भारत के ताप विद्युत संयंत्र की सूची

✅ Published on April 24th, 2021 in भारत, सामान्य ज्ञान अध्ययन

भारत के मुख्य ताप विद्युत केन्द्र: (List of Thermal Power Plants/Stations of India in Hindi)

विद्युत किसे कहते है?

विद्युत ऊर्जा का स्रोत है और यह प्राकृतिक खनिज, पानी और जीवाश्म ईंधन से उत्पादित की जा सकती है। इसके अतिरिक्त ऊर्जा के गैर-परंपरागत, वैकल्पिक, नए और फिर से उपयोग में लाए जा सकने वाले स्रोतों, जैसे-सौर, पवन और जैव ऊर्जा, आदि के विकास और संवर्द्धन पर लगातार ध्यान दिया जा रहा है।

भारत में बिजली का विकास 19वीं सदी के अंत में शुरू हुआ। सन् 1897 में दार्जिलिंग में बिजली आपूर्ति शुरू हुई। 1899 में एक थर्मल केन्द्र कोलकाता में लगाया गया। तब उसके बाद 1899 में तमिलनाडु में मेथुर में और 1902 में कर्नाटक में शिवसमुद्रम में जल-विद्युत केंद्र काम करने लगा। स्वतंत्रता से पहले बिजली की आपूर्ति मुख्य तौर पर निजी क्षेत्र करता था और यह सुविधा भी कुछ शहरों तक ही सीमित थी। 1948 में जारी विद्युत आपूर्ति अधिनियम और पंचवर्षीय योजनाओं के विभिन्न चरणों में राज्य बिजली बोडॉ का गठन, देशभर में बिजली आपूर्ति उद्योग के सुव्यवस्थित विकास की ओर एक महत्वपूर्ण कदम था।

एनटीपीसी लिमिटेड:

एनटीपीसी लिमिटेड (पूर्व नाम – राष्ट्रीय तापविद्युत निगम) भारत की सबसे बड़ी विद्युत उत्पादक कम्पनी है। सन् 2016 में के लिए विश्‍व की 2000 सबसे बड़ी कंपनियों में एनटीपीसी का 400 वां स्‍थान है। मई, 2010 को एनटीपीसी यह प्रतिष्ठा प्राप्त करने वाली सम्मानित चार कंपनियों में से, एक महारत्न कंपनी बन गई। यह भारत की सार्वजनिक क्षेत्र की कम्पनी है जो मुम्बई स्टॉक विनिमय में पंजीकृत है।

राष्ट्रीय ताप विद्युत निगम (एन.टी.पी.सी.) की स्थापना 1975 में नई दिल्ली में विद्युत के रख-रखाव हेतु की गई थी। राष्ट्रीय जल-विद्युत निगम (एन.एच.पी.सी.) की स्थापना 1975 में जल-विद्युत का सर्वांगीण विकास करने के उद्देश्य से की गई। एनएचपीसी के मुख्य उद्देश्यों में योजना बनाना, भारत और विदेश में परंपरागत व गैर-परंपरागत संसाधनों के माध्यम से इसके सभी पहलुओं में बिजली के एक एकीकृत एवं कुशल विकास को बढ़ावा देना एवं आयोजित करना और स्टेशनों में उत्पादित बिजली के ट्रांसमिशन, वितरण, कारोबार और बिक्री को बढ़ावा देना शामिल है। भारतीय बिजली ग्रिड निगम लिमिटेड (पावर ग्रिड) को 23 अक्टूबर, 1989 को विश्वसनीयता, सुरक्षा और अर्थव्यवस्था और ठोस व्यावसायिक सिद्धांतों के साथ विभिन्न क्षेत्रों के भीतर तथा उनके बीच बिजली के हस्तांतरण के लिए क्षेत्रीय तथा राष्ट्रीय बिजली ग्रिड की स्थापना एवं उसका संचालन करने हेतु सरकारी प्रतिष्ठान के रूप में गठित किया गया था। पावर ग्रिड को 1998 में देश के केंद्रीय ट्रांसमिशन संगठन के रूप में अधिसूचित किया गया था। 1 मई, 2008 को भारत सरकार द्वारा पावर ग्रिड को नवरत्न का दर्जा प्रदान किया गया।

ताप विद्युत:

तापीय ऊर्जा संयंत्र भारत में विद्युत के सबसे बड़े ऊर्जा स्रोत हैं। तापीय ऊर्जा संयंत्र में, जीवाश्म ईंधन (कोयला, ईंधन तेल एवं प्राकृतिक गैस) में स्थित रासायनिक ऊर्जा को क्रमशः तापीय ऊर्जा, यांत्रिक ऊर्जा एवं अंततः विद्युत ऊर्जा में परिवर्तित किया जाता है।

भारत में ऊर्जा (शक्ति) विकास के शुरुआती चरणों में, तापीय ऊर्जा स्टेशन बेहद छोटे नेटवर्क कनेक्शन के साथ कई छोटे और व्यापक रूप से छितरी हुई इकाइयों में थे। दामोदर घाटी निगम परियोजना के तहत् बोकारो (झारखण्ड) में 60 मेगावाट के चार ऊर्जा स्टेशनों की स्थापना भारत में बड़े पैमाने पर तापीय ऊर्जा के विकास की दिशा में प्रथम कदम था। यह पॉवर स्टेशन बाद में विकसित किए गए तापीय ऊर्जा स्टेशनों की वृहद श्रृंखला का अगुवा रहा।

भारत के मुख्य ताप विद्युत केन्द्रों की सूची:

राज्य / केन्द्र शासित प्रदेश थर्मल पावर प्लांट / स्टेशन का नाम
आंध्र प्रदेश सिम्हाद्री सुपर थर्मल पावर प्लांट
बिहार बरौनी थर्मल पावर स्टेशन
कहलगाँव सुपर थर्मल पावर स्टेशन
मुजफ्फरपुर थर्मल पावर प्लांट
छत्तीसगढ़ भिलाई विस्तार पावर प्लांट
कोरबा सुपर थर्मल पावर प्लांट
सिपाट थर्मल पावर प्लांट
डॉ. श्यामा प्रकाश मुखर्जी थर्मल पावर प्लांट
दिल्ली बदरपुर थर्मल पावर प्लांट
इंद्रप्रस्थ पावर स्टेशन
राजघाट पावर स्टेशन
गुजरात गांधीनगर थर्मल पावर स्टेशन
झहर-गंधार थर्मल पावर स्टेशन
कावासा थर्मल पावर स्टेशन
कच्छ लिग्नाइट थर्मल पावर स्टेशन
मुंद्रा थर्मल पावर प्लांट
साबरमती थर्मल पावर स्टेशन
सिक्का थर्मल पावर स्टेशन
सूरत लिग्नाइट थर्मल पावर स्टेशन
उकाई थर्मल पावर स्टेशन
वानकॉबो थर्मल पावर स्टेशन
झारखंड बोकारो थर्मल पावर स्टेशन
चंद्रपुरा थर्मल पावर स्टेशन
पतरातू थर्मल पावर स्टेशन
कर्नाटक बेल्लारी थर्मल पावर स्टेशन
रायचूर सुपर थर्मल पावर स्टेशन
उडुपी थर्मल पावर प्लांट
मध्य प्रदेश अमरकंटक थर्मल पावर स्टेशन
संजय गांधी थर्मल पावर स्टेशन
संत सिंहजी थर्मल पावर प्लांट
सतपुरा थर्मल पावर स्टेशन
विंध्याचल सुपर थर्मल पावर स्टेशन
महाराष्ट्र अमरावती थर्मल पावर प्लांट
भुसावल थर्मल पावर स्टेशन
चंद्रपुर सुपर थर्मल पावर स्टेशन
खपरखेड़ा थर्मल पावर स्टेशन
कोरडी थर्मल पावर स्टेशन
नासिक थर्मल पावर स्टेशन
पारस थर्मल पावर स्टेशन
परळी थर्मल पावर स्टेशन
तिरोरा थर्मल पावर प्लांट
ओडिशा आईबी थर्मल पावर प्लांट
हीराकुड कैप्टिव पावर प्लांट
तालचर सुपर थर्मल पावर स्टेशन
राजस्थान अन्ता थर्मल पावर स्टेशन
बरसिंगार लिग्नाइट पावर प्लांट
छाबड़ा थर्मल पावर प्लांट
गिरल लिग्नाइट थर्मल पावर स्टेशन
राजवेस्ट लिग्नाइट पावर प्लांट
सूरतगढ़ सुपर थर्मल पावर स्टेशन
वीएस लिग्नाइट पावर प्लांट
तमिलनाडु एनर्नोर थर्मल पावर स्टेशन
मेट्टुर थेरेल पावर स्टेशन
नेवेली थर्मल पावर स्टेशन
उत्तर चेन्नई थर्मल पावर स्टेशन
टूटीकोरिन थर्मल पावर स्टेशन
उत्तर प्रदेश अनपारा थर्मल पावर स्टेशन
औरैया थर्मल पावर स्टेशन
फिरोज गांधी उन्चाहायर थर्मल पावर प्लांट
हार्डुगंज थर्मल पावर स्टेशन
राष्ट्रीय राजधानी थर्मल पावर प्लांट
ओबरा थर्मल पावर स्टेशन
पंकी थर्मल पावर स्टेशन
परिच्छा थर्मल पावर स्टेशन
रिहाना थर्मल पावर स्टेशन
रोजा थर्मल पावर स्टेशन
सिंगरौली सुपर थर्मल पावर स्टेशन
टांडा थर्मल पावर प्लांट
पश्चिम बंगाल बकरेश्वर थर्मल पावर स्टेशन
बैंडेल थर्मल पावर स्टेशन
दुर्गापुर थर्मल पावर प्लांट
दुर्गापुर थर्मल पावर स्टेशन
फारक्का सुपर थर्मल पावर स्टेशन
कोलाघाट थर्मल पावर स्टेशन
मेजिआ थर्मल पावर स्टेशन
सागरदीघी थर्मल पावर स्टेशन
संतालडीह थर्मल पावर स्टेशन

📊 This topic has been read 9366 times.


You just read: Bharat Ke Pramukh Tharmal Paavar Plaant ( Major Thermal Power Plants/Stations Of India (In Hindi With PDF))

Related search terms: : भारत के ताप विद्युत केंद्र, भारत का सबसे बड़ा ताप विद्युत केंद्र, तापीय विद्युत संयंत्र, ताप विद्युत क्या है, Bharat Ke Pramukh Tap Vidyut Kendra

« Previous
Next »