पुडुचेरी


पुडुचेरी सामान्य ज्ञान (West Bengal General Knowledge):

पुडुचेरी देश के 7 केंद्र-शासित प्रदेशों में से एक है। इस प्रदेश के पूर्व में बंगाल की खाड़ी और शेष तीन तरफ तमिलनाडु स्थित है। पुडुचेरी का कुल क्षेत्रफल 497 वर्ग किलोमीटर है। पुडुचेरी का प्राचीन नाम पांडिचेरी था, जिसे वर्ष 2006 के सितम्बर माह में बदलकर पुडुचेरी कर दिया गया। इसके नाम का अर्थ नई बस्ती या नया शहर है। केंद्र शासित प्रदेशो में से यह प्रदेश क्षेत्रफ़ल की दृष्टि से तीसरे स्थान पर है।

पुडुचेरी का इतिहास (West Bengal History):

यहाँ पर प्राचीन काल में कई राजवंशों जैसे चोल, पंड्या, विजयनगर और मदुरई सल्तनत ने राज किया था। भारत के क्षेत्र पर लगभग 138 वर्षों तक फ्रांसीसियों ने शासन किया था और आज भी यहां फ्रांसीसी वास्तुशिल्प और संस्कृति देखने को मिल जाती है। प्राचीन काल में यह क्षेत्र फ्रांस के साथ होने वाले व्यापार का मुख्य केंद्र था। 01 नवंबर 1954 को भारत में इसका विलय हो गया और वर्ष 1963 में एक केंद्र शासित प्रदेश बन गया।

पुडुचेरी का भूगोल (West Bengal Geography):

पुदुच्चेरी चार अलग-अलग (बिना जुड़े) जिले से मिलकर बना है। पुडुचेरी भारत के पूर्वी तट पर चैन्नई के दक्षिण में 180 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है। कराईकल पूर्वी तट पर पुडुचेरी से 150 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है। पुडुचेरी का राजकीय फूल ‘कैनन’ है। पुडुचेरी का राजकीय पक्षी ‘एशियाई कोयल’ है। पुडुचेरी का राजकीय पशु ‘गिलहरी पशु’ है। पुडुचेरी का राजकीय पेड ‘बेल’ है।

पुडुचेरी की जलवायु (West Bengal Climate):

पुडुचेरी की जलवायु गर्म और आर्द्र प्रकार की है। यहाँ का अधिकतम तापमान 31.5 डिग्री सेल्सियस और न्यूनतम तापमान 23.9 डिग्री सेल्सियस तक रहता है। यहां पर औसत वार्षिक बारिश 130 सेंमी. तक होती है। यहां जुलाई से अगस्त और नवंबर से जनवरी तक उत्तर-पश्चिमी मानसून बरसता है। यहाँ पर मार्च से जुलाई तक गर्मियों का मौसम रहता है।

पुडुचेरी की सरकार और राजनीति (West Bengal Government and Politics):

पुडुचेरी में जिला सरकार मुख्यमंत्री की नियुक्ति करती है, जोकि विधानसभा द्वारा नामांकित होता है। वह सभी प्रकार के सरकारी कार्यों की देखरेख करता है और साथ ही कैबिनेट व सिविल सेवाओं को भी संभालता है। अन्य राज्यों की तरह पुडुचेरी की सरकार में भी एक विधानसभा है, जिसमें 30 सदस्य होते हैं। केंद्र शासित प्रदेश पुडुचेरी में सिर्फ एक लोकसभा क्षेत्र है। यहां के दो प्रमुख राजनीतिक दल भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस और भारतीय जनता पार्टी (भाजपा)  है।

पुडुचेरी के वर्तमान मुख्यमंत्री वी॰ नारायणस्वामी है। उन्होंने जून 2016 को मुख्यमंत्री के रूप में शपथ ग्रहण की थी। पुडुचेरी के वर्तमान उप-राज्यपाल (प्रशासक) किरण बेदी है, उन्होंने वर्ष 2016 में पुडुचेरी के उप-राज्यपाल के रूप में शपथ ग्रहण की थी।

पुडुचेरी की अर्थव्यवस्था (West Bengal Economy):

कृषि (Agriculture):

पुडुचेरी के लगभग 24.37% लोग कृषि और उससे जुड़े व्‍यवसायों में लगे हुए है। धान यहाँ की मुख्‍य फ़सल है। दलहन उत्‍पादन में यह राज्य दूसरे नंबर पर है। यहां की अन्य प्रमुख फसलें चावल, दाल, नारियल, सुपारी, मसाला, मूंगफली और मिर्च हैं। पुडुचेरी में कई प्रकार की मिट्टी पाई जाती है जिनमें मुख्यतः लाल मिट्टी, काली मिट्टी और तटीय जलोढ़ शामिल है, जो भिन्न-भिन्न प्रकार की खेती के लिए बहुत लाभदायक सिद्ध होती है।

उद्योग (Industry):

पुडुचेरी में कई प्रकार के लघु, बड़े और मध्यम स्तर के उद्योग हैं। पुडुचेरी के प्रमुख उद्योगों में कपड़ा, कंप्यूटर हार्डवेयर, इलेक्ट्रॉनिक्स, प्लास्टिक, साइकिल पार्ट्स, साबुन, चावल की भूसी का तेल, सूती धागा, हस्तशिल्प से तैयार चमड़े की वस्तुए, मिट्टी के बरतन, हाथ से तैयार काग़ज़, पुराना औपनिवेशिक फर्नीचर आदि प्रमुख हैं।

पुडुचेरी की जनसंख्या(West Bengal Population):

वर्ष 2011 की जनगणना के अनुसार पुडुचेरी की जनसंख्या लगभग 1,244,464 है। पुडुचेरी की जनसंख्या का घनत्व 2,598 वर्ग प्रति कि.मी. है। यहां का लिंग अनुपात प्रति 1000 पुरुषों के मुकाबले 1031 महिलाओं का है।

शिक्षा (Education):

सन् 2011 की जनगणना के अनुसार पुडुचेरी की साक्षरता दर 86.5% है। बाकी देश के मुकाबले इस केंद्र शासित प्रदेश की आबादी उच्च शिक्षित है। यहाँ पर बहुत से शिक्षण है, जिनमें मुख्य रूप से पुडुचेरी इंजीनियरिंग कालेज, पुडुचेरी यूनिवर्सिटी, इंदिरा गांधी मेडिकल कॉलेज एवं अनुसंधान संस्थान, पशु चिकित्सा शिक्षा एवं अनुसंधान संस्थान राजीव गांधी, शिक्षा श्री अरबिंदो इंटरनेशनल सेंटर, विवेकानंदा कॉलेज, भारतीय प्रबंधन संस्थान, आचार्या  शिक्षा मंदिर, शारदा गंगाधरन कॉलेज और इंदिरा गांधी मेडिकल कॉलेज एवं अनुसंधान संस्थान आदि शामिल है।

पुडुचेरी की संस्कृति और वेशभूषा: (West Bengal Culture and Costumes):

पुडुचेरी की संस्कृति बहुराष्ट्रीय और महानगरीय प्रकृति की है। विभिन्न संस्कृतियों के प्रभाव के कारण यह छोटी सी जगह एक बहुत आकर्षक बहुसांस्कृतिक शहर में बदल गई है जिसकी अपनी विशेषताएं हैं। भारत के अन्य राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशो की तरह ही यहाँ पर भी हिंदू, क्रिश्चियन, मुस्लिम, जैन, सिख और बौद्ध धर्म के लोग निवास करते है। पुडुचेरी का लोकप्रिय नृत्य पोडिकाजहि (Podikazhi) है।पूर्व तथा पश्चिम संस्‍कृति से प्रभावित पुडुचेरी में हस्‍तशिल्‍प से तैयार चमड़े की वस्‍तुएं, मिट्टी के बरतन, हाथ से तैयार कागज, धूप तथा पुराना औपनिवेशिक फर्नीचर आदि अनोखी वस्‍तुएं मिलती हैं।

पुडुचेरी की भाषा (West Bengal Languages):

तमिल, तेलुगु, मलयालम और फ्रांसीसी यहाँ की आधिकारिक भाषाएँ है। यहां के ज्यादातर निवासी अंग्रेजी, तमिल, फ्रेंच, तेलगु और मलयालम भाषा बोलते हैं। यहां के स्कूलों में तमिल, मलयालम और तेलगु के साथ साथ अंग्रेजी और फ्रेंच के माध्यम से भी पढ़ाया जाता है।

पुडुचेरी का खानपान (West Bengal Food):

पुडुचेरी के मुख्य व्यंजनों में सब्जियों की करी, कोकोनट करी, सोया डोसा, इटालियन बेक्ड बीन, अस्साद, तंदूरी पोटेटो, स्टफ्ड कैबेज और पोडनलांगकल आदि काफी लोकप्रिय हैं।

पुडुचेरी के मुख्य त्यौहार (West Bengal Famous Festivals):

यहाँ पर पुडुचेरी में सभी धर्मों (हिंदु, मुस्लिम, सिख और ईसाई) के लोग अपने-2 त्यौहार बड़ी धूमधाम से मनाते हैं। यहाँ के मुख्य त्यौहारों में पोंगल, मासी मगम , गुड फ्राइडे, अक्षय तृतीया और बेस्टाइल डे आदि शामिल हैं।

पुडुचेरी के पर्यटन स्थल (West Bengal Tourist Places):

भारत के सबसे खूबसूरत शहरों में से एक माने जाने वाले पुडुचेरी में दुनिया भर के सैलानी हर साल आते है। यहाँ के अन्य प्रमुख पर्यटन स्थलों में बोटैनिकल गार्डन, पेराडाइज बीच, ऑरोविल्ले बीच, पार्क स्मारक, अरिकमेडु, आनंद रंगा पिल्लई महल, डुप्लेक्स की प्रतिमा, विल्लन्नूर, चिदम्‍बरम, शिंजी, फ्रेंच वार मेमोरियल, पॉन्डिचेरी में म्युजियम, श्री गोकिलंबल तिरुकामेश्वर मंदिर, वरदराजा पेरूमल मंदिर और पंचवटी पंचमुख अंजनेय मंदिर, चिदम्‍बरम, शिंजी, अरिकमेडु, ओसुदू झील, सैर समुद्र तट, शांति समुद्र तट, स्वर्ग(पेराडाइज) समुद्र तट, ऑरोविले समुद्र तट आदि काफी प्रसिद्ध हैं।

पुडुचेरी के जिले (West Bengal Districts):

पुडुचेरी में कुल 04 जिले हैं। साल 2011 की जनगणना के अनुसार जनसँख्या के आधार पर पुडुचेरी का सबसे बड़ा जिला उत्तर पश्चिम पुडुचेरी है।

पुडुचेरी में 04 जिले निम्नलिखित हैं:  पुडुचेरी, कराईकल, यनम और माहे।

Spread the love, Like and Share!

Comments are closed