गुप्त राजवंश-इतिहास, शासकों का नाम एवं अभिलेख

✅ Published on February 28th, 2017 in इतिहास, सामान्य ज्ञान अध्ययन

भारतीय इतिहास के गुप्तकालीन शासक और उनके अभिलेख: (Gupta Rulers History in Hindi)

गुप्त सम्राटों के समय में गणतंत्रीय राजव्यवस्था का ह्मस हुआ। गुप्त प्रशासन राजतंत्रात्मक व्यवस्था पर आधारित था। देवत्व का सिद्वान्त गुप्तकालीन शासकों में प्रचलित था। राजपद वंशानुगत सिद्धान्त पर आधारित था। राजा अपने बड़े पुत्र को युवराज घोषित करता था। उसने उत्कर्ष के समय में गुप्त साम्राज्य उत्तर में हिमालय से लेकर दक्षिण में विंघ्यपर्वत तक एवं पूर्व में बंगाल की खाड़ी से लेकर पश्चिम में सौराष्ट्र तक फैला हुआ था।

भारतीय इतिहास के गुप्तकालीन शासक और उनके अभिलेखों की सूची:

शासक का नाम सम्बंधित अभिलेख
समुद्रगुप्त (335-375ई) प्रयाग प्रशस्ति, एरण प्रशस्ति, नालंदा, गया ताम्र शासन लेख।
चन्द्रगुप्त द्वितीय (375-414ई) मथुरा स्तंभलेख, उदयगिरी का प्रथम और द्वितीय गुहा लेख, गढ़वा का प्रथम शिलालेख, साँची शिलालेख, महरौली प्रशस्ति।
कुमारगुप्त महेन्द्रादित्य (414-455ई) बिल्सड़ स्तंभलेख, गढ़वा का द्वितीय शिलालेख, गढ़वा का तृतीय शिलालेख, उदयगिरी का तृतीय गुहलेख, धनदैह अभिलेख, मथुरा का जैन मूर्ति लेख, तुमैन शिलालेख, मंदसौर शिलालेख, कर्मदंडा लिंगलेख, कुलाईकुरी ताम्रलेख, दामोदरपुर प्रथम एवं द्वितीय ताम्रलेख, बैग्राम ताम्रलेख, मानकुंवर बुद्धमूर्ति लेख।
स्कंदगुप्त जूनागढ़ प्रशस्ति, कहाँव स्तम्भ लेख, सुपिया स्तंभलेख, इंदौर ताम्रलेख, भितरी स्तम्भलेख।
कुमारगुप्त द्वितीय सारनाथ बुद्धमूर्ति लेख।
पुरुगुप्त (467-476ई.) बिहार स्तम्भ लेख।
बुद्धगुप्त सारनाथ बुद्धमूर्ति लेख, पहाडपुर ताम्रलेख, राजघाट (वाराणसी), स्तम्भ लेख, नंदपुर ताम्रलेख।
वैन्यगुप्त गुनईधर (टिपरा) ताम्रलेख।
भानुगुप्त एरण स्तंभलेख।
विष्णुगुप्त पंचम दामोदरगुप्त ताम्र लेख।

नीचे दिए गए प्रश्न और उत्तर प्रतियोगी परीक्षाओं को ध्यान में रख कर बनाए गए हैं। यह भाग हमें सुझाव देता है कि सरकारी नौकरी की परीक्षाओं में किस प्रकार के प्रश्न पूछे जा सकते हैं। यह प्रश्नोत्तरी एसएससी (SSC), यूपीएससी (UPSC), रेलवे (Railway), बैंकिंग (Banking) तथा अन्य परीक्षाओं में भी लाभदायक है।

महत्वपूर्ण प्रश्न और उत्तर (FAQs):

प्रश्न: उत्तर-गुप्त युग में कौन-सा विश्वविद्यालय काफी प्रसिद्ध हो गया था?
उत्तर: नालंदा विश्वविद्यालय (Exam - SSC CGL Jul, 1999)
प्रश्न: गुप्त युग का प्रवर्तक कौन था?
उत्तर: श्रीगुप्त (Exam - SSC CML May, 2000)
प्रश्न: गुप्त राजवंश किस लिए प्रसिद्ध था?
उत्तर: साम्रज्यवाद (Exam - SSC CML May, 2001)
प्रश्न: गुप्त शासन के दौरान ऐसा व्यक्ति कौन था, जो एक महानू खगोल-विज्ञानी तथा गणितज्ञ था?
उत्तर: आर्यभटूट (Exam - SSC CML May, 2002)
प्रश्न: ‘गुप्त’ राजा जिसने ‘विक्रमादित्य’ की पदवी ग्रहण की थी, वह था-
उत्तर: चन्द्रगुप्त-II (Exam - SSC CML May, 2002)
प्रश्न: गुप्त शासकों की सरकारी (दरबारी) भाषा क्या थी?
उत्तर: संस्कृत (Exam - SSC CML May, 2002)
प्रश्न: गुप्त वंश का वह राजा कौन था जिसने हूणों को भारत पर आक्रमण करने से रोका?
उत्तर: स्कन्दगुप्त (Exam - SSC CML May, 2002)
प्रश्न: चन्द्रगुप्त मौर्य के बाद मौर्य सिंहासन पर कौन बैठा था?
उत्तर: बिन्दुसार (Exam - SSC LDC Aug, 2005)
प्रश्न: गुप्त वंश का प्रथम 'महान' सम्राट कौन था?
उत्तर: चन्द्रगुप्त प्रथम (Exam - SSC CHSL Nov, 2005)
प्रश्न: गुप्त वंश का अंतिम शासक कौन था?
उत्तर: विष्णुगुप्त (Exam - SSC SOA Dec, 2006)


You just read: Bhartiya Itihaas Ke Guptakaaleen Shaasak Aur Unke Abhilekhon Ke Naam
Previous « Next »

❇ सामान्य ज्ञान अध्ययन से संबंधित विषय

विश्व के सबसे ऊँचे झरने भारतीय राज्यों के वर्तमान मुख्यमंत्री की सूची 2021 कर्नाटक के मुख्यमंत्री की सूची वर्ष (वर्ष 1947 से अब तक) दिल्ली पुलिस के आयुक्त एवं इतिहास गुट निरपेक्ष आंदोलन शिखर सम्मेलन की सूची वर्ष 1961 से अब तक यूनेस्को द्वारा घोषित भारत के विश्व धरोहर स्‍थल के नाम नाटो का इतिहास, उद्देश्य एवं अन्य सदस्य देश अन्तरराष्ट्रीय ओलम्पिक समिति (आईओसी) के अध्यक्ष की सूची (1894 से 2021 तक) भारत श्रीलंका संबंध: इतिहास, गृह युद्ध में हस्तक्षेप और भारत श्रीलंका संबंधों में संघर्ष विश्व के प्रमुख द्वीप और उनके क्षेत्रफल