समाज सुधारक

भारत एवं विश्व के प्रसिद्ध समाज सुधारक से संबन्धित सामान्य ज्ञान (World Famous Social Reformers GK in Hindi): दोस्‍तो इस पोस्ट के माध्यम से आप भारतीय इतिहास के प्रमुख सामाजिक और धार्मिक सुधारकों के बारे में महत्वपूर्ण सामान्य ज्ञान जानकारी प्राप्त कर सकते है, जिससे आप आगामी प्रतियोगी परीक्षाओं में समाज सुधारकों से सम्‍बन्धित पूछे जाने प्रश्‍नों की तैयारी ठीक प्रकार से कर सके।

22-May-1772 – 27-Sep-1833 – राजा राममोहन राय को आधुनिक भारत का जनक कहा जाता है। वे ब्रह्म समाज के संस्थापक, भारतीय भाषायी प्रेस के प्रवर्तक, जनजागरण और सामाजिक सुधार आंदोलन के प्रणेता तथा बंगाल में नव-जागरण युग के पितामह थे। धार्मिक और सामाजिक विकास के क्षेत्र में राजा राममोहन राय का नाम सबसे अग्रणी है।

22-Nov-1864 – 25-Sep-1955 – रखमाबाई राऊत भारत की प्रथम महिला चिकित्सक थीं। रखमाबाई का जन्म मुंबई में 22 नवंबर 1864 को मुंबई, महाराष्ट्र (ब्रिटिश भारत) में एक बढ़ई समुदाय में हुआ था। इंटरनेट सर्च कंपनी गूगल इंडिया ने 22 नवम्बर, 2017 को रखमाबाई राउत के 153वें जन्मदिन पर डूडल के जरिए उन्हें श्रद्धांजलि भी अर्पित की है। इस डूडल में रखमाबाई को साड़ी में स्टेथोस्कोप के साथ दिखाया गया हैं, उनके पीछे वार्ड का चित्र है, जिसमें मरीज लेटे हुए और नर्स काम करती हुई दिखाई दे रही हैं। वह एक बेहतरीन डॉक्टर के साथ-साथ प्रखर नारीवादी महिला भी थीं।

10-Dec-1878 – 25-Dec-1972 – चक्रवर्ती राजगोपालाचारी एक भारतीय स्वतंत्रता सेनानी, राजनेता, लेखक और वकील थे। चक्रवर्ती राजगोपालाचारी का जन्म मद्रास के थोराप्पली गांव में 10 दिसंबर, 1878 को वैष्णव ब्राह्मण परिवार में हुआ था। उनके पिता का नाम चक्रवर्ती वेंकटआर्यन और माता का नाम सिंगारम्मा था। वे स्वतन्त्र भारत के द्वितीय गवर्नर जनरल और प्रथम भारतीय गवर्नर जनरल थे। वे दक्षिण भारत के कांग्रेस के प्रमुख नेता थे, किन्तु बाद में वे कांग्रेस के प्रखर विरोधी बन गए तथा सन् 1959 में उन्होंने एक अलग ‘स्वतंत्रता पार्टी” का गठन भी किया।

संबंधित खोज शब्द: महत्वपूर्ण समाज सुधारक से संबंधित संग्रह, समाज सुधारक सामान्य ज्ञान, समाज सुधारक रोचक ज्ञान, समाज सुधारक वस्तुनिष्ठ प्रश्नोत्तरी, समाज सुधारक प्रतियोगी परीक्षाओं के लिए अध्ययन सामग्री