विश्व मलेरिया दिवस (25 अप्रैल)


Inter National Days: World Malaria Day In Hindi


विश्व मलेरिया दिवस (25 अप्रैल): (25 April: World Malaria Day in Hindi)

विश्व मलेरिया दिवस कब मनाया जाता है?

हर साल संपूर्ण विश्व में 25 अप्रैल को “विश्व मलेरिया दिवस” मनाया जाता है। विश्व मलेरिया दिवस 2018 का मुख्य विषय- ‘मलेरिया को हराने के लिए रहें तैयार’ है।

विश्व मलेरिया दिवस का इतिहास और उद्देश्य:

विश्व मलेरिया दिवस की शुरुआत 25 अप्रैल 2008 को हुई थी। यूनिसेफ़ द्वारा इस दिन को मनाने का उद्देश्य मलेरिया जैसे ख़तरनाक रोग से लोगों को जागरूक और उनकी जान की रक्षा करना है।

मलेरिया क्या है या किसे कहते है?

मलेरिया मच्छरों से फैलने वाली एक ऐसी बीमारी है जो मानव शरीर के सम्पर्क में आते ही इंसान को बहुत तेज भुखार (पसीना, ठंड और कँपकँपी, सिरदर्द, माँसपेशियों में दर्द, थकान, जी मचलना, उल्टी, दस्त) आने लगता है, यदि समय पर इसका सही इलाज नहीं किया जाता है तो मानव को भारी नुकसान उठाना पड़ता है।

मलेरिया कैसे फैलता है?

  • मलेरिया एक परजीवी रोगाणु से होता है, जिसे हम प्लाज्मोडियम कहते हैं।
  • यह रोगाणु एनोफ़ेलीज़ जाति के मादा मच्छर में होते हैं और जब यह मादा मच्छर किसी व्यक्‍ति को काटती है, तो उसके खून की नली में मलेरिया के रोगाणु फैल जाते हैं।
  • यह रोगाणु व्यक्‍ति के कलेजे की कोशिकाओं तक पहुँचते हैं और वहां उनकी गिनती बढ़ती जाती है।
  • रोगाणुओं का लाल रक्‍त कोशिकाओं पर हमला करने और कोशिकाओं के फटने का सिलसिला जारी रहता है। मलेरिया का मुख्य लक्षण ही लाल रक्‍त कोशिकाओं पर हमला और कोशिकाओं के फटना होता हैं।
  • मलेरिया की तरह डेंगू भी मच्छरों से फैलने वाली बीमारी है जो अधिकतर बरसात के मौसम में होती है डेंगू के मच्छर अक्सर सूर्यास्त होने के बाद ही इंसानों को अपना निशाना बनाते है।
  • आप में से बहुत कम लोग ही जानते होंगे कि केवल मादा मच्छर ही इंसान को काटती है जबकि नर मच्छर कभी नहीं काटता, मादा मच्छर को अंडे पैदा करने के लिए प्रोटीन की जरुरत होती है इसलिए खून चूसती है।
  • मादा मच्छर एक बार खून चूसने के बाद लगभग 2 दिन तक आराम करते हैं। मादा मच्छर एक बार में करीब 300 से ज्यादा अंडे देती है, अंडे से निकलने के बाद मच्छर अपने शुरुआती 10 दिन पानी में ही बिताते हैं।

मलेरिया के लक्षण:

  • ठंड देकर बुखार आना।
  • सिददर्द होना।
  • उल्टी हो भी सकती है और नहीं भी।
  • कमर में दर्द होना।
  • कमजोरी लगना।

मलेरिया से बचाव:

मलेरिया से बचने के लिए जरूरी है कि मच्छरों से बचा जाए। मच्छरों से बचने के लिए कुछ सावधानियाँ अपनानी चाहिए, जैसे:

  • जहाँ तक हो पूरी बाँह के कपड़ों का प्रयोग करें।
  • सोते समय मच्छरदानी का प्रयोग करें।
  • बंद कमरे में जितना हो सके क्वॉइल का प्रयोग न करें।
  • घर में पानी को जमा न होने दें।
  • अगर आसपास पानी जमा है तो उसमें ऑइल डाल दें, जिससे मच्छर नहीं पनपेंगे।
  • थोड़ा भी बुखार आने पर डॉक्टर से परामर्श लें।

विश्व मलेरिया दिवस के बारे में कुछ रोचक तथ्य:

  • हर साल विश्व स्वास्थ्य संगठन द्वारा 25 अप्रैल को मलेरिया जैसी गंभीर बीमारी पर काबू पाने के लिए विश्व मलेरिया दिवस मनाया जाता है।
  • विश्व मलेरिया रिपोर्ट 2016 के अनुसार वर्ष 2015 में विश्व भर में मलेरिया के 212 मिलियन नए मामले सामने आए जिससे कुल 4 लाख 29 हजार मौतें हुईं। इस रिपोर्ट के अनुसार, प्रत्येक दो मिनट में एक बच्चा (5 वर्ष से कम आयु के) मलेरिया से मरता है।
  • विश्व स्वास्थ्य संगठन के आंकड़ों के अनुसार 2013 में 19 करोड़ 80 लाख से भी ज्यादा लोगों में मलेरिया के लक्षण पाए गए है और इस बीमारी ने 5 लाख 84 हजार लोगों की जान ले ली। मरने वालों की संख्या में लगभग 80 प्रतिशत बच्चे थे, जिनकी आयु 5 साल से कम थी।

"अप्रैल" माह में मनाये जाने वाले महत्वपूर्ण राष्ट्रीय दिवस एवं अंतराष्ट्रीय दिवस की सूची:

तिथि दिवस का नामउत्सव का स्तर
02 अप्रैलविश्व ऑटिज्म जागरूकता दिवसअन्तरराष्ट्रीय दिवस
05 अप्रैलराष्ट्रीय समुद्री दिवसराष्ट्रीय दिवस
06 अप्रैलविकास एवं शांति के लिए अन्तरराष्ट्रीय खेल दिवसअन्तरराष्ट्रीय दिवस
07 अप्रैलविश्व स्वास्थ्य दिवसअन्तरराष्ट्रीय दिवस
10 अप्रैलविश्व होम्योपैथी दिवसअन्तरराष्ट्रीय दिवस
17 अप्रैलविश्व हीमोफिलिया दिवसअन्तरराष्ट्रीय दिवस
18 अप्रैलविश्‍व विरासत (धरोहर) दिवसअन्तरराष्ट्रीय दिवस
21 अप्रैलभारतीय सिविल सेवा दिवसराष्ट्रीय दिवस
22 अप्रैलअन्तरराष्ट्रीय मातृ पृथ्वी दिवसअन्तरराष्ट्रीय दिवस
23 अप्रैलविश्व पुस्तक दिवस अथवा विश्व पुस्तक कॉपीराइट (प्रतिलिप्‍याधिकार) दिवस (यूनेस्‍को)अन्तरराष्ट्रीय दिवस
24 अप्रैलपंचायती राज दिवसराष्ट्रीय दिवस
25 अप्रैलविश्व मलेरिया दिवसअन्तरराष्ट्रीय दिवस
29 अप्रैलविश्व नृत्य दिवसअन्तरराष्ट्रीय दिवस

ऐसे ही अन्य ज्ञान के लिए अभी सदस्य बनें, तथा अपनी ईमेल पर नवीनतम अपडेट प्राप्त करें!

Leave a Reply

Your email address will not be published.