भारत के प्रमुख धर्म, पूजा स्थल एवं उनके ग्रंथ

भारत के प्रमुख धर्म,पूजा स्थल एवं सम्बंधित पुस्तक (Major Religions of India in Hindi)

भारत एक ऐसा देश है जहां धार्मिक विविधता और धार्मिक सहिष्णुता को कानून तथा समाज, दोनों द्वारा मान्यता प्रदान की गयी है। भारत के पूर्ण इतिहास के दौरान धर्म का यहां की संस्कृति में एक महत्त्वपूर्ण स्थान रहा है। भारत विश्व की चार प्रमुख धार्मिक परम्पराओं का जन्मस्थान है – हिंदू धर्म, जैन धर्म, बौद्ध धर्म तथा सिक्ख धर्म. बिश्नोई धर्म भारतीयों का एक विशाल बहुमत स्वयं को किसी न किसी धर्म से संबंधित अवश्य बताता है।

भारत की जनसंख्या के 76% लोग हिंदू धर्म का अनुसरण करते हैं। इस्लाम (13.5%), बौद्ध धर्म (5.5%), ईसाई धर्म (2.3%) और सिक्ख धर्म (1.9%), भारतीयों द्वारा अनुसरण किये जाने वाले अन्य प्रमुख धर्म हैं। आज भारत में मौजूद धार्मिक आस्थाओं की विविधता, यहां के स्थानीय धर्मों की मौजूदगी तथा उनकी उत्पत्ति के अतिरिक्त, व्यापारियों, यात्रियों, आप्रवासियों, यहां तक कि आक्रमणकारियों तथा विजेताओं द्वारा भी यहां लाए गए धर्मों को आत्मसात करने एवं उनके सामाजिक एकीकरण का परिणाम है।

आइये जाने प्रमुख धर्म, पूजा – स्थल एवं पुस्तकों के बारे में

धर्म पूजा स्थल धार्मिक पुस्तक
यहूदी सिनेगाँग तोराह
पारसी अग्निमंदिर जेंद अवेस्ता
सिक्ख गुरुद्वारा गुरुग्रंथ साहिब
इस्लाम मस्जिद कुरान
ईसाई चर्च बाइबिल
हिन्दू मंदिर रामायण व महाभारत

You just read: Gk Indian Religion Worshiped Venue And Books - INDIA Topic
Aapane abhi padha: Bharat Ke Pramukh Dharm, Pooja Sthal Aur Pustak Se Sambandhit Samanya Gyan.

4 thoughts on “भारत के प्रमुख धर्म, पूजा स्थल एवं उनके ग्रंथ”

    1. जैन धर्म में जिन या अरिहन्त और सिद्ध को ईश्वर मानते हैं। उन्हीं की आराधना करते हैं और उन्हीं के निमित्त मंदिर आदि बनवाते हैं।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *