स्वतंत्रता सेनानी

स्वतंत्रता सेनानी सामान्य ज्ञान (Famous Indian Freedom Fighters GK in Hindi): दोस्‍तो इस पोस्ट के माध्यम से आप भारत को आजादी दिलाने वाले देश के प्रमुख स्वतंत्रता सेनानी या क्रांतिकारियों का जीवन परिचय व उनसे संबन्धित महत्वपूर्ण सामान्य ज्ञान जानकारी प्राप्त करेंगे। इस अध्याय में आप शिवराम राजगुरु, खुदीराम बोस,अल्लूरी सीताराम राजू, राम प्रसाद बिस्मिल, शहीद भगत सिंह, डॉ. एनी बेसेंट, मैडम भीखाजी कामा, अरुणा आसफ अली, मंगल पांडे, गोपाल कृष्ण गोखले, लाला लाजपत राय, मदन मोहन मालवीय, गणेश वासुदेव मावलंकर, चक्रवर्ती राजगोपालाचारी, लक्ष्मी सहगल, सरदार वल्लभभाई पटेल तथा बाल गंगाधर तिलक आदि जैसे प्रमुख क्रांतिकारियों के बारे में ज्ञान अर्जित कर सकते है, जिससे आप आगामी प्रतियोगी परीक्षाओं में देश के स्वतंत्रता सेनानियों से सम्‍बन्धित पूछे जाने प्रश्‍नों की तैयारी ठीक प्रकार से कर सके।

प्रसिद्ध व्यक्ति, स्वतंत्रता सेनानी (1)

15-Oct-1931 – 27-Jul-2015 – डॉ. ए.पी.जे. अब्दुल कलाम पूर्व भारतीय राष्ट्रपति, जानेमाने वैज्ञानिक और अभियंता (इंजीनियर) के रूप में विख्यात थे। उन्हें ‘मिसाइल मैन” और ‘जनता के राष्ट्रपति” के नाम से भी जाना जाता है। वह भारत के 11वें निर्वाचित और पहले गैर-राजनीतिज्ञ राष्ट्रपति थे। वे 25 जुलाई 2002 से 25 जुलाई 2007 तक देश के राष्ट्रपति पद पर कार्यरत रहे। 27 जुलाई 2015 को दिल का दौरा पड़ने से इस महान व्यक्ति का निधन हो गया था।

प्रसिद्ध व्यक्ति, स्वतंत्रता सेनानी (2)

23-Jul-1906 – 27-Feb-1931 – चंद्रशेखर आजाद भारतीय स्वतंत्रता संग्राम के प्रसिद्ध क्रांतिकारी थे। 17 वर्ष के चंद्रशेखर आज़ाद क्रांतिकारी दल ‘हिन्दुस्तान रिपब्लिकन एसोसिएशन” में सम्मिलित हो गए थे दल में उनका नाम ‘क्विक सिल्वर” (पारा) रखा गया था। उन्होंने भारत को आजादी दिलाने में अपनी अहम भूमिका अनिभायी थी|

प्रसिद्ध व्यक्ति, स्वतंत्रता सेनानी (3)

24-Oct-1914 – 23-Jul-2012 – लक्ष्मी सहगल भारत की स्वतंत्रता संग्राम की सेनानी थी। वे आजाद हिन्द फौज की अधिकारी तथा आजाद हिन्द सरकार में महिला मामलों की मंत्री थीं।

प्रसिद्ध व्यक्ति, स्वतंत्रता सेनानी (4)

23-Jul-1856 – 01-Aug-1920 – एक भारतीय राष्ट्रवादी, शिक्षक, समाज सुधारक, वकील और एक स्वतन्त्रता सेनानी थे। तिलक का जन्म एक सुसंस्कृत, मध्यमवर्गीय ब्राह्मण परिवार में हुआ था। श्री गंगाधर रामचंद्र तिलक पहले रत्नागिरि में सहायक अध्यापक थे और फिर पूना तथा उसके बाद ‘ठाणे” में सहायक उपशैक्षिक निरीक्षक हो गए थे। वे अपने समय के अत्यंत लोकप्रिय शिक्षक थे। उन्होंने ‘त्रिकोणमिति” और ‘व्याकरण” पर पुस्तकें लिखीं जो प्रकाशित हुईं।

प्रसिद्ध व्यक्ति, स्वतंत्रता सेनानी (5)

19-Jul-1827 – 08-Apr-1857 – मंगल पांडे का नाम आज भी इतिहास की पुस्तकों में उसी गर्व के साथ दर्ज है जिस गर्व के साथ किसी समय पूरे देश ने उनका साथ प्रथम स्वतंत्रता संग्राम में दिया था। मंगेल पांडे किसी समय ईस्ट इंडिया कंपनी की 34वीं बंगाल नेटिव इंफेन्ट्री के सिपाही हुआ करते थे। उस समय उन्होनें अंग्रेज़ो का विरोध करना जब शुरू किया जब चर्बी वाले करतूसों को सेना से जबर्दस्ती उपयोग में लाये जाने को कहा गया। तत्कालीन अंग्रेजी शासन ने उन्हें बागी करार दिया, जबकि आम हिंदुस्तानी ने उन्हें एक नायक के रूप में देखा। उनके द्वारा भारत के स्वाधीनता संग्राम में महत्वपूर्ण भूमिका को लेकर भारत सरकार द्वारा उनके सम्मान में सन् 1984 में एक डाक टिकट भी जारी किया गया था।

प्रसिद्ध व्यक्ति, स्वतंत्रता सेनानी (6)

1823 – 17-Jul-1886 – बेगम ज़ीनत महल मुग़ल सम्राट बहादुर शाह ज़फ़र की पत्नी (बेगम) थी। बेगम ज़ीनत महल ने दिल्ली और आसपास के क्षेत्रों में स्वातंत्र्य योद्धाओं को संगठित किया और देश प्रेम का परिचय दिया था।

प्रसिद्ध व्यक्ति, स्वतंत्रता सेनानी (7)

12-Jan-1863 – 04-Jul-1902 – स्वामी विवेकानंद वेदान्त के विख्यात और प्रभावशाली आध्यात्मिक गुरु थे। उन्होंने अमेरिका स्थित शिकागो में सन् 1893 में आयोजित विश्व धर्म महासभा में भारत की ओर से सनातन धर्म का प्रतिनिधित्व किया था। भारत का आध्यात्मिकता से परिपूर्ण वेदान्त दर्शन अमेरिका और यूरोप के हर एक देश में स्वामी विवेकानन्द की वक्तृता के कारण ही पहुँचा था।

प्रसिद्ध व्यक्ति, स्वतंत्रता सेनानी (8)

04-Jul-1897 – 07-May-1924 – अल्लूरी सीताराम राजू तत्कालीन समय के भारतीय स्वतंत्रता संग्राम के एक क्रांतिकारी थे। सन 1920 में अल्लूरी सीताराम पर महात्मा गांधी के विचारों का बहुत प्रभाव पड़ा और उन्होंने आदिवासियों को मद्यपान छोड़ने तथा अपने विवाद पंचायतों में हल करने की सलाह दी। किंतु जब एक वर्ष में स्वराज्य प्राप्ति का गांधी जी का स्वप्न साकार नहीं हुआ तो सीताराम राजू ने अपने अनुयायी आदिवासियों की सहायता से अंग्रेज़ों के विरुद्ध सशस्त्र विद्रोह करके स्वतंत्र सत्ता स्थापित करने के प्रयत्न आंरभ कर दिए।

प्रसिद्ध व्यक्ति, स्वतंत्रता सेनानी (9)

27-Jun-1838 – 08-Apr-1894 – बंकिमचन्द्र चट्टोपाध्याय बंगाल के प्रकाण्ड विद्वान् तथा महान् कवि और उपन्यासकार थे। 1874 में प्रसिद्ध देश भक्ति गीत वन्देमातरम् की रचना की जिसे बाद में आनन्द मठ नामक उपन्यास में शामिल किया गया था। वन्देमातरम् गीत को सबसे पहले 1896 में कांग्रेस के कलकत्ता अधिवेशन में गाया गया था।

प्रसिद्ध व्यक्ति, स्वतंत्रता सेनानी (10)

19-Nov-1828 – 18-Jun-1858 – रानी लक्ष्मीबाई मराठा शासित झांसी की रानी और भारत की स्वतंत्रता संग्राम की प्रथम वनिता थीं। भारत को दासता से मुक्त करने के लिए सन् 1857 में बहुत बड़ा प्रयास हुआ। इन्होने मात्र 23 वर्ष की आयु में अंग्रेज़ साम्राज्य की सेना से संग्राम किया और रणक्षेत्र में वीरगति प्राप्त की किन्तु जीते जी अंग्रेजों को अपनी झाँसी पर क़बजा नहीं करने दिया।

प्रसिद्ध व्यक्ति, स्वतंत्रता सेनानी (11)

05-Nov-1870 – 16-Jun-1925 – चित्तरंजन दास एक प्रसिद्द भारतीय नेता, राजनीतिज्ञ, वकील, कवि तथा पत्रकार थे। एक महत्वपूर्ण राष्ट्रवादी नेता के साथ-साथ वो एक सफल विधि-शास्त्री भी थे। स्वाधीनता आन्दोलन के दौरान उन्होंने ‘अलीपुर षड़यंत्र काण्ड” (1908) के अभियुक्त अरविन्द घोष का बचाव किया था। चित्तरंजन दास ने अपनी चलती हुई वकालत छोड़कर गांधीजी के असहयोग आंदोलन में भाग लिया और पूर्णतया राजनीति में आ गए थे।

प्रसिद्ध व्यक्ति, स्वतंत्रता सेनानी (12)

11-Jun-1897 – 19-Dec-1927 – राम प्रसाद बिस्मिल भारत के महान् स्वतन्त्रता सेनानी ही नहीं, बल्कि उच्च कोटि के कवि, शायर, अनुवादक, बहुभाषाविद् व साहित्यकार भी थे। इन्होने भारत की आज़ादी के लिये फांसी के फंदे पर चढ़ गये थे। तथा जब-जब भारत में क्रांतिकारियों की बात होगी इस महान आदमी का नाम ज़रूर आएगा।

संबंधित खोज शब्द: महत्वपूर्ण स्वतंत्रता सेनानी से संबंधित संग्रह, स्वतंत्रता सेनानी सामान्य ज्ञान, स्वतंत्रता सेनानी रोचक ज्ञान, स्वतंत्रता सेनानी वस्तुनिष्ठ प्रश्नोत्तरी, स्वतंत्रता सेनानी प्रतियोगी परीक्षाओं के लिए अध्ययन सामग्री