चंद्रशेखर आजाद का जीवन परिचय एवं उनसे जुड़ी महत्वपूर्ण जानकारी

✅ Published on July 23rd, 2019 in प्रसिद्ध व्यक्ति, स्वतंत्रता सेनानी

इस अध्याय के माध्यम से हम जानेंगे चंद्रशेखर आजाद (Chandra Shekhar Azad) से जुड़े महत्वपूर्ण एवं रोचक तथ्य जैसे उनकी व्यक्तिगत जानकारी, शिक्षा तथा करियर, उपलब्धि तथा सम्मानित पुरस्कार और भी अन्य जानकारियाँ। इस विषय में दिए गए चंद्रशेखर आजाद से जुड़े महत्वपूर्ण तथ्यों को एकत्रित किया गया है जिसे पढ़कर आपको प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी करने में मदद मिलेगी। Chandra Shekhar Azad Biography and Interesting Facts in Hindi.

चंद्रशेखर आजाद के बारे में संक्षिप्त जानकारी

नामचंद्रशेखर आजाद (Chandra Shekhar Azad)
वास्तविक नामपंडित चंद्रशेखर तिवारी
जन्म की तारीख23 जुलाई 1906
जन्म स्थानआदिवासी गाँव भावरा, मध्य प्रदेश (भारत)
निधन तिथि27 फ़रवरी 1931
माता व पिता का नामजगरानी देवी / सीताराम तिवारी
उपलब्धि1928 - हिदुस्तान सोशलिस्ट रिपब्लिकन एसोसिएशन के प्रमुख नेता
पेशा / देशपुरुष / स्वतंत्रता सेनानी / भारत

चंद्रशेखर आजाद (Chandra Shekhar Azad)

चंद्रशेखर आजाद भारतीय स्वतंत्रता संग्राम के प्रसिद्ध क्रांतिकारी थे। 17 वर्ष के चंद्रशेखर आज़ाद क्रांतिकारी दल ‘हिन्दुस्तान रिपब्लिकन एसोसिएशन" में सम्मिलित हो गए थे दल में उनका नाम ‘क्विक सिल्वर" (पारा) रखा गया था। उन्होंने भारत को आजादी दिलाने में अपनी अहम भूमिका अनिभायी थी|

चंद्रशेखर आजाद का जन्म

चन्द्रशेखर आजाद का जन्म 23 जुलाई 1906 को आदिवासी गाँव भावरा, मध्य प्रदेश (भारत) में हुआ था। इनका पूरा नाम पंडित चंद्रशेखर तिवारी था| इनके माता-पिता का नाम जगरानी देवी और सीताराम तिवारी था।

चंद्रशेखर आजाद का निधन

चंद्रशेखर आजाद का निधन 27 फ़रवरी, 1931 को इलाहाबाद, उत्तर प्रदेश में अल्फ्रेड पार्क में गोली लगने के कारण हुई थी।

चंद्रशेखर आजाद का करियर

चन्द्रशेखर आजाद सर्वप्रथम मन्मथनाथ गुप्त और प्रणवेश चटर्जी के सम्पर्क में आये और क्रान्तिकारी दल के सदस्य बन गये। क्रान्तिकारियों का वह दल "हिन्दुस्तान प्रजातन्त्र संघ" के नाम से जाना जाता था। सन् 922 में गाँधीजी द्वारा असहयोग आन्दोलन को अचानक बन्द कर देने के कारण उनकी विचारधारा में बदलाव आया और वे क्रान्तिकारी गतिविधियों से जुड़ कर हिन्दुस्तान रिपब्लिकन एसोसिएशन के सक्रिय सदस्य बन गये। और आगे चलकर वे इस पार्टी में कमांडर-इन-चीफ़ भी बनें। 1925 में रामप्रसाद बिस्मिल के साथ मिलकर किए गए काकोरी कांड के पीछे चंद्रशेखर आजाद का ही दिमाग था। आजाद ने अपनी जिंदगी के 10 साल फरार रहते हुए बिताए। एक समय में चंद्रशेखर आजाद झाँसी के पास 8 फीट गहरी और 4 फीट चौड़ी गुफा में सन्यासी के वेश में रहते थे। आजाद चाहते थे कि उनकी एक भी तस्वीर अंग्रेजो के हाथ न लगे, लेकिन ऐसा संभव न हो सका था। कांग्रेस के सदस्य होने के बावजूद, मोतीलाल नेहरू ने नियमित रूप से आज़ाद के समर्थन में पैसा दिया था। 1923 में बिस्मिल, जोगेश चंद्र चटर्जी, सचिंद्र नाथ सान्याल शचींद्र नाथ बख्शी और अशफाकुल्ला खान द्वारा हिंदुस्तान रिपब्लिकन एसोसिएशन (HRA) का गठन किया गया था। 1925 में काकोरी ट्रेन डकैती के बाद, ब्रिटिश क्रांतिकारी गतिविधियों पर बंद हो गए। प्रसाद, अशफाकुल्ला खान, ठाकुर रोशन सिंह और राजेंद्र नाथ लाहिड़ी को उनकी भागीदारी के लिए मौत की सजा दी गई थी। आजाद, केशब चक्रवर्ती और मुरारी शर्मा ने कब्जा कर लिया। चन्द्र शेखर आज़ाद ने बाद में शी वर्मा और महावीर सिंह जैसे क्रांतिकारियों की मदद से HRA का पुनर्गठन किया। आजाद और भगत सिंह ने 9 सितंबर 1928 को हिंदुस्तान सोशलिस्ट रिपब्लिकन एसोसिएशन (एचएसआरए) के रूप में हिंदुस्तान रिपब्लिकन एसोसिएशन (एचआरए) को गुप्त रूप से पुनर्गठित किया, ताकि सामाजिक सिद्धांत पर आधारित स्वतंत्र भारत के अपने प्राथमिक उद्देश्य को प्राप्त किया जा सके। उनकी क्रांतिकारी गतिविधियों की अंतर्दृष्टि का वर्णन उनके कई लेखन में एचएसआरए के साथी सदस्य मन्मथ नाथ गुप्ता द्वारा किया गया है। गुप्ता ने "चंद्रशेखर आज़ाद" नामक अपनी जीवनी भी लिखी है और अपनी पुस्तक हिस्ट्री ऑफ़ द इंडियन रिवोल्यूशनरी मूवमेंट (उपरोक्त का अंग्रेजी संस्करण: 1972) में उन्होंने आज़ाद की गतिविधियों और आज़ाद और एचएसआरए की विचारधारा के बारे में गहन जानकारी दी।

चंद्रशेखर आजाद के बारे में अन्य जानकारियां

उनकी मां चाहती थीं कि उनका बेटा एक महान संस्कृत विद्वान हो और अपने पिता को उन्हें काशी विद्यापीठ, बनारस में पढ़ने के लिए भेजने के लिए राजी करे। 1921 में, जब असहयोग आंदोलन अपने चरम पर था, तब 15 वर्षीय छात्र चंद्र शेखर शामिल हुए। परिणामस्वरूप, उन्हें 20 दिसंबर को गिरफ्तार किया गया था। एक हफ्ते बाद एक मजिस्ट्रेट के सामने पेश होने पर, उसने अपना नाम "आज़ाद" (द फ्री), अपने पिता का नाम "स्वतंत्र" (स्वतंत्रता) और "जेल" के रूप में अपना निवास स्थान बताया। उसी दिन से उन्हें लोगों के बीच चंद्र शेखर आज़ाद के नाम से जाना जाने लगा।उनकी मां चाहती थीं कि उनका बेटा एक महान संस्कृत विद्वान हो और अपने पिता को उन्हें काशी विद्यापीठ, बनारस में पढ़ने के लिए भेजने के लिए राजी करे। 1921 में, जब असहयोग आंदोलन अपने चरम पर था, तब 15 वर्षीय छात्र चंद्र शेखर शामिल हुए। परिणामस्वरूप, उन्हें 20 दिसंबर को गिरफ्तार किया गया था। एक हफ्ते बाद एक मजिस्ट्रेट के सामने पेश होने पर, उसने अपना नाम "आज़ाद" (द फ्री), अपने पिता का नाम "स्वतंत्र" (स्वतंत्रता) और "जेल" के रूप में अपना निवास स्थान बताया। उसी दिन से उन्हें लोगों के बीच चंद्र शेखर आज़ाद के नाम से जाना जाने लगा।

चंद्रशेखर आजाद के पुरस्कार और सम्मान

इलाहाबाद में अल्फ्रेड पार्क (आधिकारिक रूप से प्रयागराज), जहां आजाद की मृत्यु हो गई, उसका नाम बदलकर चंद्रशेखर आजाद पार्क कर दिया गया। पूरे भारत में कई स्कूलों, कॉलेजों, सड़कों और अन्य सार्वजनिक संस्थानों का नाम भी उनके नाम पर रखा गया है। मनोज कुमार की 1965 की फ़िल्म शहीद से शुरू होकर कई फ़िल्मों में आज़ाद का किरदार निभाया। मनमोहन ने 1965 की फिल्म में आजाद का किरदार निभाया था, सनी देओल ने 23 मार्च 1931 को फिल्म में आजाद का किरदार निभाया था: शहीद, आजाद का किरदार द लीजेंड ऑफ भगत सिंह में अखिलेन्द्र मिश्रा ने निभाया था और शहीद-ए-आजम में राज झांसी ने आजाद का किरदार निभाया था।

भारत के अन्य प्रसिद्ध स्वतंत्रता सेनानी

व्यक्तिउपलब्धि
लक्ष्मी सहगल की जीवनीअस्थायी आज़ाद हिंद सरकार की कैबिनेट में पहली महिला सदस्य
अरुणा आसफ अली की जीवनीसंयुक्त राष्ट्रसंघ महासभा की प्रथम महिला अध्यक्ष
लाला हरदयाल की जीवनीग़दर पार्टी के संस्थापक
राम मनोहर लोहिया की जीवनीहिन्द किसान पंचायत' के अध्यक्ष
जयप्रकाश नारायण की जीवनीऑल इंडिया कांग्रेस सोशलिस्ट के संस्थापक
शहीद भगत सिंह की जीवनीभारतीय समाजवादी युवा संगठन
मैडम भीकाजी कामा की जीवनीभारत में प्रथम क्रान्तिकारी महिला
बहादुर शाह जफर की जीवनीमुग़ल साम्राज्य के अंतिम बादशाह
बाल गंगाधर तिलक की जीवनीफर्ग्युसन कॉलेज की स्थापना
शहीद उधम सिंह की जीवनीजलियाँवाला बाग़ हत्याकांड के प्रत्यक्षदर्शी
भीमराव अम्बेडकर की जीवनीआजाद भारत के पहले कानून मंत्री एवं न्याय मंत्री
लाला लाजपत राय की जीवनीपंजाब नेशनल बैंक के संस्थापक
मंगल पांडे की जीवनीस्वतंत्रता सेनानी
स्वामी विवेकानंद की जीवनीविश्व धर्म परिषद् के भारतीय प्रतिनिधि
अल्लूरी सीताराम राजू की जीवनीभारतीय क्रांतिकारी
रानी लक्ष्मीबाई की जीवनीझांसी राज्य की रानी
रास बिहारी बोस की जीवनीभारतीय स्वातंय संघ के संस्थापक
वीर सावरकर की जीवनीअभिनव भारत संगठन के संस्थापक
बिपिन चंद्र पाल की जीवनीन्यू इंडिया नामक अंग्रेजी पत्रिका के संपादक
सुखदेव थापर की जीवनीनौजवान भारत सभा के संस्थापक
फखरुद्दीन अली अहमद की जीवनीभारत के पांचवे राष्ट्रपति
मोतीलाल नेहरू की जीवनीस्वराज पार्टी के पहले सचिव एवं अध्यक्ष
तात्या टोपे की जीवनीप्रथम स्वतन्त्रता संग्राम के सेनानी
सागरमल गोपा की जीवनीप्रसिद्ध पुस्तक 'जैसलमेर में गुण्डाराज' के लेखक
पुष्पलता दास की जीवनीखादी और ग्रामोद्योग आयोग की अध्यक्ष
शिवराम राजगुरु की जीवनीदिल्ली सेंट्रल असेम्बली में हमला
नेताजी सुभाष चंद्र बोस की जीवनीआजाद हिन्द फौज के संस्थापक
राम प्रसाद बिस्मिल की जीवनीकाकोरी कांड के सदस्य
अशफ़ाक़ुल्लाह ख़ाँ की जीवनीभारतीय स्वतंत्रता सेनानी
खुदीराम बोस की जीवनीरिवोल्यूशनरी पार्टी के सदस्य

नीचे दिए गए प्रश्न और उत्तर प्रतियोगी परीक्षाओं को ध्यान में रख कर बनाए गए हैं। यह भाग हमें सुझाव देता है कि सरकारी नौकरी की परीक्षाओं में किस प्रकार के प्रश्न पूछे जा सकते हैं। यह प्रश्नोत्तरी एसएससी (SSC), यूपीएससी (UPSC), रेलवे (Railway), बैंकिंग (Banking) तथा अन्य परीक्षाओं में भी लाभदायक है।

महत्वपूर्ण प्रश्न और उत्तर (FAQs):

प्रश्न: चंद्रशेखर आजाद अपने साथ हमेशा क्या रखते थे?
उत्तर: माउज़र
प्रश्न: यह कौन बोलते थे दुश्मन की गोलियों का हम सामना करेंगे, आजाद ही रहे हैं, आजाद ही रहेंगे?
उत्तर: चंद्रशेखर आज़ाद
प्रश्न: 1925 में रामप्रसाद बिस्मिल के साथ मिलकर किए गए काकोरी कांड के पीछे किसका दिमाग था?
उत्तर: चंद्रशेखर आज़ाद
प्रश्न: चंदशेखर आजाद ने अपनी जिंदगी के कितने साल फरार रहते हुए बिताए थे?
उत्तर: 10 साल
प्रश्न: 27 फ़रवरी, 1931 को किस महान क्रन्तिकारी का निधन हुआ था?
उत्तर: चंद्रशेखर आज़ाद

Previous « Next »

❇ प्रसिद्ध व्यक्ति से संबंधित विषय

गोपाल कृष्ण गोखले का जीवन परिचय एवं उनसे जुड़ी महत्वपूर्ण जानकारी अल्लूरी सीताराम राजू का जीवन परिचय एवं उनसे जुड़ी महत्वपूर्ण जानकारी रविंद्रनाथ टैगोर का जीवन परिचय एवं उनसे जुड़ी महत्वपूर्ण जानकारी लीला सेठ का जीवन परिचय एवं उनसे जुड़ी महत्वपूर्ण जानकारी रॉबर्ट पियरी का जीवन परिचय एवं उनसे जुड़ी महत्वपूर्ण जानकारी मोतीलाल नेहरू का जीवन परिचय एवं उनसे जुड़ी महत्वपूर्ण जानकारी बछेंद्री पाल का जीवन परिचय एवं उनसे जुड़ी महत्वपूर्ण जानकारी ज्ञानी जैल सिंह का जीवन परिचय एवं उनसे जुड़ी महत्वपूर्ण जानकारी टीपू सुल्तान का जीवन परिचय एवं उनसे जुड़ी महत्वपूर्ण जानकारी अन्ना चांडी का जीवन परिचय एवं उनसे जुड़ी महत्वपूर्ण जानकारी