थाईलैण्ड देश के रोचक तथ्य और ऐतिहासिक जानकारी

विश्व के भूगोल में थाईलैण्ड देश का एक अलग ही स्थान है| इस देश में कई ऐसी बातें है जो इस देश को अन्य देशों से अलग करती है जैसे की भाषा, रहन सहन, वेश-भूषा, संस्कृति, धर्म, व्यवसाय| आइये जानते है थाईलैण्ड (Thailand) देश से जुड़े कुछ ऐसे अनोखे तथ्य तथा इतिहास से जुड़ी महत्वपूर्ण घटनाओं के बारे में, जिन्हें जानकर आपका ज्ञान बढ़ेगा|

थाईलैण्ड देश की संक्षिप्त जानकारी

देश का नामथाईलैण्ड
देश की राजधानीबैंकाक
देश की मुद्राबह्ट (Baht)
महाद्वीप का नामAsia

Read Also: देश का नाम, उनकी राजधानी तथा मुद्रा की सूची

थाईलैण्ड देश का इतिहास

थाईलैंड के लोगों ने 11 वीं शताब्दी से दक्षिण-पश्चिमी चीन से मुख्य भूमि दक्षिण पूर्व एशिया की ओर पलायन किया और इस क्षेत्र में उनकी उपस्थिति का सबसे पुराना उल्लेख 12 वीं शताब्दी के नाम स्याम देश की तारीखों से हुआ। 18 वीं और 19 वीं शताब्दी के दौरान, सियाम ने फ्रांस और यूनाइटेड किंगडम से साम्राज्यवादी दबाव का सामना किया 1932 में एक रक्तहीन क्रांति के बाद, सियाम एक संवैधानिक राजतंत्र बन गया और इसका आधिकारिक नाम बदलकर "थाईलैंड" कर दिया गया।

थाईलैण्ड देश का भूगोल

कुल 513,120 वर्ग किलोमीटर (198,120 वर्ग मील), थाईलैंड कुल क्षेत्रफल के हिसाब से 50 वां सबसे बड़ा देश है। यह यमन से थोड़ा छोटा और स्पेन से थोड़ा बड़ा है। थाईलैंड में कई अलग-अलग भौगोलिक क्षेत्र शामिल हैं, जो आंशिक रूप से प्रांतीय समूहों के अनुरूप हैं। देश के उत्तर में थाई हाइलैंड्स का पहाड़ी क्षेत्र है, जिसमें थानोन थोंग चाई रेंज में सबसे ऊंचा स्थान है। थाईलैंड की जलवायु मानसूनी हवाओं से प्रभावित होती है जिसमें एक मौसमी चरित्र (दक्षिण-पश्चिम और उत्तर-पूर्व मानसून) होता है। अधिकांश देश को कोपेन की उष्णकटिबंधीय सवाना जलवायु के रूप में वर्गीकृत किया गया है।

थाईलैण्ड देश की अर्थव्यवस्था

थाईलैंड एक उभरती हुई अर्थव्यवस्था है और इसे एक नव औद्योगीकृत देश माना जाता है। थाईलैंड में 2017 अमेरिकी डॉलर 1.236 ट्रिलियन (क्रय शक्ति समता आधार पर) था। इंडोनेशिया के बाद थाईलैंड दक्षिणपूर्व एशिया में दूसरी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था है। सिंगापुर, ब्रुनेई और मलेशिया के बाद थाईलैंड जीडीपी में प्रति व्यक्ति जीडीपी के अनुसार 4 वें सबसे अमीर देश है। 2014 की तीसरी तिमाही में, थाईलैंड की राष्ट्रीय आर्थिक और सामाजिक विकास बोर्ड (NDBDB) के अनुसार थाईलैंड में बेरोजगारी दर 0.84% थी।

थाईलैण्ड देश की भाषा

थाईलैंड की आधिकारिक भाषा थाई है, एक क्राई-दाई भाषा है जो लाओ से संबंधित है, म्यांमार में शान है, और हैनान और युन्नान दक्षिण से चीनी सीमा तक एक चाप में बोली जाने वाली कई छोटी भाषाएँ हैं। यह शिक्षा और सरकार की प्रमुख भाषा है और पूरे देश में बोली जाती है। मानक केंद्रीय थाई लोगों की बोली पर आधारित है

थाईलैण्ड देश से जुड़े रोचक तथ्य और अनोखी जानकारियाँ

  • थाईलैण्ड को आधिकारिक तौर पर थाईलैंड का साम्राज्य कहा जाता है एशिया के दक्षिण पूर्व में स्थित है।
  • थाईलैण्ड की सीमाएं दक्षिण में मलेशिया से, पूर्व में लाओस और कम्बोडिया से और पश्चिम में म्यांमार से लगती है।
  • थाईलैण्ड एकमात्र ऐसा दक्षिणपूर्व एशियाई देश है जिसे कभी यूरोपीय देश द्वारा उपनिवेशित नहीं किया गया था।
  • थाईलैण्ड को इसका ये नाम 11 मई, 1949 मिला उससे पहले इसे श्यामदेश या सियाम कहकर संबोधित किया जाता था।
  • थाईलैण्ड का कुल क्षेत्रफल 513,120 वर्ग कि.मी. (198,120 वर्ग मील) है।
  • थाईलैण्ड की आधिकारिक भाषा थाई है।
  • थाईलैण्ड की मुद्रा का नाम बह्ट (Baht) है।
  • विश्व बैंक के अनुसार 2016 में थाईलैण्ड की कुल जनसंख्या 6.89 करोड़ थी।
  • थाईलैण्ड में अधिकत्तर लोगो का धर्म बुद्ध धर्म, इस्लाम, ईसाई और हिन्दू धर्म है।
  • थाईलैण्ड में सबसे महत्वपूर्ण जातीयसमूह केंद्रीय थाई, खोन इसान, खोन मॉंग, थाई चीनी और दक्षिणी थाई है।
  • थाईलैण्ड का सबसे ऊँचा पर्वत डोई इन्थानोन (Doi Inthanon) है, जिसकी ऊंचाई 2,565 मीटर है।
  • थाईलैण्ड की सबसे लंबी नदी ची नदी (Chi River) है, जिसकी लंबाई 765 कि.मी. है।
  • थाईलैण्ड में 2004 में आयी सुनामी के कारण थाईलैण्ड तटो पर 30 फीट उंचाई तक पानी चढ़ गया था जिसमे लगभग 8000 लोगो की मौत हुई, लगभग 1500 बच्चे अनाथ हो गये और डेढ़ लाख से ज्यादा लोगो के रोजगर खत्म हो गये।
  • थाईलैण्ड की मूड्सकिप्पर मछली (mudskipper fish) एक अनोखा जीव है क्यूंकि वह धरती पर चल सकता है और पेड़ो पर भी चढ़ सकता है।
  • थाईलैण्ड में प्रसिद्ध ग्रन्थ रामाकीइन (Ramakien) है जो वास्तव में रामायण का थाई संस्करण है।

थाईलैण्ड के आबादी वाले शहरों की सूची

Chanthaburi, Phangnga, Mae Hong Son, Phetchaburi, Chumphon, Nan, Prachin Buri, Uttaradit, Sakhon Nakhon, Saraburi, Narathiwat, Bangkok, Kanchanaburi, Samut Sakhon, Surin, Kamphaeng Phet, Chaiyaphum, Lop Buri, Nakhon Phanom, Kalasin, Supham Buri, Maha Sarakham, Phetchabun, Hua Hin, Chachoengsao, Songkhla, Buriram, Mae Sot, Sisaket, Phatthalung, Chiang Mai, Roi Et, Samut Prakan, Phrae, Rayong, Phichit, Loei, Samut Songkhram, Satun, Prachuap Khiri Khan, Nakhon Ratchasima, Tak, Hat Yai, Krabi, Thung Song, Ubon Ratchathani, Nonthaburi, Khon Kaen, Udon Thani, Ranong, Nakhon Si Thammarat, Chon Buri, Aranyaprathet, Uthai Thani, Yasothon, Trat, Nakhon Nayok, Phayao, Lampang, Sing Buri, Bua Yai, Si Racha, Phitsanulok, Surat Thani, Chainat, Pathum Thani, Pattani, Yala, Trang, Ayutthaya, Phuket, Lamphun, Ang Thong, Nakhon Pathom, Chiang Rai, Nakhon Sawan, Ratchaburi, Nong Khai, Sukhothai, Amnat Charoen, Bueng Kan, Sa Kaeo, Mukdahan, Nong Bua Lamphu,

थाईलैण्ड के 7 पड़ोसी देश

Cambodia [LM] , India [M] , Indonesia [M] , Laos [L] , Malaysia [LM] , Myanmar [LM] , Vietnam [M] ,
अंतरराष्ट्रीय सीमा की परिभाषा: L = Land Border (भूमि सीमा)| M = Maritime Border (समुद्री सीमा)


You just read: History About Thailand - ASIA CONTINENT Topic

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *