दुर्गा बनर्जी का जीवन परिचय एवं उनसे जुड़ी महत्वपूर्ण जानकारी

दुर्गा बनर्जी का जीवन परिचय | Biography of Dugra Benerjee in Hindi
इंडियन एयरलाइंस की पहली महिला पायलेट: दुर्गा बनर्जी का जीवन परिचय

इस अध्याय के माध्यम से हम जानेंगे दुर्गा बनर्जी (Durga Benerjee) से जुड़े महत्वपूर्ण एवं रोचक तथ्य जैसे उनकी व्यक्तिगत जानकारी, शिक्षा तथा करियर, उपलब्धि तथा सम्मानित पुरस्कार और भी अन्य जानकारियाँ। इस विषय में दिए गए दुर्गा बनर्जी से जुड़े महत्वपूर्ण तथ्यों को एकत्रित किया गया है जिसे पढ़कर आपको प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी करने में मदद मिलेगी। Durga Benerjee Biography and Interesting Facts in Hindi.

दुर्गा बनर्जी के बारे में संक्षिप्त जानकारी

नामदुर्गा बनर्जी (Durga Benerjee)
जन्म की तारीख जनवरी 1898
निधन तिथि 1952
उपलब्धि1956 - इंडियन एयरलाइंस की पहली महिला पायलेट
पेशा / देशमहिला / विधिवेत्ता / भारत

दुर्गा बनर्जी (Durga Benerjee)

दुर्गा बनर्जी इंडियन एयरलाइंस की पहली महिला (1956 में) पायलेट और भारत की पहली व्यापारिक (कमरशियल) पायलेट रही हैं। एक बच्चे के रूप में बनर्जी जहाज़ों और उड़ने में रुचि रखती थी और भविष्य में स्वयं जहाज़ चलाना चाहती थी। वह अपने समय की पहली महिला थी, जिसने आम परम्परा के विपरीत इस क्षेत्र में प्रवेश किया।

दुर्गा बनर्जी का जन्म

दुर्गा बनर्जी का जन्म सन जनवरी 1889 में मिदनापुर (भारत) में हुआ था

दुर्गा बनर्जी का निधन

इनकी मृत्यु 1952 में हुई थी।

दुर्गा बनर्जी की शिक्षा

वह मिदनापुर कॉलेज और स्कॉटिश चर्च कॉलेज में पढ़ीं थीं। बाद में उन्होंने कलकत्ता विश्वविद्यालय में आपराधिक कानून का अध्ययन किया। उन्होंने अप्रैल 1913 में त्रिगुणा देबी से शादी की।

दुर्गा बनर्जी का करियर

उन्होंने एक अपराधिक वकील के रूप में शुरू किया था। बनर्जी ने अपनी पहली उड़ान कलिंगा एयललाइंस के एयर सर्वे पायलट के रूप में 1959 में प्रारंभ की। वह कोलकाता में इंडियन एयललाइन्स के कार्यालय में 1966 में शामिल हो गई और 1988 में सेवानिवृत्त हुई। बनर्जी एफ़ 27 टर्बो प्रॉप एयरक्राफ़्ट में कमान्डर की पद पर नियुक्त हुई थी। वह एयरबस 300 भी चला चुकी है। ऐसा माना जाता है कि जब वह पहली बार केन्द्रीय हवाबाज़ी मंत्री हुमायूँ कबीर से मिलकर व्यापारिक पायलट की अनुमति माँगी, तो वह झिझक गए और उसे उड़ान सहायक (flight attendant) का पद देना चाहा था।

भारत के अन्य प्रसिद्ध विधिवेत्ता

व्यक्तिउपलब्धि
सर आशुतोष मुखर्जी की जीवनीराष्ट्रीय विज्ञान कांग्रेस के प्रथम अध्यक्ष

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *