मुंबई शहर महाराष्ट्र के बांद्रा किला का इतिहास तथा महत्वपूर्ण जानकारी

बांद्रा किले के बारे मे रोचक तथ्य। Interesting Facts About Bandra Fort in Hindi
बांद्रा किले के बारे मे रोचक तथ्य

कैस्टेला दे अगुआड़ा या बांद्रा किले के बारे में जानकारी (Information about Castella de Aguada or Bandra Fort):

कैस्टेला दे अगुआड़ा महाराष्ट्र राज्य के मुंबई शहर के बांद्रा क्षेत्र में स्थित है जिसे बांद्रा किला के नाम से भी जाना जाता है। यह किला पुर्तगालीयों द्वारा 1640 ई॰ में बनाया गया था। जिसका उद्देश्य माहिम खाड़ी जो भारत के मुंबई शहर का दक्षिणी द्वीप का हिस्सा और अरब सागर में स्थित है, देखरेख की जा सके। इस किले पर पुर्तगालीयों के शासनकाल में पुर्तगाली जहाजों का आवागमन रहता था। यह स्थान पर्यटकों के लिए अरब सागर के एक सुंदर परिदर्शय को संभोधित करता है।

कैस्टेला दे अगुआड़ा या बांद्रा किले का संक्षिप्त विवरण ( Brief description of Castella de Aguada or Bandra Fort):

स्थान बांद्रा क्षेत्र, मुंबई शहर, महाराष्ट्र (भारत) 
पूर्वी नाम बांद्रा किला
निर्माण 1640 ई.
निर्माता पुर्तगाली 
प्रकार किला
वर्तमान नियंत्रणकर्ता महाराष्ट्र सरकार

कैस्टेला दे अगुआड़ा या बांद्रा किले का इतिहास (History of Castella de Aguada or Bandra Fort):

पुर्तगालीयों ने 1534 में बांद्रा क्षेत्र में अपना अधिकार स्थापित कर इस किले का प्रयोग केवल रणनीतिक रूप से दक्षिण में वर्ली द्वीप और दक्षिण पश्चिम में माहिम खाड़ी का दृश्य देखने के लिए किया था। पुर्तगाली शासनकाल में इस किले को वाटर पॉइंट का किला कहा जाता था। 18वीं शताब्दी के शुरुआत में पुर्तगालियों का शासन पूर्ण रूप से खत्म हो चुका था। इसके बाद इस किले पर ब्रिटिश सरकार का अधिकार हो गया। परंतु ब्रिटिश संपत्ति के लिए मराठा साम्राज्य सबसे बड़ा खतरा बन चुका था इसलिए अंग्रेजों ने इसका आंशिक भाग नष्ट कर दिया। जिससे मराठा द्वारा इस संपत्ति पर कब्जा करने की संभावना को कम किया जाए। परंतु 1739 ई॰ में इस किले पर मराठा सैनिकों ने आक्रमण कर इस पर अपना अधिकार स्थापित कर लिया और उन्होने 1774 ई॰ तक बांद्रा किले पर शासन किया। परंतु जब प्रथम एंग्लो-मराठा युद्ध के हुआ तब अंग्रेजों ने इस क्षेत्र पर पुन: अपना कब्जा कर लिया। बाद में ब्रिटिश सरकार ने कैस्टेला डे अगुआडा के साथ और भी कई द्वीपों को बाइरमजी जीजीभो एक पारसी व्यापारी व्यक्ति को दान में दे दिया उसने इसका नाम बदलकर बायरजी जीजीभोय पॉइंट रखा।

बांद्रा किले के बारे में रोचक तथ्य ( Interesting facts about Castella de Aguada or Bandra Fort ):

  1. कैस्टेला दे अगुआड़ा समुद्र तल से 24 मीटर (79 फीट) की ऊँचाई पर स्थित है।
  2. कैस्टेला दे अगुआडा को कई हिंदी फिल्मों में चित्रित किया गया है, जिसमे दिल चाहता है और बुड्ढा मिल गया शामिल हैं।
  3. इस किले को बांद्रा बैंड स्टैंड रेजिडेंट्स ट्रस्ट द्वारा 2003 में बचाने के लिए एक संरक्षण कार्यक्रम शुरू किया था और इस कार्यक्रम की शुरूआत संसद की एक सदस्य शबाना आज़मी द्वारा गई।
  4. कैस्टेला दे अगुआड़ा पर भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण (एएसआई) का अधिकार है। जिसमें भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण द्वारा किले की प्राकृतिक रॉक संरचनाओं का संरक्षण, पथ प्रदान करना और आधुनिक ओपन-एयर स्टेडियम का निर्माण आदि चीजों का सर्वेक्षण और निर्माण शामिल है।
  5. कैस्टेला दे अगुआडा, पुर्तगाली शब्द कैस्टेलो (अंग्रेज़ी:कैसल) का गलत वर्तनी रूप है। इसका सही नाम कैस्टेलो दे अगुआड़ा होना चाहिये था, परंतु इसके निर्माताओं द्वारा इसे फोर्टे दे बंदोरा (बांद्रा किला) कहा गया था।

कैस्टेला दे अगुआड़ा या बांद्रा किले तक कैसे पहुंचे (How to reach Castella de Aguada or Bandra Fort):

  1. बांद्रा किला आने के लिए मुंबई उपनगरीय रेलवे की पश्चिम लाइन का रेलवे स्टेशन है, जिसे बांद्रा टर्मिनस रेलवे स्टेशन नाम से जाना जाता है। इसके अलावा बांद्रा रेलेवे स्टेशन, माहिम रेलवे स्टेशन, और बांद्रा रेलवे स्टेशन (e) आदि स्टेशन किले पास हैं वहाँ से ऑटो रिक्शा या बस द्वारा किले तक आया जा सकता है।
  2. इसके अतिरिक कैस्टेला दे अगुआड़ा आने के लिए सबसे नजदीकी मुंबई एयरपोर्ट (BOM) हवाई अड्डा है।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *