रॉबर्ट पियरी का जीवन परिचय | Biography of Robert Peary in Hindi

रॉबर्ट पियरी का जीवन परिचय एवं उनसे जुड़ी महत्वपूर्ण जानकारी

इस अध्याय के माध्यम से हम जानेंगे रॉबर्ट पियरी (Robert Peary) से जुड़े महत्वपूर्ण एवं रोचक तथ्य जैसे उनकी व्यक्तिगत जानकारी, शिक्षा तथा करियर, उपलब्धि तथा सम्मानित पुरस्कार और भी अन्य जानकारियाँ। इस विषय में दिए गए रॉबर्ट पियरी से जुड़े महत्वपूर्ण तथ्यों को एकत्रित किया गया है जिसे पढ़कर आपको प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी करने में मदद मिलेगी। Robert Peary Biography and Interesting Facts in Hindi.

रॉबर्ट पियरी के बारे में संक्षिप्त जानकारी

नामरॉबर्ट पियरी (Robert Peary)
वास्तविक नामरॉबर्ट एडविन पियरी
जन्म की तारीख06 मई 1856
जन्म स्थानक्रेसन, संयुक्त राज्य अमेरिका
निधन तिथि20 फरवरी 1920
उपलब्धि1909 - उत्तरी ध्रुव पर पहुँचने वाला प्रथम व्यक्ति
पेशा / देशपुरुष / एक्सप्लोरर / भारत

रॉबर्ट पियरी (Robert Peary)

रॉबर्ट पियरी उत्तरी ध्रुव की खोज करने वाले अमरीकी खोजकर्ता थे। 1877 ई० में इन्होने ब्रन्ज़विक के बोडोइन कॉलेज से स्नातक परीक्षा पास की थी। ध्रुवों की खोज के लिए इन्होंने 1886 ई० में ग्रीनलैंड के पश्चिमी तट का अध्ययन किया था। 1881 में पीरी सिविल इंजीनियर के रूप में नौसेना में शामिल हो गए थे| इन्हें इनुइट उत्तरजीविता तकनीकों का अध्ययन करने वाले पहले आर्कटिक खोजकर्ताओं भी माना जाता थे।

रॉबर्ट पियरी का जन्म

रॉबर्ट पियरी का जन्म 06 मई 1856 को क्रेसन, संयुक्त राज्य अमेरिका में हुआ था। इनका पूरा नाम रॉबर्ट एडविन पियरी था। इनका जन्म मैरी पी लेरी के यहाँ हुआ था। इनके जन्म के बाद इनके पिता का देहांत हो गया था जिसके फलसरूप इनका लालन पालन इनकी माता ने किया था।

रॉबर्ट पियरी का निधन

रॉबर्ट पियरी की मृत्यु 20 फरवरी, 1920 को (63 वर्ष की आयु ) वाशिंगटन, डीसी यू.एस. में हो गई थी।

रॉबर्ट पियरी की शिक्षा

वह लूमिस शैफ नामक एक प्रमुख बोर्डिंग स्कूल में गए। उन्होंने बॉडॉइन कॉलेज में पढ़ाई की, फिर कॉलेज के बाद, पीरी ने वॉशिंगटन में संयुक्त राज्य अमेरिका के तट और जियोडेटिक सर्वे कार्यालय में तकनीकी चित्र बनाने वाले एक ड्राफ्ट्समैन के रूप में काम किया, डीसी वह यूनाइटेड स्टेट्स नेवी में शामिल हो गए और 26 अक्टूबर, 1881 को एक सिविल इंजीनियर के रूप में कमीशन किया गया, जिसमें लेफ्टिनेंट के रिश्तेदार रैंक थे। ।

रॉबर्ट पियरी का करियर

रॉबर्ट पियरी वर्ष 1878 से 1879 ई० के मध्य तक फ्राइबर्ग, मेन में रहते थे और वहाँ रहने के दौरान उन्होंने फ्राइबर्ग के जॉकी कैप रॉक के ऊपर चढ़कर वहाँ का पार्श्वचित्र चित्र बनाया। रॉबर्ट पियरी ने वर्ष 1886 में आर्कटिक के लिए अपना पहला अभियान बनाया , जिसमें वह कुत्ते के स्लेज द्वारा ग्रीनलैंड को पार करना चाहते थे, इसके लिए उनकी माँ ने उन्हे करीबन 500 डॉलर दिये थे।1884 ई० में इन्होंने निकारागुआ में नहर सर्वेक्षण में सहायक इंजीनियर तथा 1887-1888 ई० के बीच उसके डाइरेक्टर के रूप में भी कार्य किया था। 1886 में रॉबर्ट पियरी ने पहली बार आर्कटिक का दौरा किया, वह 1891 में बहुत बेहतर तरीके से तैयार होकर लौटा, और स्वतंत्रता फेजर्ड (जिसे अब पीरी लैंड के रूप में जाना जाता है) में पहुंचकर यह साबित हो गया कि ग्रीनलैंड एक द्वीप था। वह इनुइट उत्तरजीविता तकनीकों का अध्ययन करने वाले पहले आर्कटिक खोजकर्ताओं में से एक थे। 1891 ई० में इन्हें फिलाडेल्फिया नैचुरल साइंस अकादमी की ओर से ध्रुवीय खोज अभियान का नेता नियुक्त किया गया था। अपने 1898-1902 अभियान में, पेरी ने ग्रीनलैंड के सबसे उत्तरी बिंदु, केप मॉरिस जेसप पर पहुंचकर एक नया "फेर्थेस्ट नॉर्थ" रिकॉर्ड बनाया। रॉबर्ट पियरी ने आर्कटिक में 1905-1906 में और 1908-1909 में दो और अभियान किए। उत्तरार्ध के दौरान, उन्होंने उत्तरी ध्रुव तक पहुंचने का दावा किया। उन्हें 20 अक्टूबर, 1910 को नौसेना में कप्तान के पद पर पदोन्नत किया गया था। 1892 ई० में ग्रीनलैंड द्वीप के उत्तर-पूर्वी किनारे तक जाकर इन्होंने एस्किमो लोगों के बारे में जानकारी प्राप्त की थी। 1902 ई० में ये अपनी पार्टी के कमांडर बनकर हेंसन (Henson) तथा एक एस्किमों के साथ उत्तर की ओर गए थे। इन्हें अमरीकन जिओग्रैफिकल सोसाइटी का अध्यक्ष भी चुना गया था। वह 6 अप्रैल 1909 को अपने अभियान के साथ भौगोलिक उत्तर ध्रुव तक पहुंचने का दावा करने के लिए सबसे प्रसिद्ध है।

रॉबर्ट पियरी के पुरस्कार और सम्मान

इन्हें 1906 में नेशनल ज्योग्राफिक सोसाइटी के लिए ‘हब्बर्ड मैडल’ से सम्मानित किया गया था। रॉबर्ट पियरी ने अपने जीवनकाल के दौरान भौगोलिक समाजों से कई पुरस्कार प्राप्त किए, और 1911 में कांग्रेस का धन्यवाद प्राप्त किया और उन्हें रियर एडमिरल में पदोन्नत किया गया। उन्होंने द एक्सप्लर्स क्लब के अध्यक्ष के रूप में दो कार्यकाल दिए और ईगल द्वीप में सेवानिवृत्त हुए।

भारत के अन्य प्रसिद्ध एक्सप्लोरर

व्यक्तिउपलब्धि

You just read: Biography Robert Peary - BIOGRAPHY Topic

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *