विश्व अस्थमा (दमा) दिवस (मई माह का पहला मंगलवार)

Inter National Days: World Asthma Day In Hindi

विश्व अस्थमा दिवस (मई माह का पहला मंगलवार): (World Asthma Day in Hindi)

विश्व अस्थमा दिवस कब मनाया जाता है?

संपूर्ण विश्व में प्रत्येक वर्ष मई महीने के पहले मंगलवार को ‘विश्व अस्थमा (दमा) दिवस’ मनाया जाता है। वर्ष 2018 में इस दिवस की थीम -‘एलर्जी और अस्थमा’– दमा की रोकथाम, निदान और उपचार के लिए समर्पित थी।

विश्व अस्थमा दिवस का इतिहास:

वर्ष 1998 में इस दिवस को मनाने की शुरूआत की गई थी। इस दिन संपूर्ण विश्व में अस्थमा के रोगियों को अस्थमा नियंत्रित रखने के लिए प्रोत्साहित करने वाली गतिविधियों का आयोजन किया जाता है।

विश्व अस्थमा दिवस का उद्देश्य:

विश्व अस्थमा दिवस मनाने का मुख्य उद्देश्य है विश्वभर के लोगों को अस्थमा बीमारी के बारे में जागरूक करना। एक अनुमान के मुताबिक भारत में अस्थमा के रोगियों की संख्या लगभग 15 से 20 करोड़ है जिसमें लगभग 12 प्रतिशत भारतीय शिशु अस्थमा से पीड़ित हैं।[1] वर्ष 2013 में 7 मई को विश्व अस्थमा दिवस मनाया गया। वर्ष 2013 हेतु विश्व दमा दिवस का विषय था- दमा को नियंत्रित रखना संभव है। विश्व अस्थमा दिवस का आयोजन प्रत्येक वर्ष ग्लोबल इनिशिएटिव फॉर अस्थमा (जीआईएनए) द्वारा किया जाता है। वर्ष 1998 में पहली बार बार्सिलोना, स्पेन सहित 35 देशों में विश्व अस्थमा दिवस मनाया गया।

विश्व अस्थमा (दमा) दिवस के विषय (Theme):

  • विश्व अस्थमा (दमा) दिवस 2018 का विषय: ‘एलर्जी और अस्थमा’ – दमा की रोकथाम, निदान और उपचार के लिए समर्पित थी।
  • विश्व अस्थमा (दमा) दिवस 2017 का विषय: ‘अस्थमाः बेहतर वायु, बेहतर सांस’ (Asthma: Better Air, Better Breathing) था।
  • विश्व अस्थमा (दमा) दिवस 2016 का विषय:  ‘आप अपने अस्थमा को नियंत्रित कर सकते हैं’ (You can control your Asthma) था।

अस्थमा (दमा) किसे कहते है?

अस्थमा या दमा श्वसन तंत्र की बीमारी है जिसके कारण सांस लेना मुश्किल हो जाता है। क्योंकि श्वसन मार्ग में सूजन आ जाने के कारण वह संकुचित हो जाती है। इस कारण छोटी-छोटी सांस लेनी पड़ती है, छाती मे कसाव जैसा महसूस होता है, सांस फूलने लगती है और बार-बार खांसी आती है।

अस्थमा के कारण:

अस्थमा का एटैक आने के बहुत सारे कारणों में वायु का प्रदूषण भी एक कारण है। एलर्जी के अलावा भी दमा होने के बहुत से कारणों में से कुछ इस प्रकार है-

  • घर के धूल भरा वातावरण।
  • घर के पालतू जानवर।
  • बाहर का वायु प्रदूषण।
  • सुगंधित सौन्दर्य (perfumed cosmetics) प्रसाधन।
  • सर्दी, फ्लू, ब्रोंकाइटिस (bronchitis) और साइनसाइटिस (sinusitis) का संक्रमण
  • ध्रूमपान।
  • अधिक मात्रा में शराब पीना।
  • सर्दी के मौसम में ज़्यादा ठंड।
  • तनाव या भय के कारण।
  • अतिरिक्त मात्रा में प्रोसेस्ड या जंक फूड खाने के कारण।
  • ज़्यादा नमक खाने के कारण।
  • आनुवांशिकता (heredity) के कारण आदि।

अस्थमा के लक्षण:

अस्थमा के लक्षण की बारे में बात करते ही पहली बात जो मन में आती है, वह है साँस लेने में कठिनाई। अस्थमा का रोग या तो अचानक शुरू होता है या खाँसी, छींक या सर्दी जैसे एलर्जी वाले लक्षणों से शुरू होता है।

  • साँस लेने में कठिनाई होती है।
  • सीने में जकड़न जैसा महसूस होता है।
  • दमा का रोगी जब साँस लेता है तब एक घरघराहट जैसा आवाज होती है।
  • साँस तेज लेते हुए पसीना आने लगता है।
  • बेचैनी-जैसी महसूस होती है।
  • सिर भारी-भारी जैसा लगता है।
  • जोर-जोर से साँस लेने के कारण थकावट महसूस होती है।
  • स्थिति बिगड़ जाने पर उल्टी भी हो सकती है।

"मई" माह में मनाये जाने वाले महत्वपूर्ण राष्ट्रीय दिवस एवं अंतराष्ट्रीय दिवस की सूची:

तिथि दिवस का नामउत्सव का स्तर
01 मईअन्तरराष्ट्रीय श्रम दिवसअन्तरराष्ट्रीय दिवस
02 मईविश्व अस्थमा दिवसअन्तरराष्ट्रीय दिवस
02 मईमई मातृ दिवसअन्तरराष्ट्रीय दिवस
03 मईविश्व प्रेस स्वतंत्रता दिवसअन्तरराष्ट्रीय दिवस
08 मईविश्व रेड क्रॉस दिवसअन्तरराष्ट्रीय दिवस
11 मईराष्ट्रीय प्रौद्योगिकी दिवसराष्ट्रीय दिवस
11 मईअन्तरराष्ट्रीय नर्स दिवसअन्तरराष्ट्रीय दिवस
15 मईअन्तरराष्ट्रीय परिवार दिवसअन्तरराष्ट्रीय दिवस
17 मईविश्व दूरसंचार दिवसअन्तरराष्ट्रीय दिवस
18 मईअन्तर्राष्ट्रीय संग्रहालय दिवसअन्तरराष्ट्रीय दिवस
21 मईआतंकवाद विरोधी दिवसराष्ट्रीय दिवस
22 मईअंतराराष्ट्रीय जैविक विविधता दिवसअन्तरराष्ट्रीय दिवस
31 मईविश्व तंबाकू विरोधीअन्तरराष्ट्रीय दिवस

सामान्य ज्ञान अपनी ईमेल पर पाएं!

Leave a Reply

Your email address will not be published.