नाउरू देश का इतिहास, भूगोल, अर्थव्यवस्था तथा महत्वपूर्ण घटनाएं

✅ Published on August 16th, 2018 in ओशिनिया द्वीपसमूह, देशों की जानकारी

विश्व के भूगोल में नाउरू देश का एक अलग ही स्थान है| इस देश में कई ऐसी बातें है जो इस देश को अन्य देशों से अलग करती है जैसे की भाषा, रहन सहन, वेश-भूषा, संस्कृति, धर्म, व्यवसाय| आइये जानते है नाउरू(Nauru) देश से जुड़े कुछ ऐसे अनोखे तथ्य तथा इतिहास से जुड़ी महत्वपूर्ण घटनाओं के बारे में, जिन्हें जानकर आपका ज्ञान बढ़ेगा|

नाउरू देश की संक्षिप्त जानकारी

देश का नामनाउरू
देश की राजधानीयारेन
देश की मुद्राऑस्ट्रलियन डॉलर
महाद्वीप का नामOceania

Read Also: देश का नाम, उनकी राजधानी तथा मुद्रा की सूची

नाउरू को माइक्रोनेशिया और पोलिनेशिया के लोगों द्वारा 1000 ई.पू. बसाया गया। और 19 वीं शताब्दी के अंत में जर्मन साम्राज्य द्वारा एक उपनिवेश के रूप में घोषित किया गया था। प्रथम विश्व युद्ध के बाद, नाउरू ऑस्ट्रेलिया, न्यूजीलैंड और यूनाइटेड किंगडम द्वारा प्रशासित राष्ट्र जनादेश का संघ बन गया। द्वितीय विश्व युद्ध के दौरान, नौरु पर जापानी सैनिकों का कब्जा था, और प्रशांत भर में मित्र देशों द्वारा अग्रिम बायपास किया गया था। युद्ध समाप्त होने के बाद, देश ने संयुक्त राष्ट्र के ट्रस्टीशिप में प्रवेश किया। नौरु ने 1968 में अपनी स्वतंत्रता प्राप्त की, और 1969 में प्रशांत समुदाय (एसपीसी) का सदस्य बन गया।
नाउरू, आधिकारिक तौर पर नाउरू गणराज्य और पूर्व में सुखद द्वीप के रूप में जाना जाता है, मध्य प्रशांत क्षेत्र में एक द्वीप देश और ओशिनिया में माइक्रोस्टेट है। इसका निकटतम पड़ोसी पूर्व में 300 किमी किरिबाती में बनेबा द्वीप है। यह आगे तुवालु के उत्तर-पश्चिम में, सोलोमन द्वीप के उत्तर-पूर्व में 1,300 किमी, पापुआ न्यू गिनी के पूर्व-उत्तर-पूर्व में, माइक्रोनेशिया के फेडरेटेड राज्यों के दक्षिण-पूर्व में और मार्शल द्वीपों के दक्षिण में स्थित है। केवल 21 किमी2 क्षेत्र के साथ, नाउरू वेटिकन सिटी और मोनाको के पीछे दुनिया का तीसरा सबसे छोटा देश है, जो इसे सबसे छोटा गणराज्य बनाता है। इसके अतिरिक्त, वेटिकन सिटी के बाद 10,670 की आबादी दुनिया की दूसरी सबसे छोटी है।
नाउरू की अर्थव्यवस्था छोटी है, जो 2019 में केवल 11,550 लोगों की आबादी पर आधारित है। अर्थव्यवस्था ऐतिहासिक रूप से फॉस्फेट खनन पर आधारित है। 2010 के अंत तक प्राथमिक फॉस्फेट भंडार समाप्त होने के साथ, नाउरू ने अपनी आय के स्रोतों में विविधता लाने की कोशिश की। 2020 में, नाउरू की आय के मुख्य स्रोत नौरु के क्षेत्रीय जल में मछली पकड़ने के अधिकार की बिक्री और क्षेत्रीय प्रसंस्करण केंद्र से राजस्व थे। नाउरू विदेशी सहायता पर निर्भर है, मुख्यतः ऑस्ट्रेलिया, ताइवान और न्यूजीलैंड से। 1 अक्टूबर 2014 को, पहली बार नौरु में एक आयकर लगाया गया था, जिसमें उच्च आय वाले लोग 10% की फ्लैट दर का भुगतान करते थे।
नाउरू की आधिकारिक भाषा नौरुआन है, जो एक अलग माइक्रोनियन भाषा है, जो घर में 96 प्रतिशत जातीय नौरुओं द्वारा बोली जाती है। अंग्रेजी व्यापक रूप से बोली जाती है और सरकार और वाणिज्य की भाषा है, क्योंकि देश के बाहर नौरुआन का उपयोग नहीं किया जाता है। नाउरू दुनिया का सबसे छोटा द्वीप राष्ट्र है यह विश्व का सबसे छोटा स्वतंत्र गणराज्य और दुनिया में सिर्फ एकमात्र ऐसा गणतांत्रिक राष्ट्र है जिसकी कोई राजधानी नहीं है।
  • नाउरु को आधिकारिक तौर पर नाउरु गणराज्य कहा जाता है जो मैक्रोनेशियाई दक्षिण प्रशांत महासागर में स्थित एक द्वीपीय देश है।
  • नाउरु ने 31 जनवरी 1968 में संयुक्त राष्ट्र न्यासधारिता (UN trusteeship) से स्वतंत्रता हासिल की थी।
  • नाउरु विश्व का सबसे छोटा स्वतंत्र गणराज्य है, और इसे 1999 में संयुक्त राष्ट्र संघ में शामिल कर लिया गया था।
  • नाउरु का कुल क्षेत्रफल 21 वर्ग कि.मी. (8.1 वर्ग मील) है जो इसे विश्व का सबसे छोटा द्वीप देश बनती है।
  • नाउरु की आधिकारिक भाषाएं नौरुँ और अंग्रेजी है।
  • नाउरु की मुद्रा का नाम ऑस्ट्रलियन डॉलर है।
  • विश्व बैंक के अनुसार 2016 में नाउरु की कुल जनसंख्या 13,049 थी।
  • नाउरु में अधिकत्तर लोगो का धर्म ईसाई है और कुछ नास्तिक है।
  • नाउरु में सबसे महत्वपूर्ण जातीयसमूह व्हाइट, मुलाटटो, मेस्टिज़ो, ज़म्बो, या पारडो और काले है।
  • नाउरु की सबसे बड़ी झील बुआडा लैगून (Buada Lagoon) है जोकि एक मीठे पानी की झील है, यह 0.13 वर्ग कि.मी. के क्षेत्रफल में फैली है।
  • नाउरु में यातायात की सुविधाओं में रेलवे लाइन मात्र 5 कि.मी. लंबी है, देश में केवल एक हवाई अड्डा है जिसका नाम नाउरु अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डा है।
  • नाउरु द्वीप का राष्ट्रीय पकवान नारियल मछली (Coconut Fish) है।
  • 08 नवम्बर 1798 - ब्रिटिश व्हेलर जॉन फेर्न नाउरू पर उतरने वाला पहला यूरोपीय बन गया।
Kiribati [M] , Marshall Islands [M] ,
अंतरराष्ट्रीय सीमा की परिभाषा: L = Land Border (भूमि सीमा)| M = Maritime Border (समुद्री सीमा)

📊 This topic has been read 19 times.

« Previous
Next »