जगदीश सिंह खेहर का जीवन परिचय एवं उनसे जुड़ी महत्वपूर्ण जानकारी

इस अध्याय के माध्यम से हम जानेंगे जगदीश सिंह खेहर (Jagdish Singh Khehar) से जुड़े महत्वपूर्ण एवं रोचक तथ्य जैसे उनकी व्यक्तिगत जानकारी, शिक्षा तथा करियर, उपलब्धि तथा सम्मानित पुरस्कार और भी अन्य जानकारियाँ। इस विषय में दिए गए जगदीश सिंह खेहर से जुड़े महत्वपूर्ण तथ्यों को एकत्रित किया गया है जिसे पढ़कर आपको प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी करने में मदद मिलेगी। Jagdish Singh Khehar Biography and Interesting Facts in Hindi.

जगदीश सिंह खेहर का संक्षिप्त सामान्य ज्ञान

नामजगदीश सिंह खेहर (Jagdish Singh Khehar)
वास्तविक नामजस्टिस जगदीश सिंह खेहर
जन्म की तारीख28 अगस्त 195
जन्म स्थानपंजाब (भारत)
उपलब्धि2017 - भारत के पहले सिख मुख्य न्यायाधीश
पेशा / देशपुरुष / वकील / भारत

जगदीश सिंह खेहर (Jagdish Singh Khehar)

जस्ट‍िस जेएस खेहर भारत के 44वें मुख्य न्यायाधीश हैं। उन्होंने 04 जनवरी 2017 को प्रधान न्यायाधीश के पद की शपथ ग्रहण की और 27 अगस्त 2017 तक वे इस पद पर रहे। जस्टिस खेहर देश के पहले सिख चीफ जस्ट‍िस हैं। 64 साल के जस्टिस जे एस खेहर का पूरा नाम जगदीश सिंह खेहर है और लोग इन्हें इनके सख्त मिजाज की वजह से भी जानते हैं।

जगदीश सिंह खेहर का जन्म 28 अगस्त 1952 को पंजाब में हुआ था।
जगदीश सिंह खेहर ने 04 जनवरी 2017 को सुप्रीम कोर्ट के मुख्य न्यायाधीश के रूप में शपथ ली थी। वे सिक्ख समुदाय से नियुक्त होने वाले देश के पहले मुख्य न्यायाधीश हैं। भारत के 44वें चीफ जस्ट‍िस के रूप में इनका कार्यकाल से 27 अगस्त 2017 तक रहा था। वर्ष 1979 में जगदीश सिंह खेहर ने अपनी वकालत शुरू की। इस अवधि में उन्होंने पंजाब-हरियाणा उच्च न्यायालय चंडीगढ़, हिमाचल प्रदेश उच्च न्यायालय तथा उच्चतम न्यायालय में वकालत की। वर्ष 1992 में उन्हें पंजाब में अतिरिक्त महाधिवक्ता नियुक्त किया गया। जगदीश सिंह खेहर साल 1995 में वरिष्ठ अधिवक्ता बने। न्यायाधीश जगदीश सिंह खेहर और न्यायाधीश के. एस. राधाकृष्णन की बेंच ने सहारा के चेयरमैन सुब्रत रॉय सहारा को निवेशकों के पैसे नहीं लौटाने के कारण तिहाड़ जेल भेज दिया था। क्या आप जानते है कि वह प्रत्येक तीन महीनों में रक्त दान करते है वह पिछले 40 वर्षों से ऐसा कर रहे है। जस्टिस खेहर की अध्यक्षता वाली संविधानिक पीठ ने सरकार की महत्वकांक्षी राष्ट्रीय न्यायिक नियुक्ति‍ आयोग (NJAC) कानून को खारिज कर दिया था।

📅 Last update : 2021-08-28 00:30:01