर दरारों के मध्यवर्ती भाग के नीचे धंस जाने एवं उसमें जल भर जाने के फलस्वरूप ऐसी झीलों का निर्माण होता है। इजरायल का मृत सागर इसका उदहारण है।
  • खारे पानी की झीलें: जिन झीलों में बाहर से पानी आकर मिलता तो है किन्तु नकिलकर बाहर नहीं जाता है, वे प्रायः खारी झीलें होती हैं। कैस्पियन सागर विश्व की सबसे बड़ी खारे पानी की झील है।

भारत की प्रमुख झीलें और संबंधित राज्यों की सूची

झील का नाम  सम्बंधित राज्य महत्वपूर्ण तथ्य
अनंतनाग झील जम्मू-कश्मीर  –
कोलेरू झील आंध्र प्रदेश  –
खुरपाताल झील उत्तराखंड  –
गोविंद सागर झील पंजाब
  • यह भारत की सबसे कृत्रिम झील है।
  • यह सतलुज नदी पर बने भाखड़ा नांगल बांध से निर्मित हुई है।
चिल्का झील ओडिशा
  • यह भारत की सबसे बड़ी झील है।
  • यह खारे पानी की एक लैगून झील है।
  • इस झील पर नौसेना का प्रसिक्षण केंद्र भी है।
जयसमंद झील राजस्थान  –
डल झील जम्मू-कश्मीर  –
डीडवाना झील राजस्थान यह थार मरुस्थल के पूर्वी हिस्से में खारे पानी की झील है।
देवताल झील उत्तराखंड  –
नागिन झील जम्मू-कश्मीर  –
नैनीताल झील उत्तराखंड  –
नौकुछियाताल झील उत्तराखंड  –
पंचपोख्री झील उत्तराखंड यह भारत की सबसे अधिक ऊंचाई पर स्थित झील है।
पिछौला झील राजस्थान  –
पुलीकट झील तमिलनाडु  –
फतेहसागर झील राजस्थान  –
बेम्बानड झील केरल  –
बैरीनाग झील जम्मू-कश्मीर  –
मानस बल झील जम्मू-कश्मीर  –
मालाताल झील उत्तराखंड  –
राकसताल झील उत्तराखंड  –
राजसमंद झील राजस्थान  –
लुनकरनसर झील राजस्थान  –
लोकटक झील मणिपुर  –
लोनार झील महाराष्ट्र यह झील ज्वालामुखी उद्गार से बनी झील है।
वुलर झील जम्मू-कश्मीर यह भारत की सबसे बड़ी मीठे पानी की झील है।
शेषनाग झील जम्मू-कश्मीर  –
सांभर झील राजस्थान यह थार मरुस्थल के पूर्वी हिस्से में खारे पानी की झील है।
सातताल झील उत्तराखंड  –
हुसैनसागर झील आंध्र प्रदेश  –

इन्हें भी पढे: विश्व के प्रसिद्द जलप्रपातो की सूची

Spread the love, Like and Share!
  • 66
    Shares

Like this Article? Subscribe to Our Feed!

One Comment:

  1. manjesh kumar yadav

    nice

Leave a Reply

Your email address will not be published.