अंतरराष्ट्रीय सहिष्णुता दिवस (16 नवम्बर) का इतिहास, महत्व, थीम और अवलोकन

अंतरराष्ट्रीय सहिष्णुता दिवस संक्षिप्त तथ्य

कार्यक्रम नामअंतरराष्ट्रीय सहिष्णुता दिवस (International Tolerance Day)
कार्यक्रम दिनांक16 / नवम्बर
कार्यक्रम की शुरुआत1996
कार्यक्रम का स्तरअन्तरराष्ट्री
कार्यक्रम आयोजकसंयुक्त राष्ट्र महासभा

अंतरराष्ट्रीय सहिष्णुता दिवस का संक्षिप्त विवरण

संपूर्ण विश्व में "अंतरराष्ट्रीय सहिष्णुता दिवस" मनाया मनाया जाता है। यह दिवस असहिष्णुता के खतरों की लोगों में जागरूकता उत्पन्न करने के लिए मनाया जाता है। प्रत्येक वर्ष अंतर्राष्ट्रीय दिवस के अवसर पर सहिष्णुता के लिए विभिन्न सम्मेलनों और समारोहों का आयोजन किया जाता है।

शांति शिखर सम्मेलन के साथ बांग्लादेश में इस दिन मनाया जाता है। शांति सम्मेलन का आयोजन प्रीनूर लैब और ई. एम. के. सेंटर द्वारा किया जाता है। सम्मेलन शांति, सहिष्णुता, फर्जी समाचार, ऑनलाइन सुरक्षा और नफरत जैसे मुद्दों पर देश की चुनौतियों पर बात करने और साझा करने का एक मंच है।

अंतरराष्ट्रीय सहिष्णुता दिवस का इतिहास

उल्लेखनीय है कि संयुक्त राष्ट्र महासभा ने वर्ष 1996 में इस दिवस को मनाने की घोषणा की थी। संयुक्त राष्ट्र महासभा द्वारा वर्ष 1995 को संयुक्त राष्ट्र असहिष्णुता वर्ष घोषित किया गया था।

यूनेस्को ने वर्ष 1995 में महात्मा गांधी की 125वीं जयंती के अवसर पर सहिष्णुता और अहिंसा को बढ़ावा देने के लिए "मदनजीत सिंह पुरस्कार" की स्थापना की थी। इस पुरस्कार का पूरा नाम यूनेस्को-मदनजीत सिंह पुरस्कार है। यह वैज्ञानिक, कलात्मक, सांस्कृतिक या संचार क्षेत्रों में महत्वपूर्ण गतिविधियों के लिए सम्मानित किया जाता है। इतना ही नहीं, बल्कि ऐसे संस्थानों, संगठनों या व्यक्तियों को भी सम्मानित किया जा सकता है, जिन्होंने प्रभावी तरीके से सहिष्णुता और अहिंसा में योगदान दिया है। 16 नवंबर को अंतर्राष्ट्रीय दिवस पर सहिष्णुता के लिए हर दो साल में पुरस्कार प्रदान किया जाता है। पुरस्कार समारोह के साथ, विजेता को यूएस $ 100,000 की राशि के साथ प्रस्तुत किया जाता है।

यह पुरस्कार विज्ञान, कला, संस्कृति अथवा संचार के क्षेत्र में सहिष्णुता और अहिंसा को बढ़ावा देने के उद्देश्य से किए गए काम के लिए दिया जाता है।

अंतरराष्ट्रीय सहिष्णुता दिवस का उद्देश्य

अंतरराष्ट्रीय सहिष्णुता दिवस का उद्देश्य सौहार्दपूर्ण सहअस्तित्व बनाए रखने और विश्व में शांति तथा सामंजस्य कायम करने के लिए लोगों को सहनशील बनने की आवश्यकता के विषय में जागरूक बनाना है। यह दिन लोगों को वैश्विक सहिष्णुता का महत्व और असहिष्णुता के दुष्प्रभाव बताता है। इस दिन दुनिया भर में अन्याय, पक्षपातपूर्ण भेदभाव और अत्याचार तथा समाज पर उनके दुष्प्रभावों पर वाद-विवाद तथा चर्चाएँ आयोजित की जाती हैं।

अंतरराष्ट्रीय सहिष्णुता दिवस कैसे मनाया जाता है?

सहिष्णुता दिवस को हम कई प्रकार से एक उत्सव के रूप मना सकते हैं हम एक समारोह का आयोजन कर सकते हैं जिसमे निम्नलिखित विचारों को साझा कर सकते हैं:-

  • इस दिन, आप अपने आस-पास के लोगों के बारे में अधिक जान सकते हैं और उनकी समस्याओं को सुनने और सुलझाने पर ध्यान दे सकते हैं।
  • शैक्षिक संस्थानों, कार्यालयों, खेल के मैदानों और सार्वजनिक स्थानों पर एक अनुकूल वातावरण बनाएं।
  • अपने आसपास के समुदायों के साथ एक पार्टी रखें।

अंतरराष्ट्रीय सहिष्णुता दिवस के बारे में अन्य विवरण

सहिष्णुता दिवस भाषण (Tolerance Day Speech )

अंतर्राष्ट्रीय सहिष्णुता दिवस लोगों के लिए समाजों के बीच नफरत और भेदभाव को कम करने का एक अनमोल समय है। अन्याय, भेदभाव और हिंसा असहिष्णुता के सामान्य रूप हैं।

सहिष्णुता दिवस समाज में असहिष्णुता और भेदभाव के हानिकारक प्रभावों को उजागर करता है। सहिष्णुता अन्य लोगों के अधिकारों और स्वतंत्रता के लिए सम्मान है। सहनशील होना न केवल एक सभ्य मानव और समाज का नैतिक कर्तव्य है, बल्कि एक शांतिपूर्ण और मैत्रीपूर्ण वातावरण की आवश्यकता भी है। बुनियादी से अंतर्राष्ट्रीय स्तर तक सहिष्णुता का तत्व मनुष्यों और राज्यों के लिए शांति और समृद्धि का एक लक्षण है।

सहिष्णुता और अहिंसा के प्रचार के लिए राज्यों को समानता और बुनियादी मानवाधिकारों के लिए कानून बनाना चाहिए। इन वांछित परिणामों के लिए मार्ग प्रशस्त करने के लिए शिक्षा एक महत्वपूर्ण उपकरण है। एक शांत और शांत समाज इस दिन का उद्देश्य है। हमें सहिष्णुता और अन्य लोगों के मूल मानवाधिकारों के सम्मान और अपनाने के लिए प्रिंट और सोशल मीडिया के माध्यम से भी अपनी भूमिका निभानी चाहिए।

सहिष्णुता एक अद्भुत उपकरण है जो विभिन्न धर्मों और संस्कृतियों के लोगों को एक साथ सद्भाव और शांति से रहने में मदद कर सकता है। अपने अर्थों में सहिष्णुता एक दायित्व है जो न केवल अनुष्ठानों और परंपराओं के संदर्भ में बल्कि हर धर्म के आध्यात्मिक पदानुक्रम में सामाजिक स्वीकृति को भड़काता है। अंततः क्या होता है जब लंबे समय तक चलने वाले और कभी-कभी जारी रहने वाले परिणाम होते हैं, जब यह चरमपंथ और अधिक स्पष्ट रूप से धार्मिक अतिवाद की बात आती है, तो एक बात जो अभाव है वह केवल सहिष्णुता है।

सहिष्णुता ने नस्लीयता के नट-शेल से एक व्यक्ति को बाहर निकाला है और इस तरह सदियों से मानवतावाद का उपयोग उपयोगितावादी आधार पर किया जा रहा है, जहां हर एक व्यक्ति दूसरे के कल्याण के लिए ज़िम्मेदार है और अगर इसे ठीक से लागू किया जाता है तो विश्वास और निर्भरता का एक मानव बंधन, प्रतिद्वंद्विता के विचारों को दूर फेंक देता है

नवम्बर माह के महत्वपूर्ण दिवस की सूची - (राष्ट्रीय दिवस एवं अंतराष्ट्रीय दिवस):

तिथि दिवस का नाम - उत्सव का स्तर
10 नवम्बरशांति एवं विकास हेतु विश्‍व विज्ञान दिवस (यूनेस्‍को) - अन्तरराष्ट्रीय दिवस
11 नवम्बरराष्‍ट्रीय शिक्षा दिवस - राष्ट्रीय दिवस
12 नवम्बरराष्ट्रीय पक्षी दिवस - राष्ट्रीय दिवस
14 नवम्बरबाल दिवस (जवाहर लाल नेहरू की जयंती) - राष्ट्रीय दिवस
14 नवम्बरविश्व मधुमेह (डायबिटीज) दिवस - अन्तरराष्ट्रीय दिवस
16 नवम्बरअंतर्राष्‍ट्रीय सहिष्णुता दिवस - अन्तरराष्ट्रीय दिवस
17 नवम्बरराष्ट्रीय पत्रकारिता दिवस - राष्ट्रीय दिवस
17 नवम्बरराष्ट्रीय मिरगी दिवस - राष्ट्रीय दिवस
20 नवम्बरसार्वभौमिक बाल दिवस (यूनिसेफ) - अन्तरराष्ट्रीय दिवस
21 नवम्बरविश्व दूरदर्शन (टेलीविजन) दिवस - अन्तरराष्ट्रीय दिवस
21 नवम्बरझलकारी जयंती - राष्ट्रीय दिवस
25 नवम्बरमहिलाओं के विरुद्ध हिंसा उन्‍मूलन अंतर्राष्‍ट्रीय दिवस - अन्तरराष्ट्रीय दिवस
26 नवम्बरविश्व पर्यावरण संरक्षण दिवस - अन्तरराष्ट्रीय दिवस
26 नवम्बरनेशनल लॉ दिवस - राष्ट्रीय दिवस
26 नवम्बरराष्ट्रीय दुग्ध दिवस - राष्ट्रीय दिवस
  Last update :  2022-06-28 11:44:49
  Post Views :  1313