राष्ट्रीय टीकाकरण दिवस संक्षिप्त तथ्य

कार्यक्रम नामराष्ट्रीय टीकाकरण दिवस (National Immunization Day)
कार्यक्रम दिनांक16 / मार्च
कार्यक्रम की शुरुआत1995
कार्यक्रम का स्तरराष्ट्रीय दिवस
कार्यक्रम आयोजकभारत

राष्ट्रीय टीकाकरण दिवस का संक्षिप्त विवरण

भारत में प्रत्येक वर्ष 16 मार्च को "राष्ट्रीय टीकाकरण दिवस" मनाया जाता है। यह दिवस टीका निवारणीय रोगों के खिलाफ समय पर टीकाकरण करवाने के महत्व के बारे में लोगों को जागरूक करने के लिए मनाया जाता है।

राष्ट्रीय टीकाकरण दिवस के बारे में अन्य विवरण

टीका या टीकाकरण किसे कहा जाता है?

किसी बीमारी के विरुद्ध प्रतिरोधात्मक क्षमता विकसित करने के लिये जो दवा खिलायी/पिलायी या किसी अन्य रूप में दी जाती है उसे टीका कहते हैं तथा यह क्रिया टीकाकरण कहलाती है। संक्रामक रोगों की रोकथाम के लिये टीकाकरण सर्वाधिक प्रभावी एवं सबसे सस्ती विधि माना जाता है।

टीके, एन्टिजनी पदार्थ होते हैं। टीके के रूप में दी जाने वाली दवा या तो रोगकारक जीवाणु या विषाणु की जीवित किन्तु क्षीण मात्रा होती है या फिर इनको मारकर या अप्रभावी करके या फिर कोई शुद्ध किया गया पदार्थ, जैसे - प्रोटीन आदि हो सकता है। सनसे पहले चेचक का टीका आजमाया गया जो कि भारत या चीन 200 इसा पूर्व हुआ।

भारत देश में राष्ट्रीय टीकाकरण कार्यक्रम के अंतर्गत 15 वर्ष तक की आयु के बच्चों तथा तथा गर्भवती महिलाओं को घातक रोगों की विरूद्ध टीके दिए जाते हैं। ये रोग हैं:

तपेदिक (टी.बी) डिप्थीरिया, परटूसिस (काली खाँसी), टिटनेस, खसरा (मीजल्स) तथा पोलियो (पोलियोमाइटिस) अगर किसी बच्चे को सही समय पर इन सभी रोगों से रक्षा करने वाली वैक्सीन्स की पर्याप्त खुराकें देकर रोग प्रतिरक्षित कर दिया जाता है तो भविष्य में वह इन घातक/अपंग करने वाली बीमारियों से काफी हद तक बचा रहेगा बाद में ऐसे बच्चे को टिटनेस टॉक्साइड वैक्सीन के अतिरिक्त अन्य वैक्सीन्स की आवश्यकता नहीं पड़ेगी।

बच्चों के लिए राष्ट्रीय टीकाकरण कार्यक्रम:

राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र दिल्ली में रोग प्रतिरक्षण तालिका एम्.एम्.आर. वैक्सीन की एक खुराक देने की सिफारिश की जाती है।

यह खुराक बच्चे की आयु 15 महीने की होने पर दी जाती है। इसी प्रकार, दिल्ली में यह भी सिफारिश है कि हर बच्चे को हिपेटाइटिस "बी" वैक्सीन की 4 खुराकें निम्नलिखित कार्यक्रम की अनुसार दी जानी चाहिए:

  • जन्म पर : पहले खुराक (बी.सी.जी. वैक्सीन के साथ)
  • 6 सप्ताह पर: दूसरी खुराक (ओ. पी. वी., डी. पी. टी. के साथ)
  • 10 सप्ताह पर: तीसरी खुराक (ओ. पी. वी., डी. पी. टी. के साथ)
  • 14 सप्ताह पर : चौथी खुराक (ओ. पी. वी., डी. पी. टी. के साथ)
  • अगर किसी कारणवश जन्म के समय बी.सी.जी. का टीका नहीं दिया गया हो तो इसे बच्चे की आयु 9 महीने होने से पहले कभी-भी दिया जा सकता है।
बच्चे की आयुवैक्सीन (टीके) का नामवैक्सीन की मात्रा और कौन सी खुराक
जन्म के समयबी. सी. जी. **केवल एक खुराक काफी है।
ओ. पी. वी.एक खुराक (“जीरो खुराक”)।
6 सप्ताह (1 ½ महीने पर)ओ. पी. वी.एक खुराक (पहली खुराक)।
डी. पी. टी.एक खुराक (पहली खुराक)।
10 सप्ताह (2 ½ महीने पर)ओ. पी. वी.एक खुराक (दूसरी खुराक)।
डी. पी. टी.एक खुराक (दूसरी खुराक)।
14 सप्ताह (3 ½ महीने पर)ओ. पी. वी.एक खुराक (तीसरी खुराक)।
डी. पी. टी.एक खुराक (तीसरी खुराक)।
9 महीने से 12 महीने के बीचमीजल्स वैक्सीनकेवल एक खुराक आवश्यक है।
15 महीनेएम्. एम. आर. वैक्सीनकेवल एक खुराक आवश्यक है।
16 महीने से 24 महीने के बीचओ. पी. वी.एक खुराक (चौथी या बूस्टर खुराक)।
डी. पी. टी.एक खुराक (चौथी या बूस्टर खुराक)।
5-6 वर्षडी. टी. वैक्सीनएक खुराक केवल।
10 वर्षटी. वैक्सीनएक खुराक केवल।
15 वर्षटी. टी. वैक्सीनएक खुराक केवल।

मार्च माह के महत्वपूर्ण दिवस की सूची - (राष्ट्रीय दिवस एवं अंतराष्ट्रीय दिवस):

तिथि दिवस का नाम - उत्सव का स्तर
03 मार्चविश्व वन्यजीव दिवस - अंतरराष्ट्रीय दिवस
04 मार्चराष्ट्रीय सुरक्षा दिवस - राष्ट्रीय दिवस
08 मार्चअंतरराष्ट्रीय महिला दिवस - अंतरराष्ट्रीय दिवस
11 मार्चविश्व किडनी दिवस - अंतरराष्ट्रीय दिवस
14 मार्चएक अपरिमेय राशि (π) पाई दिवस - अंतरराष्ट्रीय दिवस
15 मार्चविश्व उपभोक्ता अधिकार दिवस - अंतरराष्ट्रीय दिवस
16 मार्चराष्ट्रीय टीकाकरण दिवस - राष्ट्रीय दिवस
18 मार्चआयुध निर्माण दिवस - राष्ट्रीय दिवस
21 मार्चअंतरराष्ट्रीय रंगभेद उन्मूलन दिवस - अंतरराष्ट्रीय दिवस
21 मार्चअंतर्राष्ट्रीय वन दिवस - अंतरराष्ट्रीय दिवस
21 मार्चविश्व कविता दिवस - अंतरराष्ट्रीय दिवस
21 मार्चविश्व कठपुतली दिवस - अंतरराष्ट्रीय दिवस
22 मार्चविश्व जल दिवस - अंतरराष्ट्रीय दिवस
23 मार्चविश्व मौसम विज्ञान - अंतरराष्ट्रीय दिवस
24 मार्चविश्व टीबी दिवस - अंतरराष्ट्रीय दिवस
27 मार्चअंतर्राष्ट्रीय रंगमंच दिवस - अंतरराष्ट्रीय दिवस

राष्ट्रीय टीकाकरण दिवस प्रश्नोत्तर (FAQs):

राष्ट्रीय टीकाकरण दिवस प्रत्येक वर्ष 16 मार्च को मनाया जाता है।

हाँ, राष्ट्रीय टीकाकरण दिवस एक राष्ट्रीय दिवस है, जिसे पूरे भारत हम प्रत्येक वर्ष 16 मार्च को मानते हैं।

राष्ट्रीय टीकाकरण दिवस की शुरुआत 1995 को की गई थी।

राष्ट्रीय टीकाकरण दिवस प्रत्येक वर्ष भारत द्वारा मनाया जाता है।

  Last update :  Tue 28 Jun 2022
  Post Views :  6439
विश्व वन्यजीव दिवस (03 मार्च) का इतिहास, महत्व, थीम और अवलोकन
राष्ट्रीय सुरक्षा दिवस (04 मार्च) का इतिहास, महत्व, थीम और अवलोकन
अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस (08 मार्च) का इतिहास, महत्व, थीम और अवलोकन
विश्व किडनी दिवस (11 मार्च) का इतिहास, महत्व, थीम और अवलोकन
एक अपरिमेय राशि (π) पाई दिवस (14 मार्च) का इतिहास, महत्व, थीम और अवलोकन
विश्व उपभोक्ता अधिकार दिवस (15 मार्च) का इतिहास, महत्व, थीम और अवलोकन
आयुध निर्माण दिवस (18 मार्च) का इतिहास, महत्व, थीम और अवलोकन
अंतर्राष्ट्रीय वन दिवस (21 मार्च) का इतिहास, महत्व, थीम और अवलोकन
विश्व कठपुतली दिवस (21 मार्च) का इतिहास, महत्व, थीम और अवलोकन
विश्व कविता दिवस (21 मार्च) का इतिहास, महत्व, थीम और अवलोकन
अंतरराष्ट्रीय रंगभेद उन्मूलन दिवस (21 मार्च) का इतिहास, महत्व, थीम और अवलोकन