लोक सेवा दिवस संक्षिप्त तथ्य

कार्यक्रम नामलोक सेवा दिवस (Public Service Day)
कार्यक्रम दिनांक21 / अप्रैल
कार्यक्रम का स्तरराष्ट्रीय दिवस
कार्यक्रम आयोजकभारत

लोक सेवा दिवस का संक्षिप्त विवरण

सिविल सेवा दिवस / लोक सेवा दिवस 21 अप्रैल को मनाया जाता है। इसे भारतीय प्रशासनिक सेवा, राज्य प्रशासनिक सेवा सहित सभी सिविल सेवाओं की उत्कृष्टता के लिए द्वारा मनाया जाता है। भारत सरकार प्रत्येक वर्ष 21 अप्रैल को लोकसेवा दिवस के रूप में मनाती है। इस दिन अखिल भारतीय सेवा के अधिकारियों को उनकी सर्वश्रेष्ठ सेवा के लिए पुरस्कृत किया जाता है।

लोक सेवा दिवस का इतिहास

हर साल देश में 21 अप्रैल को भारत सरकार द्वारा "सिविल सेवा दिवस" अथवा "लोक सेवा दिवस" के रूप में मनाया जाता है। इसे भारतीय प्रशासनिक सेवा, राज्य प्रशासनिक सेवा सहित सभी सिविल सेवाओं की उत्कृष्टता के लिए द्वारा मनाया जाता है। वर्ष 1947 में 21 अप्रैल को संसद के गृह सदस्य सरदार वल्लभ भाई पटेल द्वारा अखिल भारतीय सेवाओं के उद्घाटन के समय दिल्ली के मेटकाफ हाउस में भाषण के दौरान इसे "स्टील फ्रेम ऑफ इंडिया" के नाम से संबोधित किया गया था।

लोक सेवा दिवस का उद्देश्य

इस दिवस का उद्देश्य भारतीय प्रशासनिक सेवा, राज्य प्रशासनिक सेवा के सदस्यों द्वारा अपने आप को नागरिकों के लिए एक बार पुनः समर्पित और फिर से वचनबद्ध करना है।

यह दिन सिविल सेवकों को बदलते समय के चुनौतियों के साथ भविष्य के बारे में आत्मनिरीक्षण और सोचने का अवसर प्रदान करता है। इस अवसर पर, केन्द्रीय और राज्य सरकारों के सभी अधिकारियों को भारत के प्रधानमंत्री द्वारा सार्वजनिक प्रशासन में उत्कृष्टता के लिए सम्मानित किया जाता है।

लोक सेवा दिवस के बारे में अन्य विवरण

लोक प्रशासन में उत्कृष्टता के लिए प्रधानमंत्री पुरस्कार (PM Award for Excellence in Public Administration)

इस दिन अखिल भारतीय सेवाओं के विभिन्न अधिकारियों को उनकी सर्वश्रेष्ठ सेवा के हेतु पुरस्कृत किया जाता है यह अधिकारियों में बेहतर प्रदर्शन को अपने व्यवहार में लाने के साथ ही आने वाली नई चुनौतियों को निपटने के लिए अपनी कार्य क्षमता को बढ़ाने तथा सुधारने एवं विभिन्न नीतियों पर चर्चा कर मनन करने का अवसर मिलता है।

लोक प्रशासन में उत्कृष्टता के लिए प्रधानमंत्री पुरस्कार तीन श्रेणियों में प्रस्तुत किया जाता है। सम्मान/पुरस्कारों की इस योजना का गठन 2006 में किया गया, इस योजना के तहत, व्यक्तिगत रूप से या ग्रुप के रूप में या संगठन के रूप में सभी अधिकारी इसके पात्र हैं। पुरस्कार में एक पदक, स्क्रॉल और रू 1 लाख की नकद राशि भी शामिल है। एक ग्रुप के मामले में कुल पुरस्कार राशि 5 लाख रुपए है, प्रति व्यक्ति अधिकतम 1 लाख रूपए का भागीदार होता है। किसी संगठन के लिए नकद राशि 5 रु लाख तक सीमित है।

अप्रैल माह के महत्वपूर्ण दिवस की सूची - (राष्ट्रीय दिवस एवं अंतराष्ट्रीय दिवस):

तिथि दिवस का नाम - उत्सव का स्तर
01 अप्रैलअप्रैल मूर्ख दिवस - अंतरराष्ट्रीय दिवस
02 अप्रैलविश्व आत्मकेंद्रित जागरूकता दिवस - अंतरराष्ट्रीय दिवस
05 अप्रैलराष्ट्रीय समुद्री दिवस - राष्ट्रीय दिवस
06 अप्रैलविकास और शांति हेतु अंतरराष्ट्रीय खेल दिवस - अंतरराष्ट्रीय दिवस
07 अप्रैलविश्व स्वास्थ्य दिवस - अंतरराष्ट्रीय दिवस
10 अप्रैलविश्व होम्योपैथी दिवस - अंतरराष्ट्रीय दिवस
17 अप्रैलविश्व हीमोफीलिया दिवस - अंतरराष्ट्रीय दिवस
18 अप्रैलविश्व धरोहर दिवस - अंतरराष्ट्रीय दिवस
21 अप्रैललोक सेवा दिवस - राष्ट्रीय दिवस
22 अप्रैलविश्व पृथ्वी दिवस - अंतरराष्ट्रीय दिवस
23 अप्रैलविश्व पुस्तक एवं कॉपीराइट दिवस - अंतरराष्ट्रीय दिवस
24 अप्रैलराष्ट्रीय पंचायती राज दिवस - राष्ट्रीय दिवस
25 अप्रैलविश्व मलेरिया दिवस - अंतरराष्ट्रीय दिवस
29 अप्रैलअंतर्राष्ट्रीय नृत्य दिवस - अंतरराष्ट्रीय दिवस

लोक सेवा दिवस प्रश्नोत्तर (FAQs):

लोक सेवा दिवस प्रत्येक वर्ष 21 अप्रैल को मनाया जाता है।

हाँ, लोक सेवा दिवस एक राष्ट्रीय दिवस है, जिसे पूरे भारत हम प्रत्येक वर्ष 21 अप्रैल को मानते हैं।

लोक सेवा दिवस प्रत्येक वर्ष भारत द्वारा मनाया जाता है।

  Last update :  Tue 28 Jun 2022
  Post Views :  11583
अप्रैल मूर्ख दिवस (01 अप्रैल) का इतिहास, महत्व, थीम और अवलोकन
विश्व आत्मकेंद्रित जागरूकता दिवस (02 अप्रैल) का इतिहास, महत्व, थीम और अवलोकन
राष्ट्रीय समुद्री दिवस (05 अप्रैल) का इतिहास, महत्व, थीम और अवलोकन
विकास और शांति हेतु अंतरराष्ट्रीय खेल दिवस (06 अप्रैल) का इतिहास, महत्व, थीम और अवलोकन
विश्व स्वास्थ्य दिवस (07 अप्रैल) का इतिहास, महत्व, थीम और अवलोकन
विश्व होम्योपैथी दिवस (10 अप्रैल) का इतिहास, महत्व, थीम और अवलोकन
विश्व हीमोफीलिया दिवस (17 अप्रैल) का इतिहास, महत्व, थीम और अवलोकन
विश्व धरोहर दिवस (18 अप्रैल) का इतिहास, महत्व, थीम और अवलोकन
विश्व पृथ्वी दिवस (22 अप्रैल) का इतिहास, महत्व, थीम और अवलोकन
विश्व पुस्तक एवं कॉपीराइट दिवस (23 अप्रैल) का इतिहास, महत्व, थीम और अवलोकन
राष्ट्रीय पंचायती राज दिवस (24 अप्रैल) का इतिहास, महत्व, थीम और अवलोकन