विश्व दुग्ध दिवस (01 जून)

Inter National Days: World Milk Day In Hindi

विश्व दुग्ध दिवस (01 जून): (01 June: World Milk Day in Hindi)

विश्व दुग्ध दिवस कब मनाया जाता है?

संपूर्ण विश्व में प्रत्येक वर्ष 01 जून को ‘विश्व दुग्ध दिवस’ मनाया जाता हैं। विश्व दुग्ध (दूध) दिवस 2018 का विषय (थीम)”पीओ मजबूत हो जाओ”(Drink Move Be Strong) है।

विश्व दुग्ध दिवस का इतिहास:

संयुक्त राष्ट्र खाद्य और कृषि संगठन (एफएओ) द्वारा पूरे विश्व में 01 जून, 2001 को पहली बार विश्व दुग्ध दिवस मनाया गया था।एफएओ ने लोगों को दुग्ध एवं दुग्ध उत्पादों को दैनिक आहार के रूप में अपनाये जाने हेतु प्रोत्साहित किया है।

विश्व दुग्ध दिवस का उद्देश्य:

इस दिवस को मनाने का उद्देश्य विश्व भर में दूध की उपयोगिता की ओर जनता का ध्यान आकर्षित करना एवं दूध और डेयरी उद्योग से जुड़ी गतिविधियों को दुग्ध पर ध्यान देने और प्रचार करने का अवसर प्रदान करता है। इस दिवस के तहत लोगों को दुग्ध उत्पादों से परिचित कराया जाता है तथा इसके पौष्टिक लाभों से लोगों को जागरुक किया जाता है।

राष्ट्रीय दुग्ध दिवस कब मनाया जाता है?

भारत में श्वेत क्रांति के जनक डॉ. वर्गीज कुरियन के जन्मदिवस को ‘राष्ट्रीय दुग्ध दिवस‘ के रूप में मनाया जाता है। इंडियन डेयरी एसोसिएशन (IDA) द्वारा पहली बार राष्ट्रीय दुग्ध दिवस 26 नवंबर, 2014 को मनाया गया था।

भारत में दुग्ध दिवस से जुड़े महत्वपूर्ण तथ्य:

  • भारत पिछले 15 वर्षों से दुग्ध उत्पादन के क्षेत्र में विश्वभर में अग्रणी है।
  • वर्ष 2011-14 में 398 मिलियन टन दूध का उत्पादन हुआ था जो वर्ष 2014-17 में 16.9 प्रतिशत बढ़कर 465.5 मिलियन टन हो गया।
  • वर्ष 2011-14 में किसानों की आमदनी 29 रुपये प्रति लीटर थी जो वर्ष 2014-17 में 13.79 प्रतिशत बढ़कर 33 रुपये प्रति लीटर हो गई।
  • भारत में दुग्ध क्रांति के जनक डॉ. वर्गीज कुरियन थे।
  • देश में पहली बार राष्ट्रीय गोकुल मिशन नामक एक नई पहल की गई है।
  • इसका उद्देश्य देशी बोवाईन नस्लों का संरक्षण तथा विकास करना है।
  • इस मिशन के अंतर्गत देश में पहली बार ई-पशु हाट पोर्टल स्थापित किया गया।
  • देशी नस्लों को समग्र और वैज्ञानिक रूप से विकसित तथा संरक्षित करने के लिए उत्कृष्टता केंद्र के रूप में कार्य करने हेतु मध्य प्रदेश तथा आंध्र प्रदेश में ‘राष्ट्रीय कामधेनु प्रजनन केंद्रों’ की स्थापना की जा रही है।

विश्व दुग्ध दिवस के विषय (थीम):

  • विश्व दुग्ध दिवस 2012 का विषय (थीम) था- “ताजा दूध पीयें, शरीर फिट रहे, दिमाग तेज”।
  • विश्व दुग्ध दिवस 2013 का विषय (थीम) था- “दक्षिणपूर्व एशिया क्षेत्र के समृद्धि और स्वास्थ्य के लिये दूध”।
  • विश्व दुग्ध दिवस 2014 का विषय (थीम) था- “मानव के लिये पहला भोजन दूध है” और “विश्व स्तरीय पोषण”।
  • विश्व दुग्ध दिवस 2015 का विषय (थीम) था- “दूध मानव के लिए पहला भोजन है” (Milk is the First Food for Human)।
  • विश्व दुग्ध दिवस 2017 का विषय (थीम) था- ‘दूध के लिए एक गिलास उठाओ’।
  • विश्व दुग्ध दिवस 2018 का विषय (थीम) था-“पीओ मजबूत हो जाओ”(Drink Move Be Strong)।

"जून" माह में मनाये जाने वाले महत्वपूर्ण राष्ट्रीय दिवस एवं अंतराष्ट्रीय दिवस की सूची:

तिथि दिवस का नामउत्सव का स्तर
01 जूनअन्तरराष्ट्रीय बाल रक्षा दिवस,अन्तरराष्ट्रीय दिवस
01 जून विश्व दुग्ध दिवसअन्तरराष्ट्रीय दिवस
05 जूनविश्व पर्यावरण दिवसअन्तरराष्ट्रीय दिवस
08 जूनविश्व महासागर दिवसअन्तरराष्ट्रीय दिवस
08 जूनविश्व ब्रेन ट्यूमर दिवसअन्तरराष्ट्रीय दिवस
10 जूनदृष्टिदान संकल्प दिवसअन्तरराष्ट्रीय दिवस
12 जूनविश्व बालश्रम निषेध दिवसअन्तरराष्ट्रीय दिवस
14 जूनविश्व रक्तदान दिवसअन्तरराष्ट्रीय दिवस
17 जूनविश्‍व रेगिस्‍तान तथा सूखा रोकथाम दिवसअन्तरराष्ट्रीय दिवस
18 जूनअंतर्राष्ट्रीय पिकनिक दिवसअन्तरराष्ट्रीय दिवस
19 जूनविश्व एथनिक दिवसअन्तरराष्ट्रीय दिवस
20 जूनविश्व शरणार्थी (रिफ्यूजी) दिवसअन्तरराष्ट्रीय दिवस
21 जूनअंतरराष्ट्रीय योग दिवसअन्तरराष्ट्रीय दिवस
21 जूनविश्व संगीत दिवसअन्तरराष्ट्रीय दिवस
23 जूनसंयुक्त राष्ट्र लोक सेवा दिवसअन्तरराष्ट्रीय दिवस
23 जूनअन्तरराष्ट्रीय विधवा दिवसअन्तरराष्ट्रीय दिवस
26 जूनअन्तरराष्ट्रीय मादक द्रव्य निषेध (नशा मुक्ति/निवारण) दिवसअन्तरराष्ट्रीय दिवस
तीसरा रविवार जूनफादर्स दिवसअन्तरराष्ट्रीय दिवस

सामान्य ज्ञान अपनी ईमेल पर पाएं!

Leave a Reply

Your email address will not be published.