नीरू चड्ढा का जीवन परिचय एवं उनसे जुड़ी महत्वपूर्ण जानकारी

✅ Published on September 20th, 2017 in प्रसिद्ध व्यक्ति, वरिष्ठ पदाधिकारी

इस अध्याय के माध्यम से हम जानेंगे नीरू चड्ढा (Neeru Chadha) से जुड़े महत्वपूर्ण एवं रोचक तथ्य जैसे उनकी व्यक्तिगत जानकारी, शिक्षा तथा करियर, उपलब्धि तथा सम्मानित पुरस्कार और भी अन्य जानकारियाँ। इस विषय में दिए गए नीरू चड्ढा से जुड़े महत्वपूर्ण तथ्यों को एकत्रित किया गया है जिसे पढ़कर आपको प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी करने में मदद मिलेगी। Neeru Chadha Biography and Interesting Facts in Hindi.

नीरू चड्ढा के बारे में संक्षिप्त जानकारी

नामनीरू चड्ढा (Neeru Chadha)
जन्म की तारीख 1996
जन्म स्थानभारत
उपलब्धि2017 - 'इंटरनेशनल ट्रिब्यूनल फॉर द लॉ ऑफ द सी' की न्यायाधीश बनने वाली पहली भारतीय
पेशा / देशमहिला / वकील / भारत

नीरू चड्ढा (Neeru Chadha)

नीरू चड्ढा एक प्रसिद्ध वकील हैं। वह समुद्र संबंधी कानून से जुड़े विवादों से निपटने वाली संयुक्त राष्ट्र न्यायिक संस्था ‘इंटरनेशनल ट्रिब्यूनल फॉर द लॉ ऑफ द सी" की न्यायाधीश बनने वाली पहली भारतीय है। नीरू को 9 साल के कार्यकाल के लिए निर्वाचित हुईं।

नीरू चड्ढा का जन्म 27 मार्च 1955 को दिल्ली(भारत) में हुआ था|
नीरू चड्ढा के पास दिल्ली विश्वविद्यालय से कानून में मास्टर डिग्री (एलएलएम) और यूनिवर्सिटी ऑफ मिशिगन लॉ स्कूल और दिल्ली विश्वविद्यालय से डॉक्टरेट (पीएचडी) कानून है।
नीरू चड्ढा ने भारत सरकार के लिए विभिन्न पदों पर कार्य किया, जिसमें विदेश मंत्रालय में अतिरिक्त सचिव और कानूनी सलाहकार (एएस एंड एलए), भारत सरकार के एक कानूनी सलाहकार, संयुक्त राष्ट्र में भारत के स्थायी मिशन के लिए परामर्शदाता और कानूनी सलाहकार शामिल हैं, और विदेश मंत्रालय के कानूनी और संधियों के प्रभाग में संयुक्त सचिव और कानूनी सलाहकार (जेएस एंड एलए) के रूप कार्य किया है। चड्ढा को जून 2015 में नौ साल के कार्यकाल के लिए अंतरराष्ट्रीय समुद्री कानून से संबंधित विवादों से निपटने के लिए यूनाइटेड नेशन के प्राथमिक न्यायिक अंग, इंटरनेशनल ट्रिब्यूनल ऑफ लॉ ऑफ द सी के न्यायाधीश के रूप में चुना गया था। नीरू चड्ढा को एशिया-प्रशांत समूह के दो न्यायाधीशों में से एक के रूप में चुना गया था, उन्होंने 120 वोट प्राप्त किए और खुद को मतदान के पहले दौर में निर्वाचित किया, लेबनान, इंडोनेशिया और थाईलैंड के उम्मीदवारों को हराया। वह ITLOS में एक जजशिप के लिए चुनी जाने वाली पहली भारतीय महिला बनीं। 14 जून 2017 को एक सीट के चुनाव आयोजित हुआ था,‘इंटरनेशनल ट्रिब्यूनल फॉर लॉ ऑफ द सी" (आईटीएलओएस) की स्थापना वर्ष 1996 में हुई थी, जिसका केंद्र जर्मनी के हैमबर्ग में है। जिसमें नीरू चड्ढा को इंटरनेशनल ट्रिब्‍यूनल फॉर द लॉ ऑफ द सी (आइटीएलओएस) की पहली भारतीय महिला के सदस्‍य के रूप में निर्वाचित किया गया। इससे पहले यह उपलब्धि दिवंगत विजय लक्ष्‍मी पंडित के नाम थी। नीरू चड्ढा 21 सदस्यीय अदालत में स्थान पाने वाली पहली भारतीय महिला न्यायाधीश बनी है। नीरू विदेश मामलों के मंत्रालय की मुख्य कानूनी सलाहकार चुनी जाने वाली पहली भारतीय महिला हैं। नीरू चड्ढा पहली ऐसी एकमात्र उम्मीदवार थीं, जिन्होंने मतदान के पहले चरण में ही चुनाव जीत लिया।
व्यक्तिउपलब्धि
विनोबा भावे की जीवनीरेमन मैगसेसे पुरस्कार प्राप्त करने वाले प्रथम भारतीय
वायलेट अल्वा की जीवनीराज्यसभा की प्रथम महिला उपाध्यक्ष
लाल मोहन घोष की जीवनीब्रिटिश संसद हेतु चुनाव लड़ने वाले प्रथम भारतीय पुरुष
अरुण जेटली की जीवनीभारत के 20वें वित्त मंत्री
हरिलाल जेकिसुनदास कनिया की जीवनीसर्वोच्च न्यायालय के प्रथम मुख्य न्यायाधीश
जगदीश सिंह खेहर की जीवनीभारत के पहले सिख मुख्य न्यायाधीश
महात्मा गांधी की जीवनीअंग्रेजो भारत छोड़ो आन्दोलन

📊 This topic has been read 12 times.

अक्सर पूछे जाने वाले महत्वपूर्ण प्रश्न और उत्तर:

प्रश्न: इंटरनेशनल ट्रिब्यूनल फॉर लॉ ऑफ द सी (आईटीएलओएस) की स्थापना कब हुई थी?
उत्तर: 1996
प्रश्न: 14 जून 2017 को हुए एक सीट के चुनाव आयोजन के दौरान इंटरनेशनल ट्रिब्‍यूनल फॉर द लॉ ऑफ द सी (आइटीएलओएस) की पहली भारतीय महिला के सदस्‍य के रूप किसे चुना गया था?
उत्तर: नीरू चड्ढा
प्रश्न: वह कौन है जो 21 सदस्यीय अदालत में स्थान पाने वाली पहली भारतीय महिला न्यायाधीश बनी है?
उत्तर: नीरू चड्ढा
प्रश्न: एशिया प्रशांत समूह में किसको सर्वाधिक 120 मत मिले। इस मतदान में 168 देशो ने भाग लिया था?
उत्तर: नीरू चड्ढा
प्रश्न: नीरू चड्ढा का जन्म कब हुआ था?
उत्तर: 27 मार्च 1955

महत्वपूर्ण प्रश्नोत्तरी:

प्रश्न: इंटरनेशनल ट्रिब्यूनल फॉर लॉ ऑफ द सी (आईटीएलओएस) की स्थापना कब हुई थी?
Answer option:

      1990

    ❌ Incorrect

      1996

    ✅ Correct

      1997

    ❌ Incorrect

      1998

    ❌ Incorrect

प्रश्न: 14 जून 2017 को हुए एक सीट के चुनाव आयोजन के दौरान इंटरनेशनल ट्रिब्‍यूनल फॉर द लॉ ऑफ द सी (आइटीएलओएस) की पहली भारतीय महिला के सदस्‍य के रूप किसे चुना गया था?
Answer option:

      विभा पार्थसारथी

    ❌ Incorrect

      जयंती पटनायक

    ❌ Incorrect

      रेखा शर्मा

    ❌ Incorrect

      नीरू चड्ढा

    ✅ Correct

प्रश्न: वह कौन है जो 21 सदस्यीय अदालत में स्थान पाने वाली पहली भारतीय महिला न्यायाधीश बनी है?
Answer option:

      स्वाति मालीवाल

    ❌ Incorrect

      श्रीमती सुषमा कुमावत

    ❌ Incorrect

      नीरू चड्ढा

    ✅ Correct

      ललिता कुमारमंगलम

    ❌ Incorrect

प्रश्न: एशिया प्रशांत समूह में किसको सर्वाधिक 120 मत मिले। इस मतदान में 168 देशो ने भाग लिया था?
Answer option:

      मीसा भारती

    ❌ Incorrect

      लक्ष्मी सहगल

    ❌ Incorrect

      अन्ना चांडे

    ❌ Incorrect

      नीरू चड्ढा

    ✅ Correct

प्रश्न: नीरू चड्ढा का जन्म कब हुआ था?
Answer option:

      27 मार्च 1955

    ✅ Correct

      16 अगस्त1920

    ❌ Incorrect

      28 नवम्बर 1955

    ❌ Incorrect

      2 जनवरी 1992

    ❌ Incorrect

« Previous
Next »