भारत के राष्ट्रीयकृत बैंक और उनके अध्यक्ष

भारतीय सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों के नाम, उनके अध्यक्ष और मुख्यालय:

बैंक क्या है या किसे कहते है?

बैंक (Bank) उस वित्तीय संस्था को कहते हैं जो जनता से धनराशि जमा करने तथा जनता को ऋण देने का काम करती है। लोग अपनी अपनी बचत राशि को सुरक्षा की दृष्टि से अथवा ब्याज कमाने के हेतु इन संस्थाओं में जमा करते और आवश्यकतानुसार समय समय पर निकालते रहते हैं। बैंक इस प्रकार जमा से प्राप्त राशि को व्यापारियों एवं व्यवसायियों को ऋण देकर ब्याज कमाते हैं। आर्थिक आयोजन के वर्तमान युग में कृषि, उद्योग एवं व्यापार के विकास के लिए बैंक एवं बैंकिंग व्यवस्था एक अनिवार्य आवश्यकता मानी जाती है।

बैंक के कार्य:

राशि जमा रखने तथा ऋण प्रदान करने के अतिरिक्त बैंक अन्य काम भी करते हैं जैसे, सुरक्षा के लिए लोगों से उनके आभूषणादि बहुमूल्य वस्तुएँ जमा रखना, अपने ग्राहकों के लिए उनके चेकों का संग्रहण करना, व्यापारिक बिलों की कटौती करना, एजेंसी का काम करना, गुप्त रीति से ग्राहकों की आर्थिक स्थिति की जानकारी लेना देना। अत: बैंक केवल मुद्रा का लेन देन ही नहीं करते वरन् साख का व्यवहार भी करते हैं। इसीलिए बैंक को साख का सृजनकर्ता भी कहा जाता है।

बैंक देश की बिखरी और निठल्ली संपत्ति को केंद्रित करके देश में उत्पादन के कार्यों में लगाते हैं जिससे पूँजी निर्माण को प्रोत्साहन मिलता है और उत्पादन की प्रगति में सहायता मिलती है। यहां हम आपके साथ भारतीय सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों के नाम, उनके अध्यक्ष और मुख्यालयों की जानकारी साझा कर रहे हैं आशा करते हैं यह आपके आगामी परीक्षाओं में आपकी सहायता करेगी। इस पृष्ठ पर भारतीय राष्ट्रीयकृत बैंक और उनके मुख्यालयों को एक पंक्ति में सूचीबद्ध किया गया है:-

भारत के राष्ट्रीयकृत बैंक, उनके अध्यक्ष और मुख्यालयों की सूची:

  1. भारतीय स्टेट बैंक
  2. पंजाब नेशनल बैंक (ओरिएंटल बैंक ऑफ कॉमर्स और यूनाइटेड बैंक ऑफ इंडिया के विलय के साथ)
  3. बैंक ऑफ बड़ौदा
  4. केनरा बैंक (सिंडिकेट बैंक के विलय के साथ)
  5. यूनियन बैंक ऑफ इंडिया (आंध्र बैंक और कॉर्पोरेशन बैंक के विलय के साथ)
  6. बैंक ऑफ इंडिया
  7. भारतीय बैंक (इलाहाबाद बैंक के विलय के साथ)
  8. सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया
  9. इंडियन ओवरसीज बैंक
  10. यूको बैंक
  11. बैंक ऑफ महाराष्ट्र
  12. पंजाब एंड सिंध बैंक

बैंक ऑफ बड़ौदा 

बैंक ऑफ बड़ौदा एक भारतीय बहुराष्ट्रीय बैंक है। यह 1908 में स्थापित देश का तीसरा सबसे बड़ा सार्वजनिक क्षेत्र का बैंक है। बैंक ऑफ बड़ौदा का विलय विजया बैंक और देना बैंक के साथ किया जाएगा, जो देश के तीसरे सबसे बड़े 14.82 लाख करोड़ रु के साथ किया जाएगा। मुख्यालय: गुजरात, भारत वर्तमान अध्यक्ष: हसमुख अधिया (Hasmukh Adhia) टोल फ्री: 1800 258 44 55, 1800 102 44 55 आधिकारिक वेबसाइट: bankofbaroda.com शाखाएँ: 9500+ राजस्व: 50,305 करोड़ रु. ($ 7.3 बिलियन) पूंजी अनुपात: 12.13%

बैंक ऑफ इंडिया 

बैंक ऑफ इंडिया SWIFT (सोसायटी फॉर वर्ल्डवाइड इंटर बैंक फाइनेंशियल टेलीकॉम - Society for Worldwide Interbank Financial Telecommunication) का संस्थापक सदस्य है और भारत में शीर्ष 5 बैंकों में से एक है। मुख्यालय: मुंबई, भारत वर्तमान अध्यक्ष: जी. पद्मनाभन (गैर-निर्वासित अध्यक्ष), अतनु कुमार दास (MD और CEO) टोल फ्री: 1800 220 229, 1800 103 1906 ई-मेल आईडी: boi.customerservice@oberthur.com आधिकारिक वेबसाइट: bankofindia.co.in शाखाएँ: 5300+ राजस्व: Rs.462.68 बिलियन ($ 6.7 बिलियन) पूंजी अनुपात: 12.01%

बैंक ऑफ महाराष्ट्र

बैंक ऑफ महाराष्ट्र एक प्रमुख सार्वजनिक क्षेत्र का बैंक है। भारत सरकार के पास इस बैंक का 87.74% हिस्सा है। इसकी स्थापना 1935 में हुई है। मुख्यालय: पुणे, भारत वर्तमान अध्यक्ष: ए. एस. राजीव टोल फ्री: 1800 233 4526, 1800 102 2636 ई-मेल आईडी: mahaconnect@mahabank.co.in आधिकारिक वेबसाइट: bankofmaharashtra.in शाखाएँ: 1800+ राजस्व: Rs.13,052.98 करोड़ ($ 1.9 बिलियन) पूंजी अनुपात: 11.20%

केनरा बैंक 

केनरा बैंक भारत के सबसे पुराने सार्वजनिक बैंकों में से एक है। बैंक की स्थापना 1906 में केनरा हिंदू स्थायी कोष के नाम से हुई थी, लेकिन बाद में इसका नाम बदलकर 1910 में केनरा बैंक लिमिटेड कर दिया गया। कैनरा बैंक का विलय सिंडिकेट बैंक के साथ देश के चौथे सबसे बड़े सार्वजनिक क्षेत्र के बैंक में हो जाएगा। कुल कारोबार 15.2 लाख करोड़ रुपये होगा। यह भारत का तीसरा सबसे बड़ा शाखा नेटवर्क भी बन जाएगा। मुख्यालय: बैंगलोर, भारत वर्तमान अध्यक्ष: लिंगम वेंकट प्रभाकर टोल फ्री: 1800 425 0018 आधिकारिक वेबसाइट: canarabank.com शाखाएँ: 6300+ राजस्व: Rs.54,269 करोड़ ($ 7.9 बिलियन) पूंजी अनुपात: 12.86%

सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया 

सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया अठारह सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों में से एक था जो 2009 में पुनर्पूंजीकृत हो गया। 1911 में इसकी स्थापना हुई। मुख्यालय: मुंबई, भारत वर्तमान अध्यक्ष: तपन रे (गैर-कार्यकारी अध्यक्ष) टोल फ्री: 1800 22 1911 ई-मेल आईडी: cbsnethelp@centralbank.co.in आधिकारिक वेबसाइट: centralbankofindia.co.in शाखाएँ: 4600+ राजस्व: Rs.2,526.68 करोड़ ($ 370 मिलियन) पूंजी अनुपात: 9.46%

इंडियन बैंक 

इंडियन बैंक की कोलंबो और सिंगापुर में विदेशी शाखाएँ हैं। इसकी स्थापना 1907 में हुई थी। मुख्यालय: चेन्नई, भारत वर्तमान अध्यक्ष: पद्मजा चुंदरू (MD और CEO) टोल फ्री: 1800 425 00 000, 1800 425 4422 आधिकारिक वेबसाइट: indianbank.in शाखाएँ: 2900 राजस्व: Rs.21,689.67 करोड़ ($ 3.1 बिलियन) पूंजी अनुपात: 13.20%

इंडियन ओवरसीज बैंक

इंडियन ओवरसीज बैंक की 6 विदेशी शाखाएँ और एक प्रतिनिधि कार्यालय है। इसकी स्थापना 1937 में हुई थी। मुख्यालय: चेन्नई, भारत वर्तमान अध्यक्ष: पार्थ प्रतिम सेनगुप्ता टोल फ्री: 18004254445 आधिकारिक वेबसाइट: iob.in शाखाएँ: 3400 राजस्व: Rs.23,517.29 करोड़ ($ 3.4 बिलियन) पूंजी अनुपात: 9.66%

पंजाब एंड सिंध बैंक

पंजाब और सिंध बैंक भारत के सार्वजनिक क्षेत्र के तकनीकी बैंक के रूप में उभर रहा है। इसकी स्थापना 1908 में हुई थी। मुख्यालय: राजेंद्र प्लेस नई दिल्ली, भारत वर्तमान अध्यक्ष: चरण सिंह टोल फ्री: 1800 419 8300 आधिकारिक वेबसाइट: psbindia.com शाखाएँ: 1500+ राजस्व: Rs.8,558.67 करोड़ ($ 1.2 बिलियन) पूंजी अनुपात: 11.25%

पंजाब नेशनल बैंक 

पंजाब नेशनल बैंक भारत सरकार के स्वामित्व वाला एक बैंकिंग और वित्तीय सेवा बैंक है। बैंक की स्थापना 1894 में हुई थी। PNB बैंक का ओबीसी और यूनाइटेड बैंक में विलय होने जा रहा है। नया बैंक 18 लाख करोड़ रुपये के साथ भारत का दूसरा सबसे बड़ा सार्वजनिक क्षेत्र का बैंक बन जाएगा और देश भर में शाखा नेटवर्क के मामले में दूसरा सबसे बड़ा बैंक होगा।

मुख्यालय: नई दिल्ली, भारत वर्तमान अध्यक्ष: एस.एस. मल्लिकार्जुन राव टोल फ्री: 1800 180 2222, 1800 103 2222 ई-मेल आईडी: care@pnb.co.in आधिकारिक वेबसाइट: pnbindia.in शाखाएँ: 7000+ राजस्व: Rs.589, 887 करोड़ ($ 85 बिलियन) पूंजी अनुपात: 11.28%

भारतीय स्टेट बैंक 

भारतीय स्टेट बैंक भारत का सबसे बड़ा बैंक है। एसबीआई फॉर्च्यून ग्लोबल 500 सूची में 236 वें स्थान पर है। बैंक की स्थापना 1955 में हुई थी। मुख्यालय: मुंबई, भारत वर्तमान अध्यक्ष: दिनेश कुमार खारा टोल फ्री: 1800 11 2211, 1800 425 3800, 080-26599990 आधिकारिक वेबसाइट: sbi.co.in शाखाएँ: 22000+ राजस्व: Rs.2.79644 ट्रिलियन ($ 40 बिलियन) पूंजी अनुपात: 15.90%

यूको बैंक 

यूको बैंक भारत के प्रमुख सरकारी स्वामित्व वाले वाणिज्यिक बैंक में से एक है। इसकी स्थापना 1943 में हुई थी। मुख्यालय: कोलकाता, भारत वर्तमान अध्यक्ष: अतुल कुमार गोयल टोल फ्री: 1800 274 0123 ई-मेल आईडी: uco.custcare@ucobank.co.in आधिकारिक वेबसाइट: ucobank.com शाखाएँ: 4000+ राजस्व: Rs.18,560.97 करोड़ ($ 2.7 बिलियन) पूंजी अनुपात: 9.63%

यूनियन बैंक ऑफ इंडिया

यूनियन बैंक ऑफ इंडिया भारत के सबसे बड़े सार्वजनिक बैंकों में से एक है। सरकार की 90% शेयर पूंजी है। बैंक की स्थापना 1919 में हुई थी। मुख्यालय: मुंबई, भारत वर्तमान अध्यक्ष: राजकिरण राय टोल फ्री: 1800 22 22 44, 1800 208 2244 आधिकारिक वेबसाइट: Unionbankofindia.co.in शाखाएँ: 9600+ राजस्व: Rs.32,198.80 करोड़ ($ 4.7 बिलियन) पूंजी अनुपात: 10.56% वर्ष 1969 में राष्ट्रीयकृत बैंक

  1. इलाहाबाद बैंक
  2. बैंक ऑफ बड़ौदा
  3. बैंक ऑफ इंडिया
  4. बैंक ऑफ महाराष्ट्र
  5. सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया
  6. केनरा बैंक
  7. देना बैंक
  8. भारतीय बैंक
  9. इंडियन ओवरसीज बैंक
  10. पंजाब नेशनल बैंक
  11. सिंडीकेट बैंक
  12. यूको बैंक
  13. यूनियन बैंक ऑफ इंडिया
  14. यूनाइटेड बैंक ऑफ इंडिया

1980 में राष्ट्रीयकृत बैंक

  1. पंजाब एंड सिंध बैंक
  2. विजय बंक
  3. ओरिएंटल बैंक ऑफ इंडिया
  4. कॉर्पोरेट बैंक
  5. आंध्र बैंक
  6. न्यू बैंक ऑफ इंडिया

अंतिम संशोधन: 01 अक्टूबर 2021 अगर आपको इस पोस्ट  में कोई गलती (त्रुटी) दिखाई दे, तो हमें टिप्पणी (कमेंट) के माध्यम से अवगत कराएं, ताकि हम इसे जल्द से जल्द सुधार सकें। अगर आपको यह लेख पसंद है तो इसे सोशल मीडिया पर साझा करना न भूलें।

इन्हें भी पढे: भारतीय रिजर्व बैंक के गवर्नरों के नाम और उनके कार्यकाल की सूची वर्तमान में राष्ट्रीयकृत बैंकों की संख्या 2021, राष्ट्रीयकृत बैंकों के नाम 2020, , भारत में कुल कितने राष्ट्रीयकृत बैंक हैं 2021, राष्ट्रीय कृत बैंक, देश की 10 प्रमुख राष्ट्रीयकृत बैंकों के नाम, राष्ट्रीयकृत बैंकों के नाम, rashtriykrit bankon ke naam, rashtriya krit bank

प्रश्नोत्तर (FAQs):

𝒜. क्षेत्रीय ग्रामीण बैंकों (आरआरबी) की स्थापना 1975 में 26 सितम्बर 1975 को जारी अध्यादेश द्वारा किया गया था और क्षेत्रीय ग्रामीण बैंक अधिनियम 1976 के प्रावधानों के अनुसार इसका उद्देश्य ग्रामीण अर्थतंत्र को कृषि, व्यापार, वाणिज्य, उद्योग और अन्य उत्पादन गतिविधियों से जोड़कर, ऋण और अन्य सुविधाएं प्रदान करना है।

𝒜. भारतीय स्टेट बैंक की विदेशों में सबसे अधिक संख्या में शाखाएँ है स्टेट बैंक ऑफ इंडिया (State Bank of India / SBI) भारत की सबसे बड़ी एवं सबसे पुरानी बैंक है।

𝒜. भारतीय रिजर्व बैंक के करेंसी नोट के पीछे कुछ परिसम्पत्तियाँ होती है, ये परिसंपत्तियाँ सोना और विदेशी प्रतिभूतियों की मात्रा/राशि से कम नही होनी चाहिए।

𝒜. भारत में मिश्रित बैंकिंग प्रकार की वाणिज्यिक बैंकिंग व्यवस्था है। प्रत्येक Commercial bank किसी भी Industry अथवा Business को बहुत थोड़े समय के लिए कर्ज देते हैं। लम्बे काल तक वे कर्ज नहीं देना चाहते परन्तु जब वे कोई भी कर्ज लंबी अवधि के लिए देते तो इस प्रणाली को मिश्रित बैंकिंग (Mixed Banking) कहा जाता है।

𝒜. वर्धा ग्रामीण बैंक का नाम एक नदी के नाम पर रखा गया है।

𝒜. वर्तमान में रि‍ज़र्व बैंक भारत में सि‍क्कि‍म को छोड़कर अन्य सभी राज्यों (पुडुचेरी संघ शासित प्रदेश सहित) के लि‍ए बैंकर के रूप में कार्य करता है।

𝒜. बैंक ऑफ़ इण्डिया के प्रतीक में चमकता हुआ सितारा है, यह भारत का एक प्रमुख व्यावसायिक बैंक है। इसका मुख्यालय मुंबई में है। बैंक ने 7 सितंबर 2006 को अपने प्रचालन के पहले सौ साल पूरे कर लिए हैं।

𝒜. जनता में प्रचलित मुद्रा और बैंकों में रखा नकदी रिजर्व का योग संकुचित मुद्रा कहलाता है

𝒜. सेन्ट्रल बैंक ऑफ इंडिया (Central Bank of India) भारत में सार्वजनिक क्षेत्र का प्रमुख बैंक है जिसकी स्थापना स्वदेशी आन्दोलन से प्रभावित होकर एक पारसी बैंकर सर सोराबजी पोचखानवाला द्वारा 1911 में की गयी थी।

𝒜. विश्व में ए० टी० एम० प्रवर्तित करने वाला पहला बैंक सिटी बैंक था। सिटीग्रुप इंक. दुनिया की सबसे बड़ी वित्तीय सेवा नेटवर्क है, जो लगभग 16,000 कार्यालयों के साथ दुनिया भर में 140 देशों में फैली हुई है।

  Last update :  2022-10-21 10:46:27
  Download :  PDF
  Post Views :  11668
  Post Category :  बैंकिंग