पंजाब

पंजाब सामान्य ज्ञान (Punjab General Knowledge):

पंजाब देश की उत्तर-पश्चिम दिशा में स्थित एक राज्य है। चंडीगढ़ पंजाब और हरियाणा की संयुक्त प्रशासनिक राजधानी है। राज्य की सीमायें पश्चिम में पाकिस्तान, उत्तर में जम्मू और कश्मीर, उत्तर-पूर्व में हिमाचल प्रदेश और दक्षिण में हरियाणा और राजस्थान से लगती हैं। पंजाब का कुल क्षेत्रफल 50,362 वर्ग किलोमीटर है। राज्य का सबसे बड़ा शहर लुधियाना हैं। पंजाब के अन्य प्रमुख नगरों में अमृतसर, लुधियाना, जालंधर, पटियाला, नवांशहर, आनंदपुर साहिब और बठिंडा हैं।

पंजाब शब्द का अर्थ (Definition of Punjab Word):

पंजाब’ शब्द फारसी के ‘पंज’ जिसका अर्थ होता है ‘पांच’ और ‘आब’ जिसका अर्थ होता है ‘पानी’ के मेल से बना है जिसका शाब्दिक अर्थ ‘पांच नदियों का क्षेत्र’ है। इसलिए इसे पाँच नदियों की भूमि भी कहा जाता है। ये पांच नदियां हैं- सतलुज, व्यास, रावी, चिनाब और झेलम।

पंजाब का इतिहास (Punjab History):

प्राचीन काल में पंजाब भारत और ईरान का हिस्सा हुआ करता था। पंजाब में मौर्य, बैक्ट्रियन, यूनानी, शक, कुषाण, गुप्त जैसे अनेकों राजवंशों ने शासन किया था। मध्यकाल के दौरान पंजाब मुस्लिम शासकों के अधीन रहा। प्राचीन पंजाब पर सबसे पहले गज़नवी, ग़ोरी, ग़ुलाम वंश, ख़िलजी वंश, तुग़लक, लोदी और मुग़ल वंश के शासकों ने शासन किया था। सन 1849 में अंग्रेजों और सिखों के बीच दो निष्फल युद्धों के बाद पंजाब ब्रिटिश शासन के अधीन हो गया। स्वतंत्रता प्राप्ति के बाद वर्ष 1947 में भारत के विभाजन के समय पंजाब पर सबसे ज्यादा असर हुआ। सबसे ज्यादा विनाश और नुकसान उत्तर भारत के इस राज्य को ही हुआ। पूर्वी पंजाब की आठ रियासतों को मिलाकर नया राज्य ‘पेप्सू’ बनाया गया और ‘पूर्वी पंजाब राज्य संघ, पटियाला’ का निर्माण करके पटियाला को इसकी राजधानी बनाया गया, लेकिन बाद में साल 1956 में ‘पेप्सू’ को पंजाब में मिला दिया गया। इस प्रकार 01 नवम्बर, 1956 को आधिकारिक रूप से पंजाब राज्य की स्थापना हुई थी।

पंजाब का भूगोल (Punjab Geography):

पंजाब देश के उत्तर-पश्चिमी भाग में स्थित है। इसका कुल क्षेत्रफल 50,362 वर्ग किलोमीटर है। राज्य के अक्षांशीय और लंबवत विस्तार क्रमशः 29.30 डिग्री उत्तर से 32.32 डिग्री उत्तर, और 73.55 डिग्री पूर्व से 76.50 डिग्री पूर्व है। राज्य का ज्यादातर क्षेत्र जलोढ़ और उपजाउ मैदानी भाग है।पंजाब पाँच नदियों की भूमि भी कहा जाता है। ये पांच नदियां सतलज, रावी, ब्यास, चिनाब और झेलम हैं। इस प्रांत का दक्षिण-पश्चिम भाग अर्द्ध शुष्क है और राज्य के आखिर में जाकर थार रेगिस्तान में मिलता है। पंजाब का राजकीय पक्षी ‘उत्तरी बाज’ है। पंजाब का राजकीय पेड ‘शीशम’ है। पंजाब का राजकीय पशु ‘कृष्णमृग’ है।

पंजाब की जलवायु (Punjab Climate):

राज्य की जलवायु अंतर्देशीय उपोष्ण कटिबंधीय अवस्थिति के कारण अर्द्ध शुष्क से अर्द्ध नम के बीच विविधतापूर्ण है। गर्मी का मौसम बेहद गर्म होता है और जून में औसत तापमान 34° से.  से 45° से. तक पहुँच जाता है। यहाँ शीत ऋतु में सर्दी भी काफ़ी पड़ती है। जनवरी में औसत तापमान 13° से. होता है और कभी-2 जीरो डिग्री तक भी चला जाता है। राज्य में मॉनसून का मौसम जुलाई से सितम्बर के बीच होता है। पंजाब में अधिकतम वार्षिक वर्षा 356 मिमी. से 1,245 मिमी. तक होती है।

पंजाब की सरकार और राजनीति (Punjab Government and Politics):

देश के अन्य राज्यों की भांति पंजाब सरकार की भी तीन शाखाएं हैं – कार्यकारी, न्यायपालिका और विधायी। पंजाब की सरकार भी संसदीय प्रणाली का पालन करती है और मुख्यमंत्री सरकार का प्रमुख होता है। पंजाब में 117 विधान सभा सदस्य, 13 लोक सभा सदस्य और 7 राज्य सभा सदस्य हैं।

पंजाब के वर्तमान मुख्‍यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह है। पंजाब के मुख्‍यमंत्री बनने वाले प्रथम व्यक्ति गोपी चंद भार्गव थे। उन्होंने 15 अगस्त 1947 राज्य के मुख्यमंत्री के रूप में शपथ ली थी।

पंजाब के वर्तमान राज्यपाल कप्तान सिंह सोलंकी है। कप्तान सिंह सोलंकी ने 28 जुलाई 2014 को पंजाब के राज्यपाल के रूप में शपथ ग्रहण की है।

पंजाब की अर्थव्यवस्था (Punjab Economy):

वर्ष 2004 के अनुसार पंजाब का अनुमानित कुल सकल घरेलू उत्पाद 27 अरब डॉलर है। राज्य की अर्थव्यवस्था में उत्पादन और वाणिज्यिक कृषि की प्रमुखता है और यहाँ विभिन्न लघु व मध्यम आकार के उद्योग हैं। भारत के मुख्य राज्यों में से पंजाब में प्रति व्यक्ति आय सबसे अधिक है। भारत के कुल क्षेत्रफल के मात्र 1.6 प्रतिशत भू-भाग वाला पंजाब लगभग भारत के कुल अन्न उत्पादन का 12 प्रतिशत हिस्सा पैदा करता है।

कृषि (Punjab Agriculture):

अपने भरपूर जल स्रोतों और उपजाउ मिट्टी के कारण पंजाब एक कृषि प्रधान राज्य है। यहाँ की भूमि बहुत ही उपजाऊ है। यहाँ गेंहू और चावल की फ़सल मुख्य रूप से होती है्। गेहूँ और चावल की खेती लगभग तीन-चौथाई कृषि क्षेत्र में होती है। अन्य वाणिज्यिक फसलों में कपास, गन्ना, आलू, मक्का, मूंगफली, चना, बाजरा, दलहन और तिलहन हैं। पिछले दो से तीन दशकों में पंजाब ने गेहूँ का 40 से 50 प्रतिशत अधिक उत्पादन करके ‘देश की खाद्य टोकरी’ और ‘भारत का अनाज भंडार’ होने का ख़िताब ले लिया है। पंजाब का विश्व के कुल उत्पादन में, 1% चावल, 2% गेहूँ और कपास में 2% का योगदान है। राज्य में धीरे-धीरे बागबानी, फूलों की खेती, मुर्गीपालन और डेयरी उद्योगों का भी विकास हो रहा है। आनंदपुर साहब में विश्व की सबसे बड़ी अनाज मंडी है।

 

पंजाब की जनसंख्या या आबादी (Punjab Population):

सन् 2011 की जनगणना के अनुसार पंजाब की जनसंख्या 2,77,43,338 है। राज्य की कुल आबादी का करीब 20% हिस्सा देश के दूसरे हिस्सों से आकर पंजाब में बसा है।राज्य में सिख आबादी कुल जनसंख्या के 60% से भी ज्यादा है। राज्य की आबादी में शामिल कुछ अन्य समुदायों में हिंदू, जैन, मुस्लिम, ईसाई और अन्य हैं। राज्य के सिख समुदाय का अभिन्न अंग जाट सिख हैं।

शिक्षा (Education):

पंजाब की वर्तमान साक्षरता दर 77%त है। राज्य में 6 से 11 वर्ष तक के बच्चों के लिए प्राथमिक शिक्षा अनिवार्य है।

पंजाब की संस्कृति और वेशभूषा (Punjab Culture and Costumes):

पंजाब प्रांत की संस्कृति विविध है। राज्य की संस्कृति में पुरातन सभ्यता की बहुआयामी विरासत साफ झलकती है। भांगड़ा, झूमर और सम्मी यहाँ के लोकप्रिय नृत्य हैं। पंजाब की स्थानीय नृत्य शैली गिद्दा, महिलाओं की विनोदपूर्ण गीत-नृत्य शैली है। सिक्खों के धार्मिक संगीत के साथ-साथ उपशास्त्रीय मुग़ल शैली भी लोकप्रिय है, जैसे खयाल, ठुमरी, गजल और कव्वाली।

पंजाब की भाषा (Punjab Languages):

पंजाब की राजभाषा पंजाबी है। पंजाबी भाषा से कई बोलियां जुड़ी हैं। भारतीय पंजाब के लगभग 25% लोग हिन्दी बोलती है, विशेष तौर पर हरियाणा और राजस्थान से सटे इलाकों में। पंजाबी में बोली जाने वाली कुछ खास बोलियों में माझी, पुआधी, मालवी और दोआबी शामिल हैं। राज्य की सबसे प्रमुख बोली माझी है। अपनी पहली भाषा के तौर पर पंजाबी बोलने वाले लोगों में 93% से ज्यादा भारत और पाकिस्तान में रहते हैं।

पंजाब के मुख्य त्यौहार (Punjab Famous Festivals):

राज्य के त्यौहारों की कुछ खास बातों में इनके मशहूर नृत्य रुप, मजेदार लोककथाएं और भड़कीले कपड़े आदि शामिल हैं। पंजाब में दशहरा, दीपावली, बैसाखी और विभिन्न गुरुओं तथा संतों की वर्षगांठ-मनाए जाते हैं।

पंजाब का खानपान (Punjab Food):

पंजाब के मुख्य खानों में मक्खन से बनी चीजें, सब्जी भाजी और मटन के व्यंजन काफी प्रसिद्ध हैं। यहाँ के प्रमुख व्यंजनो में सरसों का साग, मक्के की रोटी, राजमा- चावल, तंदूरी मुर्ग़ा, दाल मखनी और छोले भटूरे आदि भी शामिल है।

पंजाब के पर्यटन स्थल (Punjab Tourist Places):

यह धरती पांच नदियों और सबसे महत्वपूर्ण सिख धर्मस्थल की है। अमृतसर का स्वर्णमंदिर, दुर्गियाना मंदिर, जलियाँवाला बाग़, स्टील सिटी- गोविन्दगढ़ में, आनंदपुर साहब में तख़्त श्री केशगढ़ साहिब, खालसा सांस्कृतिक परिसर, भाखड़ा-नांगल बांध, पटियाला में क़िला अंदरून, मोतीबाग़ राजमहल, हरिके पट्टन में आर्द्र भूमि, पुरातात्विक महत्त्व का संगोल और छतवीर चिडियाघर, आम ख़ास बाग़ में मुग़लकालीन स्मारक परिसर और सरहिंद में अफ़ग़ान शासकों की क़ब्रें और शेख़ अहमद का रोज़ा शरीफ, जालंधर में सोदाल मंदिर और महर्षि वाल्मीकि का स्मारक आदि मुख्य हैं।

पंजाब के जिले (Punjab Districts):

पंजाब में कुल 22 ज़िले है, जनसँख्या के आधार पर लुधियाना राज्य का सबसे बड़ा है जबकि क्षेत्रफल के आधार पर सबसे बड़ा जिला फ़िरोज़पुर है।

पंजाब में निम्नलिखित 22 जिले हैं:-

अमृतसर, कपूरथला, गुरदासपुर, जालंधर, तरनतारन, पटियाला, पठानकोट, फ़ज़िलका, फतेहगढ़ साहिब, फरीदकोट, फिरोजपुर, बठिंडा, बरनाला, मनसा, मुक्तसर, मोगा, रूपनगर, लुधियाना, शहीद भगत सिंह नगर, संगरूर, साहिबजादा अजीत सिंह नगर और होशियारपुर।

Spread the love, Like and Share!

Comments are closed