राजनीति में प्रथम

राजनीति में प्रथम (First in Politics in Hindi): दोस्‍तो इस पोस्ट के माध्यम से आप भारत और विश्व राजनीति में प्रथम प्रसिद्ध महिलाओं एवं पुरुषों से जुड़े महत्वपूर्ण रोचक तथ्‍यों के बारे में जानकारी प्राप्त कर सकते है। आप सभी प्रसिद्ध व्यक्तियों के बारे में संक्षिप्त जानकारी, उनके जन्म, शिक्षा, करियर और उनके पुरस्कार और सम्मान बारे में महत्वपूर्ण जानकारी प्राप्त कर सकतें हैं जिससे आप आगामी प्रतियोगी परीक्षाओं में राजनीति से सम्‍बन्धित पूछे जाने वाले प्रश्‍नों की तैयारी उचित प्रकार से कर सकते है।

26-Sep-1932 – डॉ. मनमोहन सिंह भारत के 13वें प्रधानमंत्री के रूप में प्रसिद्ध है। वह अपनी नम्रता, कर्मठता और कार्य के प्रति प्रतिबद्धता के लिए जाने जाते हैं। वे एक अर्थशास्त्री भी हैं। डॉ. मनमोहन सिंह ने 2004 के आम चुनाव के बाद 22 मई 2004 को प्रधानमंत्री के रूप के शपथ ली और 22 मई 2009 को दूसरी बार भारत के प्रधानमंत्री बने। मनमोहन सिंह की पत्नी का नाम श्रीमती गुरशरण कौर है। मनमोहन सिंह और अमृत कौर की 3 बेटियां हैं।

01-Oct-1847 – 20-Sep-1933 – डॉ. एनी बेसेंट एक प्रख्यात समाजसेवी, लेखिका, स्वतंत्रता सेनानी और प्रवक्ता थीं। वह आयरिश मूल की महिला थीं। भारत से गहरा लगाव रखने वाली एनी बेसेंट ने भारत को अपना दूसरा घर बना लिया था। एनी बेसेंट ने कई मौकों पर अन्याय का कड़ा प्रतिरोध करके ‘आयरन लेडी” की छवि बनाई थी।

05-Sep-1888 – 17-Apr-1975 – डॉ. सर्वपल्ली राधाकृष्णन स्वतंत्र भारत के प्रथम उपराष्ट्रपति और दूसरे राष्ट्रपति थे। उनका कार्यकाल 13 मई, 1962 से 13 मई, 1967 तक रहा। वह देश के सबसे बड़े नागरिक सम्मान ‘भारत रत्न” से सम्मानित होने वाले प्रथम भारतीय व्यक्ति भी है। डॉक्टर सर्वपल्ली राधाकृष्णन का जन्म 05 सितम्बर 1888 को तमिलनाडु के तिरूतनी ग्राम में हुआ था। इनके पिता का नाम ‘सर्वपल्ली वीरास्वामी” और माता का नाम ‘सीताम्मा” था। सन 1903 में महज 16 वर्ष की उम्र में ही इनकी शादी इनकी दूर की चचेरी बहन से कर दी गयी, जिनसे इनके 4 बेटी तथा 1 बेटा हुआ। वे भारतीय संस्कृति के संवाहक, प्रख्यात शिक्षाविद, महान दार्शनिक और एक आस्थावान हिन्दू विचारक थे।

04-Sep-1825 – 30-Jun-1917 – दादा भाई नौरोजी एक महान स्वतंत्रता संग्रामी, शिक्षाविद , उद्योगपति और सामाजिक नेता थे। दादाभाई नौरोजी वर्ष 1850 में एलफिन्स्टन संस्थान में प्रोफेसर और ब्रिटिश सांसद बनने वाले पहले भारतीय थे। वे ‘ग्रैंड ओल्ड मैन ऑफ इंडिया” और ‘भारतीय राष्ट्रवाद के पिता” के महान व्यक्तित्व से पहचाने जाते थे।

31-Aug-1956 – यह चीन गणराज्य (ताइवान) की पहली ऐसी महिला थी, जो राष्ट्रपति बनी थी। साई इंग वेन चीन की राष्ट्रपति सातवीं और डेमोक्रेटिक प्रोग्रेसिव पार्टी (डीपीपी) की दूसरी राष्ट्रपति बनी थी। वह डेमोक्रेटिक प्रोग्रेसिव पार्टी (डीपीपी) की अध्यक्ष है। वह वर्ष 2012 और 2016 के राष्ट्रपति चुनाव में अपनी पार्टी की राष्ट्रपति पद उम्मीदवार थी।

11-Dec-1935 – 31-Aug-2020 – प्रणब मुखर्जी एक भारतीय राजनेता थे जिन्होंने 2012 से 2017 तक भारत के 13 वें राष्ट्रपति के रूप में कार्य किया। पाँच दशकों के राजनीतिक जीवन में, मुखर्जी भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस में एक वरिष्ठ नेता थे और उन्होंने भारत सरकार में कई मंत्रिस्तरीय विभागों पर कार्य किया। राष्ट्रपति के रूप में चुनाव से पहले, मुखर्जी 2009 से 2012 तक केंद्रीय वित्त मंत्री थे। उन्हें 2019 में भारत के सर्वोच्च नागरिक सम्मान, भारत के राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद द्वारा भारत रत्न से सम्मानित किया गया था।

06-Dec-1732 – 22-Aug-1818 – वारेन हास्टिंग्स भारत के पहले ब्रिटिश गवर्नर जनरल ऑफ़ बंगाल थे। इनका कार्यकाल 1772 से 1785 तक था। हेस्टिंग्स का जन्म 06 दिसम्बर 1732 में चर्चिल, ऑक्सफ़ोर्डशायर में हुआ था। उनके पिता का नाम पेनीस्टोन हेस्टिंग्स और माता का नाम हेस्टर हेस्टिंग्स था, हास्टिंग्स का जन्म होने के तुरंत बाद उनकी माँ का निधन हो गया था।

18-Aug-1900 – 01-Dec-1990 – विजय लक्ष्मी एक भारतीय राजनयिक और राजनीतिज्ञ थीं, यह संयुक्त राष्ट्र महासभा की पहली महिला अध्यक्ष थी। विजया लक्ष्मी नेहरु पंडित भारत के पहले प्रधानमंत्री पंडित जवाहरलाल नेहरू की बहन थी। भारत के स्वतंत्रता आन्दोलन में विजय लक्ष्मी पंडित ने अपना अमूल्य योगदान दिया था। इनकी शिक्षा-दीक्षा मुख्य रूप से घर में ही हुई थी।

25-Dec-1924 – 16-Aug-2018 – भारत रत्न”अटल बिहारी वाजपेयी एक प्रसिद्ध भारतीय राजनीतिज्ञ थे। वह देश के पहले विशुद्ध गैर कांग्रेसी प्रधानमंत्री भी हैं। वे तीन बार देश के प्रधानमंत्री पद आसीन हुए। वर्ष 1996 में अटल जी मात्र 13 दिन के लिए ही प्रधानमंत्री बने। इसके बाद 1998 में हुए चुनावों के माध्यम से वह दोबारा प्रधानमंत्री बने। तत्पश्चात् अटल बिहारी वाजपेयी अक्टूबर, 1999 में पुन: प्रधानमंत्री बने और उन्होंने 19 मार्च 1998 से 22 मई 2004 तक अपना तीसरा कार्यकाल सफलतापूर्वक पूर्ण किया। अटलजी हिन्दी कवि, पत्रकार व प्रखर वक्ता भी थे। उन्होंने अनेक पुस्तकों की रचना की। उनको कविताओं से भी खासा लगाव रहा। वह अपने विचारों को कई बार कविताओं के माध्यम से ही सामने रखते थे।

14-Feb-1952 – 06-Aug-2019 – सुषमा स्वराज एक भारतीय राजनीतिज्ञ और सुप्रीम कोर्ट की वकील थीं। भारतीय जनता पार्टी के एक वरिष्ठ नेता के रूप में सुषमा स्वराज ने पहली बार नरेंद्र मोदी की सरकार में भारत की विदेशी मंत्री के रूप में कार्य किया था और वह भारत की सबसे कम उम्र में बनने वाली महिला कैबिनेट मंत्री थी।

30-Jul-1886 – 22-Jul-1968 – डॉक्टर मुथुलक्ष्मी रेड्डी को देश की पहली महिला विधायक के रूप में याद किया जाता है। मुथुलक्ष्मी लड़कों के स्कूल में दाखिला लेने वालीं देश की पहली महिला भी थीं। मुथु जीवन भर महिलाओं के अधिकारों के लिए लड़तीं रहीं और देश की आज़ादी की लड़ाई में भी उन्होंने बढ़-चढ़कर सहयोग दिया। 1956 में उन्हें समाज के लिए किये गए अपने कार्यों के लिए पद्मभूषण से सम्मानित किया गया।

16-Jul-1909 – 29-Jul-1996 – अरुणा आसफ अली एक भारतीय स्वतंत्रता सेनानी थीं। उन्हे 1942 मे भारत छोडो आंदोलन के दौरान, मुंबई के गोवालीया मैदान मे कांग्रेस का झंडा फ्हराने के लिये हमेशा याद किया जाता है। अरुणा जी ने शुरूआती शिक्षा नैनीताल में प्राप्त की थी। यह बहुत ही कुशाग्र बुद्धि और पढ़ाई लिखाई में बहुत चतुर थीं।

संबंधित खोज शब्द: महत्वपूर्ण राजनीति में प्रथम से संबंधित संग्रह, राजनीति में प्रथम सामान्य ज्ञान, राजनीति में प्रथम रोचक ज्ञान, राजनीति में प्रथम वस्तुनिष्ठ प्रश्नोत्तरी, राजनीति में प्रथम प्रतियोगी परीक्षाओं के लिए अध्ययन सामग्री