विश्व बन्धुत्व और क्षमायाचना दिवस संक्षिप्त तथ्य

कार्यक्रम नामविश्व बन्धुत्व और क्षमायाचना दिवस (World Brotherhood and Apology Day)
कार्यक्रम दिनांक14 / सितम्बर
कार्यक्रम का स्तरअंतरराष्ट्रीय दिवस

विश्व बन्धुत्व और क्षमायाचना दिवस का संक्षिप्त विवरण

दुनिया के विभिन्न देशों में प्रति वर्ष 14 सितम्बर को विश्व बन्धुत्व और क्षमायाचना दिवस के रूप में मनाया जाता है।

विश्व बन्धुत्व और क्षमायाचना दिवस का उद्देश्य

विश्व वन्धुत्व और क्षमायाचना दिवस किसी भी गलत कार्यों को सुधारने के उपलक्ष्य में मनाया जाता है। यह दिवस लोगो के मध्य विद्यमान कटुता को दूर करता है। साथ ही लोगो को संयुक्त रूप में रहने के लिए प्रोत्साहित भी करता है। इसके अलावा यह समाज में व्याप्त विषमता और कटुता को समाप्त करने में सहायक है और समाज में परिवर्तन लाने में मददगार है।

विश्व बन्धुत्व और क्षमायाचना दिवस के बारे में अन्य विवरण

विश्व बन्धुत्व क्या है?

भाईचारा आज वर्तमान समय में एक आदर्श बन गया है। भाईचारा एक परिवार की तरह होता है। हम स्कूल वन्धुत्व चिकित्सा वन्धुत्व, इंजीनियरिंग वन्धुत्व, आदि के बारे में जानते हैं। इसके अलावा भी बहुत से ऐसे क्षेत्र हैं जहाँ पर वन्धुत्व को बढ़ावा दिया जाता है। भाईचारा लोगों के एक समूह के माध्यम से सम्पादित किया जाता है। भाईचारा को हम पार्टियों, शिक्षण, गतिविधियों एवं अन्य कई गतिविधियों में देख सकते हैं। भाईचारा के संपादन के समय अक्सर यह देखा जाता है कि कडवाहट की गतिविधि भी सम्पादित हो जाती है।

ईश्वर मानव की गलतियों को माफ करता है

हम सभी नें ध्यान की शक्ति, सकारात्मक सोच की शक्ति और कई अन्य शक्तियों की शक्ति के बारे में सुना है। हालांकि, खेद कहने की शक्ति स्वयं में काफी शक्तिशाली है। महत्वपूर्ण बात यह है कि कोई भी पश्चाताप और कार्यवाही दिल से की जानी चाहिए और वर्तमान में इसके अत्यंत जरुरत भी है। सबसे बड़ी बात तो यह है कि जोभी व्यक्ति यह कार्य करता है उसके दिल में अथाह दया का सागर भरा होता है। निःसंदेह माफ़ी मांगने की शाक्ति एक ऐसी शक्ति होती है जोकि पल भर में बहुत बड़ी दूरियों को भी समाप्त कर देती है। साथ ही समाज के मध्य विद्यमान दूरियों को मिटाती है।

वर्तमान में विविध संगठन, व्यक्तियों का समूह और समाज के अनेक वर्गों के द्वारा इस दिवस का आयोजन किया जा रहा है। लेकीन सबसे बड़ी बात तो यह है कि इसके संपादन के पीछे मूल उद्देश्य समाज के विकास का होना चाहिए। तभी हम एक संगठित समाज का निर्माण कर सकते हैं।

हमें आज इन नैतिक तत्वों के प्रति अपने आप को याद दिलाना है और दुनिया के हर कोने में हमें अपने तरीके से इस जश्न को मनाने की जरूरत है। माफ़ी मांगने में बड़ी शक्ति होती है, अर्थात इस शब्द को कह देने भर से शान्ति का अपने-आप स्थापन हो जाता है। इस शब्द के कहने भर से दूरियां मिट जाती हैं और लोगो के मध्य मतभेद मिट जाता है। जैसे ही आप किसी से माफ़ी मांगते हैं उसी वक्त आपके सकारात्मक व्यक्तित्व और स्वस्थ्य दिमाग के बारे में जानकारी हो जाती है। इस दिन को लोगो के मध्य से दूरियों को मिटाने में इस्तेमाल किया जाना चाहिए। अतः समय आ गया है कि संघर्ष को समाप्त किया जाये और आगे बढ़ा जाये।

सितम्बर माह के महत्वपूर्ण दिवस की सूची - (राष्ट्रीय दिवस एवं अंतराष्ट्रीय दिवस):

तिथि दिवस का नाम - उत्सव का स्तर
02 सितम्बरविश्व नारियल दिवस - अंतरराष्ट्रीय दिवस
05 सितम्बरशिक्षक दिवस: भारत - राष्ट्रीय दिवस
08 सितम्बरअंतर्राष्ट्रीय साक्षरता दिवस - अंतरराष्ट्रीय दिवस
11 सितम्बरविश्व प्राथमिक चिकित्सा दिवस - अंतरराष्ट्रीय दिवस
14 सितम्बरहिन्दी दिवस: भारत - राष्ट्रीय दिवस
14 सितम्बरविश्व बन्धुत्व और क्षमायाचना दिवस - अंतरराष्ट्रीय दिवस
15 सितम्बरअभियन्ता दिवस - राष्ट्रीय दिवस
16 सितम्बरविश्व ओजोन दिवस - अंतरराष्ट्रीय दिवस
17 सितम्बरभगवान विश्वकर्मा जयन्ती - राष्ट्रीय दिवस
21 सितम्बरविश्व शांति दिवस - अंतरराष्ट्रीय दिवस
21 सितम्बरविश्व अल्जाइमर दिवस - अंतरराष्ट्रीय दिवस
26 सितम्बरविश्व मूक बधिर दिवस - अंतरराष्ट्रीय दिवस
27 सितम्बरविश्व पर्यटन दिवस - अंतरराष्ट्रीय दिवस
29 सितम्बरविश्व हृदय दिवस - अंतरराष्ट्रीय दिवस

विश्व बन्धुत्व और क्षमायाचना दिवस प्रश्नोत्तर (FAQs):

विश्व बन्धुत्व और क्षमायाचना दिवस प्रत्येक वर्ष 14 सितम्बर को मनाया जाता है।

हाँ, विश्व बन्धुत्व और क्षमायाचना दिवस एक अंतरराष्ट्रीय दिवस है, जिसे पूरे विश्व हम प्रत्येक वर्ष 14 सितम्बर को मानते हैं।

  Last update :  Tue 28 Jun 2022
  Post Views :  7371
विश्व नारियल दिवस (02 सितम्बर) का इतिहास, महत्व, थीम और अवलोकन
शिक्षक दिवस: भारत (05 सितम्बर) का इतिहास, महत्व, थीम और अवलोकन
अंतर्राष्ट्रीय साक्षरता दिवस (08 सितम्बर) का इतिहास, महत्व, थीम और अवलोकन
विश्व प्राथमिक चिकित्सा दिवस (11 सितम्बर) का इतिहास, महत्व, थीम और अवलोकन
हिन्दी दिवस: भारत (14 सितम्बर) का इतिहास, महत्व, थीम और अवलोकन
अभियन्ता दिवस (15 सितम्बर) का इतिहास, महत्व, थीम और अवलोकन
विश्व ओजोन दिवस (16 सितम्बर) का इतिहास, महत्व, थीम और अवलोकन
विश्व शांति दिवस (21 सितम्बर) का इतिहास, महत्व, थीम और अवलोकन
विश्व अल्जाइमर दिवस (21 सितम्बर) का इतिहास, महत्व, थीम और अवलोकन
विश्व मूक बधिर दिवस (26 सितम्बर) का इतिहास, महत्व, थीम और अवलोकन
विश्व पर्यटन दिवस (27 सितम्बर) का इतिहास, महत्व, थीम और अवलोकन