साउथ डेकोटा संयुक्त राज्य अमेरिका के माउंट रशमोर का इतिहास तथा महत्वपूर्ण जानकारी

माउंट रशमोर राष्ट्रीय स्मारक संक्षिप्त जानकारी

स्थानकीस्टोन, साउथ डेकोटा, (संयुक्त राज्य अमेरिका)
निर्माणकाल1927-1941
वास्तुकारगुट्ज़न बोरग्लम, लिंकोल्न बोरग्लम
निर्मितअमेरिका द्वारा
प्रकारसांस्कृतिक, मूर्तिकला

माउंट रशमोर राष्ट्रीय स्मारक का संक्षिप्त विवरण

विश्व का सबसे शक्तिशाली देश अमेरिका अपने इतिहास, संस्कृति और कलाकृति के लिए पूरी दुनिया में जाना जाता है। अमेरिका कई महान लोगो की मातृभूमि रहा है, जिनमे जॉर्ज वाशिंगटन, थॉमस जेफरसन, थियोडोर रूजवेल्ट और अब्राहम लिंकन आदि सम्मिलित है। इन्ही महान नागरिक के सम्मान में अमेरिका में माउंट रशमोर नेशनल मेमोरियल की स्थापना की गई थी, जिनमे इन प्रसिद्ध लोगो की मूर्तियाँ बनाई गई है।

माउंट रशमोर राष्ट्रीय स्मारक का इतिहास

माउंट रशमोर को यह नाम वर्ष 1885 में न्यूयॉर्क के एक प्रसिद्ध वकील चार्ल्स ई. रशमोर के नाम पर दिया गया था। डोएन रॉबिन्सन दक्षिणी डकोटा की ब्लैक हिल्स में पर्यटकों की संख्या को बढ़ाना चाहते थे, जिसके लिए उन्होंने इस पर्वत में कुछ महान लोगों की कलाकृतियों को बनाने का उद्देश्य रखा गया था। उन्होंने ब्लैक हिल्स पर कुछ प्रमुख नायको की मूर्तियाँ बनाने का स्वप्न देखा था जिसे पूरा करने के लिए उन्होंने एक प्रसिद्ध मूर्तिकार गुट्ज़न बोरग्लम से संपर्क किया, जो जॉर्जिया में स्टोन माउंटेन की नक्काशी कर रहे थे।

गुट्ज़न बोरग्लम डोएन रॉबिन्सन से मिलने के लिए सहमत हुए और गुट्ज़न बोरग्लम का मानना ​​था कि इस पहाड़ को राष्ट्रीय महत्व के साथ बनाना चाहिए जो हमारे देश के इतिहास को और प्रासंगिक बना दे। वह लोकतंत्र के लिए एक ऐतिहासिक स्थान बनवाना चाहते थे। वर्ष 1927 में ब्लैक हिल्स के पर्वतों पर नक्काशी का काम शुरू हुआ और कुछ वर्षो बाद यह काम 1941 तक पूरा कर लिया गया था।

माउंट रशमोर राष्ट्रीय स्मारक के रोचक तथ्य

  1. वर्ष 1923 में दक्षिण डकोटा इतिहासकार डोएन रॉबिन्सन द्वारा ब्लैक हिल्स में एक मूर्तिकला बनाने का सपना देखा गया था। वह राज्य में पर्यटकों को आकर्षित करने का एक तरीका खोजना चाहते थे।
  2. इस पहाड़ पर 4 प्रमुख अमेरिकी राष्ट्रपति जॉर्ज वाशिंगटन, थॉमस जेफरसन, थियोडोर रूसवेल्ट और अब्राहम लिंकन की मुख की मूर्तियाँ बनाई गई है।
  3. ब्लैक हिल्स पर्वत पर बनाये गये प्रत्येक महान राष्ट्रपति के चेहरे की ऊंचाई लगभग 60 फुट है।
  4. वर्ष 1930 में भौगोलिक नामों को ध्यान में रखते हुये संयुक्त राज्य बोर्ड ने इस पहाड़ को आधिकारिक तौर पर माउंट रशमोर के रूप में मान्यता दी थी।
  5. यह पहाड़ी क्षेत्र लगभग 1,278 एकड़ (5.17 वर्ग कि.मी.) के क्षेत्रफल में फैला हुआ है।
  6. इस पहाड़ पर नक्काशियों का कार्य लगभग 1927 में शुरू हुआ और जिसे वर्ष 1941 में समाप्त कर लिया गया था।
  7. इस परियोजना को पूरा करने में लगभग 14 साल का समय और इसकी कुल लागत लगभग 989,32 डॉलर थी।
  8. वर्ष 1937 में अमेरिकी कांग्रेस के अधिकारियों की एक प्रमुख नेता सुसान बी एंथनी की पहाड़ पर छवि जोड़ने के लिए कांग्रेस ने एक बिल पेश किया था, परंतु वह अस्वीकार कर दिया गया था।
  9. वर्ष 1938 में गुट्ज़न बोरग्लम ने गुप्त रूप से सिर के पीछे पहाड़ में बने एक हॉल ऑफ रिकॉर्ड्स को ध्वस्त करना शुरू कर दिया था, जिसे 1939 में गुट्ज़न बोरग्लम द्वारा बंद कर दिया गया था।
  10. मार्च 1941 में मूर्तिकार गुट्ज़न बोरग्लम की मृत्यु हो गई थी, जिस कारण स्मारको के निर्माण का कार्य उनके बेटे लिंकन बोरग्लम को पूरा करना पड़ा था।
  11. इस पहाड़ पर नक्काशियों का कार्यभार लगभग 400 से अधिक पुरुषों की एक टीम द्वारा संभाला गया था।
  12. इस पहाड़ का 90% नक्काशीदार भाग डायनामाइट की सहायता से किया गया था, जिसमे लगभग 450,000 टन से अधिक चट्टानो को मजदूरों और मशीनों की सहायता से हटाया गया था।
  13. वर्ष 2016 में इस महान स्मारक को देखने के लिए लगभग 24 लाख 31 हजार 231 सैलानी माउंट रशमोर आए थे।
  14. माउंट रशमोर ग्रेनाइट से बना हुआ है, जो प्रत्येक 10,000 साल में लगभग 1 इंच तक नष्ट हो जाता है जिस कारण यह अनुमान लगाया गया है कि लगभग 500,000 वर्षो बाद यह स्मारक पूर्णता: समाप्त हो जाएगी।
  Last update :  2022-08-03 11:44:49
  Post Views :  1896