मोरक्को देश का इतिहास, भूगोल, अर्थव्यवस्था तथा महत्वपूर्ण घटनाएं

✅ Published on August 23rd, 2020 in अफ्रीका महाद्वीप, देशों की जानकारी

विश्व के भूगोल में मोरक्को देश का एक अलग ही स्थान है| इस देश में कई ऐसी बातें है जो इस देश को अन्य देशों से अलग करती है जैसे की भाषा, रहन सहन, वेश-भूषा, संस्कृति, धर्म, व्यवसाय| आइये जानते है मोरक्को(Morocco) देश से जुड़े कुछ ऐसे अनोखे तथ्य तथा इतिहास से जुड़ी महत्वपूर्ण घटनाओं के बारे में, जिन्हें जानकर आपका ज्ञान बढ़ेगा|

मोरक्को देश की संक्षिप्त जानकारी

देश का नाममोरक्को
देश की राजधानीरब्बात
देश की मुद्रामोरक्कन दिरहम
महाद्वीप का नामAfrica
समूह का नामAfrican Union, Arab League
देश का गठनMarch 2, 1956

Read Also: देश का नाम, उनकी राजधानी तथा मुद्रा की सूची

मोरक्को का एक लंबा इतिहास रहा है जिसे दशकों से अटलांटिक महासागर और भूमध्य सागर दोनों पर अपने भौगोलिक स्थान से आकार दिया गया है। फोएनशियाई (Phoenicians) इस क्षेत्र को नियंत्रित करने वाले पहले व्यक्ति थे, लेकिन रोमन, विसिगोथ्स (Visigoths), वंडल(Vandals) और बीजान्टिन (Byzantine) यूनानियों ने भी इसे नियंत्रित किया था। लेकिन 7 वीं शताब्दी में में, अरब लोग इस क्षेत्र में आए, और उनकी सभ्यता ने भी प्रवेश किया साथ ही इस्लाम धर्म का भी प्रचार हुआ। 15 वीं शताब्दी में पुर्तगाली साम्राज्य का विस्तार हुआ। मोरक्को 1777 में एक स्वतंत्र राष्ट्र के रूप में संयुक्त राज्य अमेरिका की पहचान करने वाला पहला राष्ट्र था।

1912 में, मोरक्को फ्रांस की संधि के साथ फ़्रांस मोरक्को का संरक्षक बन गया। द्वितीय विश्व युद्ध के अंत के बाद, मोरक्को ने आजादी के लिए दबाव डालना शुरू किया और 1944 ईस्वी में, स्वतंत्रता के लिए आंदोलन का नेतृत्व करने के लिए इस्टिक्कल या स्वतंत्रता पार्टी बनाई गई थी। 1953 में संयुक्त राज्य अमेरिका के राज्य विभाग के अनुसार, लोकप्रिय सुल्तान मोहम्मद वी फ्रांस द्वारा निर्वासित किया गया था। उन्हें मोहम्मद बेन आराफा ने प्रतिस्थापित कर दिया था, जिसके कारण मोरक्कन लोगो ने आजादी के लिए और भी दबाव डाला। 1955 में, मोहम्मद वी मोरक्को लौटने में सक्षम थे और 2 मार्च, 1956 को देश ने अपनी स्वतंत्रता प्राप्त की।

मोरक्को भौगोलिक रूप से अटलांटिक महासागर और भूमध्य सागर के साथ उत्तरी अफ्रीका में स्थित है। यह अल्जीरिया और पश्चिमी सहारा से घिरा हुआ है। मोरक्को का एक बड़ा हिस्सा पहाड़ी है। एटलस पर्वत मुख्य रूप से देश के केंद्र और दक्षिण में स्थित हैं। मोरक्को की जलवायु को दो भागों में विभाजित किया जा सकता है: उत्तर पश्चिम और दक्षिण-पूर्व। दक्षिण-पूर्व में, जलवायु शुष्क और खराब आबादी वाली है। उत्तर पश्चिम में, जलवायु एक हल्की जलवायु है। मोरक्को की 95% आबादी इन क्षेत्रों में रहती है। मोरक्को में सबसे ऊंचा बिंदु जेबेल टुबकल है जो 13,665 फीट (4,165 मीटर) तक ऊंचा है, जबकि इसका सबसे निचला बिंदु सेबखा ताह है जो समुद्र तल से -180 फीट (-55 मीटर) है।
मोरक्को की अर्थव्यवस्था को आपूर्ति और मांग के कानून द्वारा संचालित एक अपेक्षाकृत उदार अर्थव्यवस्था माना जाता है। 1993 के बाद से, देश ने कुछ आर्थिक क्षेत्रों के निजीकरण की नीति अपनाया है जो सरकार के हाथों में हुआ करता था। मोरक्को अफ्रीकी आर्थिक मामलों में एक सफल देश है, और जीडीपी (पीपीपी) द्वारा 5 वीं सबसे बड़ी अफ्रीकी अर्थव्यवस्था है। दक्षिण अफ्रीका से आगे इकोनॉमिस्ट इंटेलिजेंस यूनिट के क्वालिटी-ऑफ-लाइफ इंडेक्स में मोरक्को को पहले अफ्रीकी देश के रूप में स्थान दिया गया था। हालाँकि, उस प्रथम स्थान की रैंकिंग के बाद के वर्षों में, मोरक्को मिस्र के पीछे चौथे स्थान पर खिसक गया है। मोरक्को की अर्थव्यवस्था में पर्यटन सबसे महत्वपूर्ण क्षेत्रों में से एक है। यह देश के तट, संस्कृति और इतिहास पर केंद्रित एक मजबूत पर्यटन उद्योग के साथ अच्छी तरह से विकसित है। मोरक्को ने 2019 में 13 मिलियन से अधिक पर्यटकों को आकर्षित किया था। मोरक्को में कृषि देश के कर्मचारियों की संख्या का लगभग 40% हिस्सा है। इस प्रकार, यह देश का सबसे बड़ा नियोक्ता है। 2019 की वैश्विक प्रतिस्पर्धात्मकता रिपोर्ट के अनुसार, मोरक्को ने सड़क के मामले में दुनिया में 32 वें स्थान पर, समुद्र में 16 वें, वायु में 45 वें और रेलवे में 64 वें स्थान पर रहा था।
मोरक्को की आधिकारिक भाषाएं अरबी और बर्बर हैं। पूरी आबादी का लगभग 89.8% मोरक्कन लोग अरबी में कुछ हद तक संवाद करते हैं। 2008 में, फ्रेड्रिक देरोसे ने अनुमान लगाया कि 12 मिलियन बर्बर वक्ता थे, जो लगभग 40% आबादी थी। सरकारी संस्थानों, मीडिया, मध्य-आकार और बड़ी कंपनियों, फ्रांसीसी बोलने वाले देशों के साथ अंतर्राष्ट्रीय वाणिज्य, और अक्सर अंतर्राष्ट्रीय कूटनीति में फ्रांसीसी का व्यापक रूप से उपयोग किया जाता है। 2004 की जनगणना के अनुसार, 2.19 मिलियन मोरक्कोवासियों द्वारा फ्रांसीसी के अलावा एक अन्य विदेशी भाषा बोली जाती है।
  • मोरक्को को आधिकारिक तौर पर मोरक्को राजशाही कहते है, यह अफ्रीका के उत्तर में स्थित है।
  • मोरक्को की सीमाएं पूर्व में अल्जीरिया से, दक्षिण-पश्चिम में पश्चिमी सहारा रेगिस्तान से और पश्चिम में अटलांटिक महासागर से लगती है।
  • मोरक्को के वर्तमान शासक मोहम्मद VIth है जो 1999 से यहाँ अबतक शासन कर रहे है।
  • मोरक्को का कुल क्षेत्रफल 710,850 वर्ग कि.मी. (274,460 वर्ग मील) है।
  • मोरक्को की आधिकारिक भाषाएं अरबी और बर्बर है।
  • मोरक्को की मुद्रा का नाम मोरक्कन दिरहम है।
  • विश्व बैंक के अनुसार 2016 में मोरक्को की कुल जनसंख्या 3.53 करोड़ थी।
  • मोरक्को की एक मुस्लिम देश है, जिसकी अधिकत्तर जनसंख्या सुन्नी समुदाय की है।
  • मोरक्को में प्रत्येक वर्ष 30 जुलाई को सिंहासन दिवस मनाया जाता है, इस दिन राजा मोहम्मद छठे को याद किया जाता है।
  • मोरक्को का सबसे ऊँचा पर्वत टुबकल या तुबकल (Toubkal or Tubkal) है, जिसकी ऊँचाई 4,167 मीटर (13,671 फीट) है।
  • मोरक्को का सबसे लोकप्रिय खेल फुटबॉल है, साल 1986 में मोरक्को फीफा विश्व कप के दूसरे दौर में पंहुचने वाला पहला अरब और अफ्रीकी देश बन था।
  • मोरोको का राष्ट्रीय पशु शेर है।
  • मोरोको का राष्ट्रीय पकवान कुसकुस (couscous) है।
  • मोरोको के ध्वज पर लाल रंग कठोरता, बहादुरी और ताकत को, हरा रंग खुशी, ज्ञान, शांति और आशा को और इस्लाम को प्रदर्शित करता है।
  • 28 अक्टूबर 1859 - स्पेन ने अफ्रीकी देश मोरक्को के खिलाफ युद्ध की घोषणा की।
  • 24 अगस्त 1908 - मोरक्को के सुल्तान अब्दाल्ज़िज़ को बहुत ही संघर्ष के बाद हतोत्साहित किया गया है, और उनके भाई अब्द अल-हफीद को मोरक्को का उत्तराधिकारी बनाया गया
  • 04 नवम्बर 1911 - अफ्रीकी देश मोरक्को और कांगो को लेकर फ्रांस तथा जर्मनी के बीच समझौते पर हस्ताक्षर हुए।
  • 10 फरवरी 1912 - फ्रेंच सीनेट ने मोरक्को समझौते को मंजूरी दी।
  • 13 नवम्बर 1914 - ज़ियान वॉर-ज़ियान बर्बर आदिवासियों ने अल हेर्री की लड़ाई में मोरक्को में फ्रांसीसी सेना को स्थानांतरित कर दिया।
  • 18 दिसम्बर 1923 - मोरक्को में टंगेर के अंतर्राष्ट्रीय क्षेत्र की स्थापना की गयी।
  • 20 अगस्त 1953 - फ्रांसीसी सरकार ने मोरक्को के राजा मोहम्मद वी को बाहर कर, उसे कोर्सिका में बंदी बना दिया।
  • 18 नवम्बर 1956 - मोरक्को ने स्वतंत्रता हासिल की।
  • 02 मार्च 1956 - मोरक्को ने फ्रांस की स्वतंत्रता की घोषणा की।
  • 7 अप्रैल 1956 - स्पेन ने मोरक्को में अपने रक्षक को छोड़ दिया।
Marrakesh, Agadir, Tangier, Meknes, Ouezzane, Tan Tan, Tiznit, Kenitra, Oujda, Safi, Casablanca, Ksar El Kebir, Er Rachidia, Taza, El Jadida, Rabat, Settat, Larache, Goulimine, Fez, Beni Mellal,
Algeria [LM] , Morocco [LM] , Portugal [M] , Spain [LM] , Western Sahara [LM] ,
अंतरराष्ट्रीय सीमा की परिभाषा: L = Land Border (भूमि सीमा)| M = Maritime Border (समुद्री सीमा)

📊 This topic has been read 20 times.

« Previous
Next »