भारत के सभी वित्त मंत्रियों के नाम, उनका कार्यकाल और राजनीतिक दल (वर्ष 1947 से अब तक)


General Knowledge: List Of Finance Minister Of India In Hindi



भारत के सभी वित्त मंत्रियों की सूची (1947-2018): (List of Finance Ministers of India in Hindi)

वित्त मंत्रालय (भारत):

वित्त मंत्रालय भारत सरकार का एक महत्वपूर्ण मंत्रालय है। सम्पूर्ण देश की अर्थव्यवस्था का संचालन वित्त मंत्रालय द्वारा ही किया जाता है। भारत का वित्त मंत्रालय विभिन्न विभागों से मिलकर बना है जिनमें: आर्थिक कार्य विभाग, व्यय विभाग, राजस्व विभाग, वित्तीय सेवाएं विभाग एवं विनिवेश विभाग इत्यादि शामिल है।

वित्त मंत्रालय के प्रमुख कार्य:

वित्त मंत्रालय कराधान, वित्तीय कानून, वित्तीय संस्थानों, पूंजी बाजार, केंद्र तथा राज्यों का वित्त और केंद्रीय बजट से जुड़े सभी मामले देखता है।

वित्त मंत्री किसे कहते है?

भारत सरकार के वित्त मंत्रालय का प्रमुख वित्त मंत्री होता है। सरकार के राजकोषीय नीति की जिम्मेदारी वित्त मंत्री पर होती है। वित्त मंत्री संसद में वार्षिक केंद्रीय बजट (अनुच्छेद 112) प्रस्तुत करता है तथा वह देश की अर्थव्यवस्था का मुख्य संचालक होता है। भारत की स्वतंत्रता प्राप्ति (15 अगस्त 1947) के बाद से अब तक देश में 26 मंत्रियों ने वित्त मंत्री का पद ग्रहण किया है। सबसे ज्‍यादा बजट पेश करने का रिकॉर्ड मोरारजी देसाई के नाम है, उन्‍होंने 10 बार संसद में वार्षिक केंद्रीय बजट पेश किए हैं। इनमे 8 पूरे और 2 अं‍तरिम बजट है। उनके बाद पी. चिदंबरम का नाम आता है, जो 09 बार संसद बजट पेश कर चुके है।

भारत के वर्तमान वित्त मंत्री 2018:

भारत के वर्तमान वित्त मंत्री अरुण जेटली हैं। उन्होंने 26 मई 2014 को वित्तमंत्री के रूप में पद ग्रहण किया है, उनसे पहले पी. चिदम्बरम 31 जुलाई 2012 से 25 मई 2014 तक इस पद पर कार्यरत थे। स्वतंत्र भारत के पहले वित्त मंत्री आर. के. शंमुखम चेट्टी थे, जिन्होंने देश का पहला बजट पेश किया था। वह 15 अगस्त 1947 से 1949 तक अपने पद पर कार्यरत रहे।

वित्तीय प्रणाली किसे कहते है?

वित्तीय प्रणाली से तात्पर्य उस प्रणाली से है जो निवेशकों (Investors) और उधारकर्ताओं (Borrowers) के बीच धन के लेन-देन को सक्षम बनाती है। “वित्तीय प्रणाली” में “प्रणाली” शब्द एक जटिल समूह को संदर्भित करता है और अर्थव्यवस्था के अंदर संस्थानोंएजेंटोंप्रक्रियाओंबाजारोंलेनदेनदावों से नजदीकी रूप से जुडा होता है। वित्तीय प्रणाली के मुख्य घटक निम्नलिखित है:

भारतीय वित्तीय प्रणाली के घटक:

  • वित्तीय संस्थान
  • वित्तीय बाजार
  • मुद्रा बाज़ार
  • पूंजी बाजार
  • विदेशी मुद्रा विनिमय बाजार
  • ऋण बाजार (क्रेडिट मार्केट)

इन्हें भी पढ़ें: भारतीय राज्यों के मुख्यमंत्रियों की सूची 2018

भारत के वित्त मंत्रियों की सूची: (1947-2018)

वित्त मंत्री का नाम कार्यकाल राजनीतिक दल (गठबंधन)
लियाकत अली खान 29 अक्टूबर 1946 से 14 अगस्त 1947 तक ऑल इंडिया मुस्लिम लीग
आर. के. शंमुखम चेट्टी 15 अगस्त 1947 से 1949 तक भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस
जॉन मथाई 1949 से 1950 तक
सी. डी. देशमुख 29 मई  1950 से 1957 तक
टी. टी. कृष्णामचारी 1957 से 13 फरवरी 1958 तक
जवाहर लाल नेहरु 13 फरवरी 1958 से 13 मार्च 1958 तक
मोरारजी देसाई 13 मार्च 1958 से 29 अगस्त 1963 तक
टी. टी. कृष्णामचारी 29 अगस्त 1963 से 1965 तक
सचिन्द्र चौधरी 1965 से 13 मार्च 1967 तक
मोरारजी देसाई 13 मार्च 1967 से 16 जुलाई 1969 तक
इंदिरा गाँधी 1970 से 1971 तक
यशवंतराव चौहान 1971 से 1975 तक
चिदम्बरम सुब्रमनियम 1975 से 1977 तक
हरिभाई एम. पटेल 24 मार्च 1977 से 24 जनवरी 1979 तक जनता पार्टी
चौधरी चरण सिंह 24 जनवरी 1979 से 28 जुलाई 1979 तक
हेमवती नंदन बहुगुणा 28 जुलाई 1979 से 14 जनवरी 1980 तक जनता पार्टी (सेक्युलर)
आर. वेंकटरमण 14 जनवरी 1980 से 15 जनवरी 1982 तक भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस
प्रणब मुखर्जी 15 जनवरी 1982 से 31 दिसम्बर 1984 तक
वी. पी. सिंह 31 दिसम्बर 1984 से 24 जनवरी 1987 तक
राजीव गाँधी 24 जनवरी 1987 से 25 जुलाई 1987 तक
एन. डी. तिवारी 25 जुलाई 1987 से 25 जून 1988 तक
शंकर राव चौहान 25 जून 1988 से 02 दिसम्बर 1989 तक
मधु दंडवते 02 दिसम्बर 1989 से 10 नवम्बर 1990 तक जनता दल (राष्ट्रीय मोर्चा)
यशवंत सिन्हा 10 नवम्बर 1990 से 21 जून 1991 तक समाजवादी जनता पार्टी (राष्ट्रीय मोर्चा)
मनमोहन सिंह 21 जून 1991 से 16 मई 1996 तक भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस
जसवंत सिंह 16 मई 1996 से 01 जून 1996 तक भारतीय जनता पार्टी
पी. चिदम्बरम 01 जून 1996 से 21 अप्रैल 1997 तक तमिल मनिला कांग्रेस (संयुक्त मोर्चा)
आई. के. गुजराल 21 अप्रैल 1997 से 01 मई 1997 तक जनता दल (संयुक्त मोर्चा)
पी. चिदम्बरम 01 मई 1997 से 19 मार्च 1998 तक तमिल मनिला कांग्रेस (संयुक्त मोर्चा)
यशवंत सिन्हा 19 मार्च 1998 से 01 जुलाई 2002 तक भारतीय जनता पार्टी (एनडीए)
जसवंत सिंह 01 जुलाई 2002 से 22 मई 2004 तक
पी. चिदम्बरम 22 मई 2004 से 30 नवम्बर 2008 तक भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस (यूपीए)
मनमोहन सिंह 30 नवम्बर 2008 से 24 जनवरी 2009 तक
प्रणब मुखर्जी 24 जनवरी 2009 से 26 जून 2012 तक
मनमोहन सिंह 26 जून 2012 से 31 जुलाई 2012 तक
पी. चिदम्बरम 31 जुलाई 2012 से 26 मई 2014 तक
अरूण जेटली 26 मई 2014 से पदस्थ भारतीय जनता पार्टी (एनडीए)
Spread the love, Like and Share!
  • 36
    Shares

Like this Article? Subscribe to Our Feed!

Leave a Reply

Your email address will not be published.