सिक्किम सामान्य ज्ञान

सिक्किम सामान्य ज्ञान (Sikkim ‎General Knowledge):

सिक्किम देश के पूर्वोत्तर दिशा में स्थित एक राज्य है। सिक्किम की राजधानी और राज्य का सबसे बड़ा शहर गंगटोक है। सिक्किम के दक्षिण में पश्चिम बंगाल, पश्चिम में नेपाल के साथ, दक्षिण-पूर्व में भूटान के साथ और उत्तर-पूर्व में चीन के तिब्बत स्वायत्त क्षेत्र के साथ अपनी अंतर्राष्ट्रीय सीमा करता है। सिक्किम भारत का दूसरा सबसे छोटा राज्य और सबसे कम आबादी वाला राज्य है।

सिक्किम का इतिहास (Sikkim ‎History):

सिक्किम का इतिहास सन 1642 से ज्ञात होता है, जब फुन्त्सोंग नाम्ग्याल को सिक्किम का पहला चोग्याल(राजा) घोषित किया गया।सिक्किम के इतिहास में कई महत्वपूर्ण घटनाएं हुई हैं जो आदिवासी शासकों, ब्रिटिश सत्ता और इस राज्य के भारत में शामिल होने से संबंधित हैं। 17वीं सदी में लेपाचाओं के यहां हमले और सत्ता हासिल करने के पहले इस राज्य में मोन, नाओंग और चांग का शासन था। उस समय में सिक्किम में राजशाही थी और यहां का सबसे प्रमुख साम्राज्य चोग्याल था। जब ब्रिटिश भारत में आए तब सिक्किम के राजवंश से उनका सिक्किम के लिए खतरा बनते जा रहे नेपालियों और भूटानियों के विरुद्ध मिलकर लड़ने का गठबंधन हुआ। सन् 1947 में भारत को आजादी मिलने के बाद सिक्किम भारत के अधीन एक संरक्षित राज्य बन गया। सिक्किम में रहने वाले लोग लोकतंत्र के ज़रिए ज्यादा राजनीतिक आजादी चाहते थे, इसलिए 23 अप्रैल, 1975 को सिक्किम को अलग राज्य बनाने का संविधान संशोधन विधेयक लोकसभा में पेश किया गया। उसी दिन इसे 299-11 के मत से पास कर दिया गया। वहीं राज्यसभा में यह बिल 26 अप्रैल को पास हुआ और इस प्रकार 15 मई, 1975 को सिक्किम आधिकारिक रूप से भारत का 22वां राज्य बन गया।

सिक्किम का भूगोल (Sikkim ‎Geography):

यह राज्य भौगोलिक तौर पर 27.33 डिग्री उत्तर और 88.62 डिग्री पूर्व में स्थित है। यह शहर 5,500 फीट की उंचाई पर शिवालिक की पहाडि़यों पर स्थित है। गंगटोक से दुनिया के तीसरे सबसे उंचे पर्वत कंचनजंगा का नजारा देखा जा सकता है। सिक्किम का कुल इलाका लगभग 7,000 वर्ग किलोमीटर का है। इस राज्य का ज्यादातर इलाका पहाड़ी है। राज्य मे लगभग 28 पर्वत चोटियाँ, 21 हिमानी और 200 से अधिक झीलें है। तीस्ता नदी को सिक्किम की जीवन रेखा कहा जाता है। राज्य की अन्य नदियां रंगीत, रांगपो और लाचुंग है। सिक्किम का राजकीय फूल ‘येरूम लेयी’ है। सिक्किम का राजकीय पक्षी ‘रक्त तीतर’ है। सिक्किम का राजकीय पेड ‘रोडोडेंड्रन’ है। सिक्किम का राजकीय पशु ‘रेड पांडा’ है।

सिक्किम की जलवायु (Sikkim ‎Climate):

सिक्किम की जलवायु दक्षिण में शीतोष्ण कटिबंधी है, तो वहीं राज्य के उत्तर हिस्से में टुंड्रा प्रकार की जलवायु है। सिक्किम में पांच ऋतुएं आती हैं: सर्दी, गर्मी, बसंत, पतझड़ और वर्षा ऋतु। सिक्किम में गर्मियों के मौसम में औसत तापमान 18 डिग्री से 28 डिग्री के बीच में रहता है। टुंड्रा प्रकार की जलवायु के कारण राज्य का उत्तरी भाग वर्ष के लगभग 4 महीने बर्फ से ढंका रहता है और रात का तापमान शून्य डिग्री तक चला जाता है। राज्य में औसत वार्षिक वर्षा 325 सेमी तक होती है।

सिक्किम की सरकार और राजनीति (Sikkim ‎Government and Politics):

सिक्किम राज्य में विधानसभा की 32 सीटें, लोक (संसदीय) सभा की 01 सीट और राज्य सभा की 01 सीट हैं। सिक्किम उच्च न्यायालय देश का सबसे छोटा उच्च न्यायालय है।

राज्य की प्रमुख राजनीतिक दलों में सिक्किम लोकतांत्रिक फ्रंट, सिक्किम नेशनल लिबरेशन फ्रंट, सिक्किम संग्राम परिषद, भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) और भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस हैं।

राज्य में वर्तमान में भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस की सरकार है। सिक्किम के वर्तमान मुख्‍यमंत्री पवन कुमार चामलिंग है। उन्होंने 12 दिसम्बर 1994 को पद संभाला था। सिक्किम के मुख्‍यमंत्री बनने वाले प्रथम व्यक्ति भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस के काजी लेन्डुप दोरजी थे। उन्होंने 16 मई 1975 को राज्य के मुख्यमंत्री के रूप में शपथ ली थी।

सिक्किम के वर्तमान राज्यपाल श्रीनिवास दादासाहेब पाटील है। श्रीनिवास दादासाहेब पाटील ने जुलाई, 2013 को सिक्किम के राज्यपाल के रूप में शपथ ग्रहण की है।

सिक्किम की अर्थव्यवस्था (Sikkim ‎Economy):

वर्ष 2004 के आंकड़ों के अनुसार सिक्किम का सकल घरेलू उत्पाद $478 मिलियन का अनुमान लगाया गया है।

कृषि (Sikkim ‎Agriculture):

राज्य की अर्थव्यवस्था का मुख्य आधार कृषि है।यहाँ सीढ़ीदार खेतों में पारम्परिक पद्धति से कृषि की जाती है। यहाँ की प्रमुख फ़सलें मक्का, चावल, गेहूँ, आलू, बड़ी इलायची, अदरक और संतरा हैं। देश में बड़ी इलायची का सबसे अधिक उत्पादन करने वाला राज्य सिक्किम है। इसके अधिकांश भू-भाग में इलायची का उत्पादन होता है। यहाँ की अन्य नकदी फ़सलें अदरक, आलू, संतरा तथा गैर-मौसमी सब्जियाँ हैं।

खनिज पदार्थ (‎Minerals):

राज्य में कई प्रकार के खनिज पदार्थ भी पाए जाते है, जिनमे मुख्य रूप से तांबा, क्वार्टजाइट, तालक, डोलोमाइट और चूना पत्थर, अभ्रक, संगमरमर, बेस मेटल, ग्रेफाइट, सिलिमेनाइट, थर्मल स्प्रिंग्स, कोयला आदि शामिल है।

उद्योग (‎Industry):

सिक्किम के लेप्चा लोग बांस के सामान, लकड़ी के सामान, धागा बुनाई और ग़लीचे की बुनाई परंपरागत तरीकों से बहुत ही कुशलता से करते हैं। राज्य के प्रमुख उद्योगों में शराब उद्योग, चाय उद्योग, बड़ी इलायची उद्योग, खाद्य प्रसंस्करण, अदरक और हल्दी उद्योग शामिल है।

सिक्किम की जनसंख्या और जनजातियां (Sikkim ‎Population and Tribes):

वर्ष 2011 की जनगणना के अनुसार सिक्किम की आबादी 610,577 लाख है। जिसमे पुरुषों की जनसंख्या 323,070 हजार और महिलाओं की जनसंख्या 287,507 हजार है। लेपचा इस जगह के मूल और देशी निवासी हैं। तिब्बत के खाम जिले से आए भूटिया सिक्किम के दूसरे जातीय समूह हैं। सिक्किम का तीसरा सबसे बड़ा जातीय समूह नेपाली है और राज्य में इनकी जनसंख्या भी बहुत है। राज्य के उत्तरी और पूर्वी हिस्से में तिब्बतियों के कुछ वंश भी पाए जाते हैं।

सिक्किम में मुख्य रूप से दो ही धर्म व्यापक हैं जिसमे हिंदू धर्म और बौद्ध धर्म शामिल है। हालांकि राज्य के कुछ भाग में ईसाई समुदाय के लोग भी है जो पहले लेपचा मूल के थे पर बाद में औपनिवेशक ब्रिटिश द्वारा धर्म परिवर्तित हो गए। उनसे भी कम संख्या में यहां पर  मुस्लिम समुदाय के लोगों की संख्या सबसे कम है।

शिक्षा (‎Education):

वर्ष 2011 की जनगणना के अनुसार सिक्किम की साक्षरता दर 87.75% है। राज्य में लगभग 1545 सरकारी विद्यालय और 18 निजी विद्यालय हैं जो कि मुख्यतः नगरों में हैं।  इनमें से आधे से ज्यादा सरकार की मदद से और बाकी निजी संस्थाओं द्वारा चलाए जाते हैं। उच्च शिक्षा के लिये सिक्किम में लगभग 12 महाविद्यालय तथा अन्य विद्यालय हैं

सिक्किम की भाषा (Sikkim ‎Languages):

सिक्किम की प्रमुख भाषा नेपाली है। सिक्किम में प्रायः अंग्रेज़ी और हिन्दी भी बोली और समझी जाती हैं। दूसरी सबसे ज्यादा बोली जाने वाली भाषा भूटिया है, जिसका तिब्बती-बर्मा परिवार से मजबूत नाता है। यहाँ की अन्य भाषाओं मे भूटिया, जोङ्खा, ग्रोमा, गुरुंग, लेप्चा, लिम्बु, मगर, माझी, मझवार, नेपालभाषा, दनुवार, शेर्पा, सुनवार, तामाङ, थुलुंग, तिब्बती और याक्खा शामिल हैं।

सिक्किम की संस्कृति (Sikkim ‎Culture):

लेपचाओं और उनके साथ मिले हिंदू धर्म और बौद्ध धर्म की मिश्रित परंपरा के कारण सिक्किम की सांस्कृतिक विरासत बहुत समृद्ध है। राज्य में प्रायः घरों एवं भोजनालयों में, गैर-शहरी इलाक़ों में पाश्चात्य रॉक संगीत सुनाई दे जाता है। हिन्दी संगीत ने भी लोगों में अपनी जगह बनाई है। विशुद्ध नेपाली रॉक संगीत, तथा पाश्चात्य संगीत पर नेपाली काव्य भी काफ़ी प्रचलित हैं। फुटबॉल एवं क्रिकेट यहाँ के सबसे लोकप्रिय खेल हैं। सिक्किम में मठ के आंगन में लामाओं का किया जाने वाला मुखौटा नृत्य उत्तर-पूर्व भारत का सबसे रंगीन नृत्य है। राज्य के अन्य लोक नृत्यों में लु खंगथमो, रेचुंगमा, मारुनी, लिम्बु या सुब्बा लोक नृत्य, लोक गीत शामिल है।

सिक्किम की वेशभूषा या पहनावा (Sikkim ‎Costumes):

सिक्किम के पहनावा देश के अन्य राज्यों से काफी भिन्न है। राज्य में स्त्रियाँ कमर से ऊपर ब्लाउज पहनती है और सिर को एक प्रकार के दुपट्टे से ढकती है। अधिकतर पुरुष चुस्त मिरजाईनुमा ऊंचा कुरता पहनते है। वे कमर मे कपड़ा बांधे रहते है। भोटिया स्त्री पुरुष लंबा चोंगा पहनते है। यहाँ की सभी जातियों की स्त्रियाँ सोना, फिरोजी, पत्तर और तरह तरह के मोती की लडिय़ों के आभूषण पहनती है।

सिक्किम के मुख्य त्यौहार (Sikkim ‎Famous Festivals):

लोसर राज्य का प्रमुख त्यौहार है। सिक्किम के सभी धर्मों के लोग के लोग अपने त्यौहारों को मनाते है। हिन्दु धर्म लोग के होली, दशहरा, दीपावली, गणेश चतुर्थी आदि त्यौहार मनाते है। बौद्ध धर्म के लोग ल्होसार, लूसोंग, सागा दावा, ल्हाबाब ड्युचेन, ड्रुपका टेशी और भूमचू आदि त्योहार हैं। अन्य त्योहारों में साकेवा (राय), सोनम लोचर (गुरुंग), बराहिमज़ोग (मागर), आदि शामिल हैं।

सिक्किम का खानपान (Sikkim ‎Food):

सिक्किम में सुअर का माँस यहाँ का लोकप्रिय लघु आहार है। सिक्किम के अन्य व्यंजनों में सुकाको माचा, गुच्ची, सिद्र और सुकुटी, ढेरो, फुकऔरह, मोमो, पक्कू, कोदो को रोटी, फापर को रोटी, चमबेरय, आचार, सु ज़ूम, वचिपा, एलम, फोल्डोग, फलकी, छवेला, क्वाँटी, चतमरी आदि शामिल हैं। थुक्पा, चाउमीन, थान्तुक, फाख्तु, ग्याथुक और वॉनटन आदि नूडल पर आधारित व्यंजन हैं। राज्य में मदिरा पर राज्य उत्पाद शुल्क कम होने के कारण बीयर, विस्की, रम और ब्रांडी इत्यादि का सेवन किया जाता है।

सिक्किम के पर्यटन स्थल (Sikkim ‎Tourist Places):

सिक्किम भारत में पर्यटन का प्रमुख केन्द्र है। सिक्किम में अपनी प्राकर्तिक सुदरता के कारण बहुत सारे दर्शनीय पर्यटन स्थल है। यहां के मंदिर और दूसरे धार्मिक स्थल, संग्रहालय, राष्ट्रीय पार्क भी दुनिया भर के सैलानियों को अपनी ओर आकर्षित करते है। यहाँ के महत्‍वपूर्ण पर्यटन स्थलों में गंगटोक, पेलिंग, युमथांग घाटी, ताशीदिंग मठ, फोडोंग मठ, कंचनजंगा पर्वत चोटी, छंगू झील, पेलिंग, कंचनजंगा राष्ट्रीय उद्यान, फम्बोंग ल्हो वन्यजीव अभयारण्य, मेनम वन्यजीव अभयारण्य, एंचेय मठ, टोम्गो झील, गुरुदौंगमर लेक, दार्जिलिंग, कलिंपोंग, सिलिगुड़ी, ताशीदिंग मठ और ठाकुरबाड़ी आदि शामिल है।

सिक्किम के जिले (Sikkim ‎Districts):

सिक्किम राज्य में कुल 04 जिले हैं, जनसँख्या के आधार पर पूर्व सिक्किम राज्य का सबसे बड़ा जिला जबकि क्षेत्रफल के आधार पर सबसे बड़ा जिला पश्चिम सिक्किम है।

सिक्किम में निम्नलिखित 04 जिले हैं:-  पूर्व सिक्किम, उत्तरी सिक्किम, दक्षिण सिक्किम और पश्चिम सिक्किम हैं।

This post was last modified on July 27, 2019 9:16 pm

Recent Posts

11 अगस्त का इतिहास भारत और विश्व में – 11 August in History

आईये जानते हैं भारत और विश्व इतिहास में 11 अगस्त यानि आज के दिन की महत्वपूर्ण घटनाओं के बारे में।…

August 11, 2020

भारतीय उपग्रहों की सूची

भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान का इतिहास: भारतीय अन्तरिक्ष कार्यक्रम डॉ विक्रम साराभाई की संकल्पना है, जिन्हें भारतीय अन्तरिक्ष कार्यक्रम का जनक…

August 10, 2020

डेंगू निरोधक दिवस (10 अगस्त)

डेंगू निरोधक दिवस (10 अगस्त): (10 August: Dengue Prevention Day in Hindi) डेंगू निरोधक दिवस कब मनाया जाता है? प्रतिवर्ष '10…

August 10, 2020

10 अगस्त का इतिहास भारत और विश्व में – 10 August in History

आईये जानते हैं भारत और विश्व इतिहास में 10 अगस्त यानि आज के दिन की महत्वपूर्ण घटनाओं के बारे में।…

August 10, 2020

09 अगस्त का इतिहास भारत और विश्व में – 9 August in History

आईये जानते हैं भारत और विश्व इतिहास में 09 अगस्त यानि आज के दिन की महत्वपूर्ण घटनाओं के बारे में।…

August 9, 2020

08 अगस्त का इतिहास भारत और विश्व में – 8 August in History

आईये जानते हैं भारत और विश्व इतिहास में 08 अगस्त यानि आज के दिन की महत्वपूर्ण घटनाओं के बारे में।…

August 8, 2020

This website uses cookies.