महाशय धर्मपाल गुलाटी का जीवन परिचय

महाशय धरमपाल गुलाटी का जीवन परिचय एवं उनसे जुड़ी महत्वपूर्ण जानकारी

महाशय धर्मपाल गुलाटी का जीवन परिचय : (Biography of Mahashay Dharampal Gulati in Hindi)

महाशय धर्मपाल गुलाटी एक भारतीय व्यापारी थे। वे एम. डी. एच. (MDH)मसाला कंपनी के मालिक थे। एम. डी. एच. एक भारतीय मसाला कंपनी है। किसी समय धर्मपाल तांगा चलाकर पेट भरने को मजबूर थे, और वर्तमान में 2000 करोड़ रुपयों के बिजनेस ग्रुप के मालिक थे।

Quick Info About Mahashay Dharampal Gulati in Hindi:

नाम महाशय धर्मपाल गुलाटी
जन्म तिथि 27 मार्च 1923
निधन तिथि 3 दिसम्बर 2020
पिता का नाम महाशय चुन्नी लाल गुलाटी
उपलब्धि एम. डी. एच. कंपनी के मालिक
उपलब्धि वर्ष 1953

महाशय धर्मपाल गुलाटी का जन्म

धर्मपाल गुलाटी का जन्म 27 मार्च 1923 को पाकिस्तान के सियालकोट में हुआ था। उनके पिता का नाम महाशय चुन्नी लाल गुलाटी था, जो एम. डी. एच. कंपनी के संस्थापक थे। उनका परिवार भारत के विभाजन के दौरान भारत आ गया था। परिवार ने कुछ समय अमृतसर में एक शरणार्थी शिविर में बिताया, और फिर वे काम की तलाश में दिल्ली चले गए।

महाशय धर्मपाल गुलाटी से जुड़े महत्वपूर्ण तथ्य: (Important Facts Related to Mahashay Dharampal Gulati)

  • महाशय धर्मपाल गुलाटी को आपने हमने शुरू से ही टीवी पर देखा है, वे अपनी कंपनी द्वारा टीवी पर कराये गए ऐड में नजर आते थे। जिसके कारण लोगो ने उन्हें उनके ब्रांड को तो पहचाना ही बल्कि उनके द्वारा करे गए टीवी ऐड की खूब सराहना की थी।
  • धर्मपाल गुलाटी के पिता ने पाकिस्तान के सियालकोट में साल 1922 में एक छोटी सी दुकान से इस सफर की शुरुआत की थी।
  • धर्मपाल गुलाटी ने 5वीं कक्षा की पढ़ाई पूरी होने से पहले ही स्कूल छोड़ दिया था। साल 1937 में, उन्होंने अपने पिता द्वारा शुरू किए गए छोटे से व्यापार में मदद करने लगाए थे।
  • भारत-पाकिस्तान विभाजन के बाद उनका परिवार दिल्ली आ गया और 27 सितंबर 1947 को उनके पास केवल 1500 रुपये थे।
  • भारत आकर इन्होंने दिल्ली में करोल बाग से अपना व्यापार प्रारंभ किया था।
  • धर्मपाल गुलाटी  वर्तमान में 2000 करोड़ रुपयों के बिजनेस ग्रुप के मालिक थे।
  • 2019 में, भारत सरकार ने धर्मपाल गुलाटी को भारत के तीसरे सर्वोच्च नागरिक पुरस्कार पद्म भूषण से सम्मानित किया था।
  • साल 2017 में उन्हें इंडिया में किसी भी FMCG कंपनी का सबसे ज्यादा वेतन पाने वाला CEO भी घोषित किया गया था।
  • उनके द्वारा बनाए गए, गुलाटी महाशय चुन्नी लाल चैरिटेबल ट्रस्ट (Mahashay Chunni Lal Charitable Trust) के द्वारा वे अपने वेतन का लगभग 90% हिस्सा दान में देते थे। यह ट्रस्ट दिल्ली में एक 250-बेड अस्पताल के साथ-साथ झुग्गी-झोपड़ी के लोगों के लिए अस्पताल और चार स्कूल आदि संचालित करता है।
  • गुलाटी का पिछले तीन हफ्तों से दिल्ली के एक अस्पताल में इलाज चल रहा था। 26 नवंबर 2020 की गुरुवार की सुबह उन्हें कार्डियक अरेस्ट हुआ। उन्होंने 3 दिसंबर 2020 को सुबह 5:21 बजे अंतिम सांस ली।

You just read: Biogrphy Mahashay Dharampal Gulati - BIOGRAPHY Topic

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *