विश्व पृथ्वी दिवस (22 अप्रैल)


Inter National Days: World Earth Day In Hindi



विश्व पृथ्वी दिवस (22 अप्रैल): (World Earth Day in Hindi)

विश्व पृथ्वी दिवस कब मनाया जाता है?

प्रत्येक वर्ष संपूर्ण विश्व में 22 अप्रैल को’ विश्व पृथ्वी दिवस’ मनाया जाता है। ‘विश्व पृथ्वी दिवस’ को ‘अंतर्राष्ट्रीय मातृ पृथ्वी दिवस’ के रूप में भी मनाया जाता है। पृथ्वी दिवस को मनाने के लिए हर साल एक थीम तय की जाती है और इसी थीम को आधार बनाकर लोगों को जागरूक किया जाता है। विश्व पृथ्वी दिवस 2018 का विषय (थीम)- ‘प्लास्टिक प्रदूषण का अंत’ (End Plastic Pollution) है।

विश्व पृथ्वी दिवस का इतिहास:

सन 1969 ई. में जॉन मेक कोनेला ने पृथ्वी को नमन करने के लिए 21 मार्च को यूनेस्को की बैठक में पृथ्वी दिवस मनाने का सुझाव दिया था।  पहली बार सन 1970 ई. विश्व पृथ्वी दिवस में मनाया गया था। पृथ्वी दिवस की तारीख उत्तरी गोलार्द्ध में वसंत ऋतु और दक्षिणी गोलार्द्ध में शरद ऋतु का मौसम है। संयुक्त राष्ट्र में पृथ्वी दिवस को हर साल मार्च एक्विनोक्स (वर्ष का वह समय जब दिन और रात बराबर होते हैं) पर मनाया जाता है।

वर्तमान समय में हमारी पृथ्वी कार्बन उत्सर्जन, तेज़ी से पिघलते ग्लेशियर, मौसम तथा जलवायु परिवर्तन से जूझ रही है जिसे हम आम बोलचाल की भाषा में ग्लोबल वार्मिंग बोलते है।

विश्व पृथ्वी दिवस का उद्देश्य:

विश्व पृथ्वी दिवस लोगों को पृथ्वी के प्राकृतिक पर्यावरण तथा उसकी वन सम्पदा के संरक्षण के प्रति जागरूक करने के उद्देश्य से मनाया जाता है।

विश्व पृथ्वी दिवस उत्सव का महत्व:

आम लोगों खासतौर से युवाओं के बीच पर्यावरणीय सुरक्षा के अभियान का पूरा प्रभाव प्राप्त करने के लिये तथा हर वर्ग और समूह के लोगों के बीच जागरुकता बढ़ाने के लिये इस दिन को (22 अप्रैल) गेलार्ड नेल्सन, पृथ्वी दिवस के संस्थापक ने चुना था। दिमाग में कुछ बातों को रखने के द्वारा उन्होंने इस दिन को चुना कि विद्यार्थियों के लिये परीक्षा का कोई खलल नहीं होगा या आम लोगों के लिये कोई मेला या त्योंहार नहीं होगा, इसलिये हर कोई अपना पूरा ध्यान इस उत्सव पर दे सकता है। ग्रेगरी कैलेंडर के अनुसार, ऐसा माना जाता है कि 22 अप्रैल 1970 को व्लादिमिर लेनिन का 100 जन्मदिवस था।

विश्व पृथ्वी दिवस का विषय (थीम):

  • विश्व पृथ्वी दिवस 2018 का विषय (थीम) “प्लास्टिक प्रदूषण का अंत” है।
  • विश्व पृथ्वी दिवस 2017 का विषय (थीम) “धरती के प्रति दयालू बनें, प्राकृतिक संसाधनों को बचाने से शुरुआत करें” था।
  • विश्व पृथ्वी दिवस 2016 का विषय (थीम) “पृथ्वी के लिए वृक्ष” था।
  • विश्व पृथ्वी दिवस 2015 का विषय (थीम) “जल अद्भुत विश्व” था।
  • विश्व पृथ्वी दिवस 2014 का विषय (थीम) “हरे शहर” था।
  • विश्व पृथ्वी दिवस 2013 का विषय (थीम) “जलवायु परिवर्तन का चेहरा” था।
  • विश्व पृथ्वी दिवस 2012 का विषय (थीम) “धरती को संगठित करना” था।
  • विश्व पृथ्वी दिवस 2011 का विषय (थीम) “वायु को साफ करें” था।
  • विश्व पृथ्वी दिवस 2010 का विषय (थीम) “कम करो” था।
  • विश्व पृथ्वी दिवस 2009 का विषय (थीम) “कैसे आप आस-पास रहते हैं” था।
  • विश्व पृथ्वी दिवस 2008 का विषय (थीम) “कृपया पेड़ लगायें” था।
  • विश्व पृथ्वी दिवस 2007 का विषय (थीम) “धरती के प्रति दयालु बने-संसाधनों को बचाने से शुरुआत करें” था।

पृथ्वी दिवस नेटवर्क:

राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर पर्यावरण नागरिकता और साल भर उन्नति को बढ़ावा देने के लिए 1970 में पृथ्वी दिवस नेटवर्क की स्थापना पहले पृथ्वी दिवस के आयोजकों के द्वारा की गयी। पृथ्वी दिवस के नेटवर्क के माध्यम से, कार्यकर्ता, राष्ट्रीय, स्थानीय और वैश्विक नीतियों में परिवर्तनों को आपस में जोड़ सकते हैं। अन्तराष्ट्रीय नेटवर्क 174 देशों में 17,000 संस्थानों तक पहुँच गया है, जबकि घरेलू कार्यक्रमों में 5,000 समूह और 25, 000 से अधिक शिक्षक शामिल हैं, जो साल भर कई मिलियन समुदायों के विकास और पर्यावरण सुरक्षा कार्यकर्ताओं की मदद करते हैं।

पृथ्वी सप्ताह:

कई शहर पृथ्वी दिवस को पृथ्वी सप्ताह के रूप में पूरे सप्ताह के लिए मनाते हैं, आमतौर पर 16 अप्रैल से शुरू कर के, 22 अप्रैल को पृथ्वी दिवस के दिन इसे समाप्त किया जाता है। इन घटनाओं को पर्यावरण से सम्बंधित जागरूकता को बढ़ावा देने के लिए डिजाइन किया जाता है। इन घटनाओं में शामिल हैं, पुनः चक्रीकरण को बढ़ावा देना, ऊर्जा की प्रभाविता में सुधार करना और डिज्पोजेबल वस्तुओं में कमी लाना।

22 अप्रैल वार्षिक इओवाहॉक “वर्चुअल क्रुइसे” की भी तिथि है। दुनिया भर से लाखों लोग इसमे भाग लेते हैं।

विश्व पृथ्वी दिवस से सम्बंधित महत्वपूर्ण तथ्य:

  • गौरतलब है कि पिछले 22 वर्षों में जलवायु परिवर्तन के शमन (Mitigation) पर एक प्रभावी अंतर्राष्ट्रीय संधि बनाने के लिए असफल प्रयासों की एक श्रंखला है।
  • इस पर वर्ष 1997 में पहला बड़ा अंतर्राष्ट्रीय समझौता ‘क्योटो प्रोटोकाल’ पारित किया गया था।
  • अमेरिका जो कि एक शीर्ष प्रदूषक देश है, उसने क्योटो प्रोटोकॉल की पुष्टि (Ratify) नहीं की।
  • अब वर्ष 2015 में पेरिस में हुए जलवायु परिवर्तन सम्मेलन में विभिन्न क्षेत्र के वैश्विक नेताओं को उत्सर्जन में कटौती कर और वार्मिंग को 2 डिग्री सेल्सियस पर सीमित करने के लिए एक समझौता किया है।
  • संयुक्त राष्ट्र (United Nations) के अनुसार, अभी भी 1 बिलियन लोगों को 1.25 डॉलर से कम आय पर जीवन व्यतीत करना पड़ता है।
  • उल्लेखनीय है कि जलवायु परिवर्तन से सबसे ज्यादा प्रभावित निम्न आय वर्ग या हाशिए (Marginalised) पर रहने वाली आबादी होती है।
  • संयुक्त राष्ट्र के अनुसार, किरिबाती गणराज्य, जो मध्य उष्णकटिबंधीय प्रशांत महासागर में स्थित एक द्वीप देश है, पृथ्वी पर सबसे गरीब स्थानों में एक है।
  • जलवायु परिवर्तन के कारण से समुद्र स्तर बढ़ने से किरिबाती अपने देश की भूमि को निर्जन (Unhabitable) घोषित करने वाला विश्व का पहला देश था।

अप्रैल माह के महत्वपूर्ण दिवस की सूची - (राष्ट्रीय दिवस एवं अंतराष्ट्रीय दिवस):

तिथि दिवस का नाम - उत्सव का स्तर
02 अप्रैलविश्व ऑटिज्म जागरूकता दिवस - अन्तरराष्ट्रीय दिवस
05 अप्रैलराष्ट्रीय समुद्री दिवस - राष्ट्रीय दिवस
06 अप्रैलविकास एवं शांति के लिए अन्तरराष्ट्रीय खेल दिवस - अन्तरराष्ट्रीय दिवस
07 अप्रैलविश्व स्वास्थ्य दिवस - अन्तरराष्ट्रीय दिवस
10 अप्रैलविश्व होम्योपैथी दिवस - अन्तरराष्ट्रीय दिवस
17 अप्रैलविश्व हीमोफिलिया दिवस - अन्तरराष्ट्रीय दिवस
18 अप्रैलविश्‍व विरासत (धरोहर) दिवस - अन्तरराष्ट्रीय दिवस
21 अप्रैलभारतीय सिविल सेवा दिवस - राष्ट्रीय दिवस
22 अप्रैलअन्तरराष्ट्रीय मातृ पृथ्वी दिवस - अन्तरराष्ट्रीय दिवस
23 अप्रैलविश्व पुस्तक दिवस अथवा विश्व पुस्तक कॉपीराइट (प्रतिलिप्‍याधिकार) दिवस (यूनेस्‍को) - अन्तरराष्ट्रीय दिवस
24 अप्रैलपंचायती राज दिवस - राष्ट्रीय दिवस
25 अप्रैलविश्व मलेरिया दिवस - अन्तरराष्ट्रीय दिवस
29 अप्रैलविश्व नृत्य दिवस - अन्तरराष्ट्रीय दिवस
Spread the love, Like and Share!

Like this Article? Subscribe to Our Feed!

Leave a Reply

Your email address will not be published.