विश्व वन्यजीव दिवस (03 मार्च)

Inter National Days: World Wildlife Day In Hindi

विश्व वन्यजीव दिवस (03 मार्च): (03 March: World Wildlife Day in Hindi)

विश्व वन्यजीव दिवस कब मनाया जाता है?

हर साल विश्व में 03 मार्च को ‘विश्व वन्यजीव दिवस’ के रूप में मनाया जाता है। वर्ष 2017 में इस दिवस का मुख्य विषय (Theme)-‘युवा की आवाज सुनें’ (Listen to The Young Voices) है।

विश्व वन्यजीव दिवस का इतिहास:

संयुक्त राष्ट्र महासभा ने 20 दिसंबर 2013 को अपने 68वें अधिवेशन में वन्यजीवों की सुरक्षा के प्रति लोगों को जागरूक करने एवं वनस्पति के लुप्तप्राय प्रजाति के प्रति जागरूकता बढ़ाने हेतु 03 मार्च को प्रतिवर्ष विश्व वन्यजीव दिवस मनाने की घोषणा की थी। वन्य जीवों को विलुप्त होने से रोकने के लिए सर्वप्रथम वर्ष 1872 में वाइल्ड एलीफेंट प्रिजर्वेशन एक्ट पारित हुआ था।

भारतीय वन्‍यजीव संस्‍थान:

भारतीय वन्‍यजीव संस्‍थान (डब्‍ल्‍यूआईआई) की स्‍थापना 1982 में की गई। यह संस्‍थान केंद्रीय पर्यावरण एवं वन मंत्रालय के अधीन एक स्‍वशासी संस्‍थान है जिसे वन्‍यजीव संरक्षण क्षेत्र के प्रशिक्षण और अनुसंधान संस्‍थान के रूप में मान्‍यता दी गई है।

वन्यजीव अपराध नियंत्रण ब्यूरो:

वन्‍यजीव संबंधी अपराधों को रोकने के लिए वन्‍यजीव संरक्षण निदेशक के अंतर्गत वन्‍यजीव अपराध नियंत्रण ब्‍यूरो का गठन किया गया। वन्यजीव अपराध नियंत्रण ब्यूरो देश में संगठित वन्यजीव अपराध से निपटने के लिए केंद्रीय पर्यावरण एवं वन मंत्रालय के अधीन भारत सरकार द्वारा स्थापित एक सांविधिक बहु-अनुशासनिक इकाई है। इसका मुख्यालय नई दिल्ली में स्थित है। इसके पांच क्षेत्रीय कार्यालय नई दिल्ली, कोलकाता, मुंबई, चेन्नई और जबलपुर में स्थित हैं।

भारत में वन और वन्‍यजीवों से सम्बंधित महत्वपूर्ण तथ्य:

  • वन्य जीवों के संरक्षण के लिए भारत के संविधान में 42वें संशोधन (1976) अधिनियम के द्वारा दो नए अनुच्छेद 48-। व 51 को जोड़कर वन्य जीवों से संबंधित विषय के समवर्ती सूची में शामिल किया गया।
  • वर्ष 2002 में राष्‍ट्रीय वन्‍यजीव कार्य योजना (2002-2016) को अपनाया गया जिसमें वन्‍यजीवों के संरक्षण के लिए लोगों की भागीदारी तथा उनकी सहायता पर बल दिया गया है।
  • वन्य जीवों को विलुप्त होने से रोकने के लिए सर्वप्रथम 1872 में वाइल्ड एलीफेंट प्रिजर्वेशन एक्ट पारित हुआ था।
  • वर्ष 1927 में भारतीय वन अधिनियम अस्तित्व में आया, जिसके प्रावधानों के अनुसार वन्य जीवों के शिकार एवं वनों की अवैध कटाई को दण्डनीय अपराध घोषित किया गया।
  • स्वतंत्रता के पश्चात, भारत सरकार द्वारा इंडियन बोर्ड फॉर वाइल्ड लाइफ की स्थापना की गई।
  • 1956 में पुन: भारतीय वन अधिनियम पारित किया गया।
  • 1972 में वन्यजीव संरक्षण अधानियम पारित किया गया। यह एक व्यापक केन्द्रीय कानून है, जिसमें विलुप्त होते वन्य जीवों तथा अन्य लुप्त प्राय: प्राणियों के संरक्षण का प्रावधान है।
  • वन्य जीवों की चिंतनीय स्थिति में सुधार एवं वन्य जीवों के संरक्षण के लिए राष्ट्रीय वन्यजीव योजना 1983 में प्रारंभ की गई।

"मार्च" माह में मनाये जाने वाले महत्वपूर्ण राष्ट्रीय दिवस एवं अंतराष्ट्रीय दिवस की सूची:

तिथि दिवस का नामउत्सव का स्तर
03 मार्चविश्व वन्य जीव दिवसअन्तरराष्ट्रीय दिवस
04 मार्चराष्ट्रीय सुरक्षा दिवस (औद्योगिक संस्थानों की सुरक्षा), राष्ट्रीय दिवस
08 मार्चअन्तरराष्ट्रीय महिला दिवसअन्तरराष्ट्रीय दिवस
14 मार्चपाई दिवसराष्ट्रीय दिवस
15 मार्चविश्व उपभोक्ता अधिकार दिवसअन्तरराष्ट्रीय दिवस
16 मार्चराष्ट्रीय टीकाकरण दिवसराष्ट्रीय दिवस
18 मार्चआयुध विनिर्माण दिवसराष्ट्रीय दिवस
21 मार्चविश्व वानिकी दिवस, अन्तरराष्ट्रीय दिवस
21 मार्चविश्व कठपुतली दिवसअन्तरराष्ट्रीय दिवस
21 मार्चरंगभेद (जातिभेद/नस्लीय भेदभाव) उन्मूलन हेतु अन्तर्राष्ट्रीय दिवसअन्तरराष्ट्रीय दिवस
21 मार्चविश्व कविता दिवसअन्तरराष्ट्रीय दिवस
22 मार्चविश्व जल दिवसअन्तरराष्ट्रीय दिवस
23 मार्चविश्व मौसम विज्ञान दिवसअन्तरराष्ट्रीय दिवस
24 मार्चविश्व टीबी दिवस (क्षय रोग)अन्तरराष्ट्रीय दिवस
27 मार्चविश्व थियेटर दिवसअन्तरराष्ट्रीय दिवस
दूसरा गुरुवार मार्चविश्व किडनी/गुर्दा दिवसअन्तरराष्ट्रीय दिवस

सामान्य ज्ञान अपनी ईमेल पर पाएं!

Leave a Reply

Your email address will not be published.