ज़ीनत महल का जीवन परिचय एवं उनसे जुड़ी महत्वपूर्ण जानकारी

इस अध्याय के माध्यम से हम जानेंगे ज़ीनत महल (Begum Zeenat Mahal) से जुड़े महत्वपूर्ण एवं रोचक तथ्य जैसे उनकी व्यक्तिगत जानकारी, शिक्षा तथा करियर, उपलब्धि तथा सम्मानित पुरस्कार और भी अन्य जानकारियाँ। इस विषय में दिए गए ज़ीनत महल से जुड़े महत्वपूर्ण तथ्यों को एकत्रित किया गया है जिसे पढ़कर आपको प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी करने में मदद मिलेगी। Begum Zeenat Mahal Biography and Interesting Facts in Hindi.

ज़ीनत महल का संक्षिप्त सामान्य ज्ञान

नामज़ीनत महल (Begum Zeenat Mahal)
वास्तविक नामबेगम साहिबा जीनत महल
जन्म की तारीख 1823
जन्म स्थानफ़ैज़ाबाद, अवध, भारत
निधन तिथि17 जुलाई 1886
उपलब्धि - मुग़ल सम्राट के अंतिम शासक की बेगम
पेशा / देशमहिला / / भारत

ज़ीनत महल (Begum Zeenat Mahal)

बेगम ज़ीनत महल मुग़ल सम्राट बहादुर शाह ज़फ़र की पत्नी (बेगम) थी। बेगम ज़ीनत महल ने दिल्ली और आसपास के क्षेत्रों में स्वातंत्र्य योद्धाओं को संगठित किया और देश प्रेम का परिचय दिया था।

ज़ीनत महल का जन्म सन 1823 को फ़ैज़ाबाद, अवध, भारत में हुआ था| इनका पूरा नाम बेगम साहिबा जीनत महल था।
ज़ीनत महल का जन्म सन 1823 को फ़ैज़ाबाद, अवध, भारत में हुआ था| इनका पूरा नाम बेगम साहिबा जीनत महल था।
इनका पूरा नाम बेगम साहिबा जीनत महल था। उसने अपने बेटे मिर्जा जवान बख्त को सम्राट के शेष बड़े बेटे मिर्जा नाथ-उल-मुल्क बहादुर के सिंहासन के उत्तराधिकारी के रूप में पदोन्नत किया। लेकिन अंग्रेजों की प्राइमोजेनरी पॉलिसी के कारण इसे स्वीकार नहीं किया गया। सम्राट बहादुर शाह द्वितीय जफर की ओर से मुगल साम्राज्य पर शासन करने वाले महारानी वह उनकी पसंदीदा पत्नी थीं। ज़ीनत महल ने 19 नवंबर 1840 को दिल्ली में बहादुर शाह द्वितीय से शादी की थी। सन् 1857 की क्रांति में बहादुर शाह ज़फ़र को प्रोत्साहित करने वाली बेगम ज़ीनत महल ने ललकारते हुए कहा था कि- ‘यह समय ग़ज़लें कह कर दिल बहलाने का नहीं है। वह लाल कुआं में अपने ही हवेली पर ही रहती थी। 1858 में बेगम ज़ीनत महल भी बहादुर शाह ज़फ़र के साथ ही बर्मा (वर्तमान म्यांमार) चली गयीं। जिससे मुगल साम्राज्य समाप्त हो गया

📅 Last update : 2021-07-17 00:30:27