विश्व की प्रमुख अंतरराष्ट्रीय रेखाएँ और महत्वपूर्ण तथ्यों की सूची

विश्व की प्रमुख महत्वपूर्ण सीमा अंतरराष्ट्रीय रेखाएँ: (Important International Boundary Lines in Hindi)

प्रत्येक देश अपने देश की सीमा की रक्षा करने के लिए एक निश्चित सीमा का निर्धारण करता है। इस सीमा को पार करना देश की सीमा में घुसपैठ माना जाता है। इन सीमाओं के निर्धारण का एक फायदा यह भी है कि देशों को यह बात पता होती है कि उन्हें कहां तक अपने राज्य की सीमा का विस्तार करना है। ऐसी ही कुछ प्रमुख सीमाओं का वर्णन इस लेख में किया गया है।

विश्व की मुख्य अंतरराष्ट्रीय सीमा रेखाएं:

  • डूरंड रेखा (Durand Line): अफ़ग़ानिस्तान और पाकिस्तान की सीमा पर 2,640 किलोमीटर लम्बी सीमा रेखा को डूरंड रेखा कहते हैं। यह रेखा सन 1893 में ब्रिटिश इंडिया और अफ़ग़ान प्रतिनिधियों के बीच हई एक सहमती का नतीजा है। इस रेखा का नाम ब्रिटिश इंडिया के तत्कालीन विदेश मंत्री सर मॉर्टिमर डूरंड के नाम पर रखा गया था।
  • मैकमोहन रेखा (Macmahon Line): 700 किमी. लम्बी इस रेखा को 1914 में सर मैकमोहन (ब्रिटेन) ने भारत-चीन सीमा के विवाद को सुलझाने के लिए तैयार किया था।
  • रेडक्लिफ रेखा (Radcliffe Line): रेडक्लिफ रेखा भारत और पाकिस्तान के मध्य सीमाओं का निर्धारण करती है। यह सीमा 3310 किमी लम्बी है। 15 अगस्त 1947 को सर रेडक्लिफ ने इस सीमा का निर्धारण किया था।
  • हिंडनबर्ग रेखा (Hindenburg Line): यह रेखा जर्मनी और पोलैंड के मध्य स्थित है। प्रथम विश्व युद्ध के समय जर्मनी की सेना इसी रेखा से लौटी थी।
  • मैनरहीन रेखा (Mannerheim Line): मैनरहीन रेखा रूस और फ़िनलैंड के बीच की रेखा है।
  • मैगीनाट रेखा (Maginot Line): मैगीनाट रेखा फ़्रांस द्वारा खिंची गयी जर्मनी और फ़्रांस के बीच की सीमा रेखा है। यह रेखा कंक्रीट, लोहा इत्यादि से मिलकर बनी है। इसका निर्माण 1929 से 1938 के बीच किया गया था।
  • 17 वीं समानांतर रेखा (17th Parallel): 17वीं समानांतर रेखा उत्तरी वियतनाम तथा दक्षिण वियतनाम के बीच स्थित थी। वियतनाम के एकीकरण के पहले यह देश को दो भागों में बांटती थी। अब यह रेखा नही है क्योंकि वियतनाम अब संयुक्त हो गया है।
  • 20 वां समानांतर रेखा (20th Parallel): 20 वां समानांतर रेखा लीबिया और सूडान बीच स्थित है। यह 20 वें उत्तरी अक्षांश पर स्थित है जिसका उपयोग सूडान और लीबिया के बीच सीमा के रूप में किया जाता है।
  • 22 वां समानांतर रेखा (22nd Parallel): 22 वां समानांतर रेखा मिस्र और सूडान बीच स्थित है। भूमध्य रेखा के उत्तर में 22 वां अक्षांश सूडान-मिस्र सीमा का एक बड़ा हिस्सा है।
  • 24वीं समानांतर रेखा (24th Parallel): 24वीं समानांतर रेखा रेखा भारत तथा पाकिस्तान के बीच कच्छ के पास स्थित है। पाकिस्तान के अनुसार यह रेखा भारत पाकिस्तान के बीच सीमा का निर्धारण करती है लेकिन भारत इस रेखा को स्वीकार नहीं करता है।
  • 25 वां समानांतर रेखा (25nd Parallel): 25 वां समानांतर रेखा मॉरिटानिया और माली बीच स्थित है। माली-मॉरिटानिया सीमा का सबसे उत्तरी भाग इस रेखा का उपयोग करके चिह्नित किया गया है।
  • 31 वां समानांतर रेखा (31st Parallel): 31 वां समानांतर रेखा ईरान और इराक बीच स्थित है। 31 वाँ उत्तरी अक्षांश इराक और ईरान के बीच की सीमा को चिह्नित करता है। यह अमेरिका के लुइसियाना और मिसिसिपी राज्यों के बीच की सीमा का भी सीमांकन करता है।
  • 38वीं समानांतर रेखा (38th Parallel): 38वीं समानांतर रेखा उत्तर कोरिया तथा दक्षिण कोरिया को दो भागों में बांटती है।
  • 1410 पश्चिमी देशांतर रेखा: 1410 पश्चिमी देशांतर रेखा अलास्का (USA) और कनाडा के बीच की सीमा रेखा है।
  • 49वीं समानांतर रेखा (49th Parallel): 49वीं समानांतर रेखा उत्तरी अमेरिका तथा कनाडा को दो भागों में बांटती है।
  • ओडरनीसे रेखा (Order-Neisse Line): ओडरनीसे रेखा पूर्व जर्मनी तथा पोलैंड के बीच स्थित है और द्वितीय विश्व युद्ध के बाद निर्धारित की गई।
  • सिगफ्रीड रेखा (Seigfrid Line): सीजफ्राइड रेखा जर्मनी तथा फ्रांस के बीच है और इसे जर्मनी ने बनाया है।
यह भी पढ़े: विश्व के प्रमुख अंतर्राष्ट्रीय संगठन और उनके मुख्यालयो की सूची

📅 Last update : 2020-10-28 22:02:24