कांगो लोकतान्त्रिक गणराज्य देश का इतिहास, भूगोल, अर्थव्यवस्था तथा महत्वपूर्ण घटनाएं

✅ Published on August 15th, 2018 in अफ्रीका महाद्वीप, देशों की जानकारी

विश्व के भूगोल में कांगो लोकतान्त्रिक गणराज्य देश का एक अलग ही स्थान है| इस देश में कई ऐसी बातें है जो इस देश को अन्य देशों से अलग करती है जैसे की भाषा, रहन सहन, वेश-भूषा, संस्कृति, धर्म, व्यवसाय| आइये जानते है कांगो लोकतान्त्रिक गणराज्य(Democratic Republic of the Congo) देश से जुड़े कुछ ऐसे अनोखे तथ्य तथा इतिहास से जुड़ी महत्वपूर्ण घटनाओं के बारे में, जिन्हें जानकर आपका ज्ञान बढ़ेगा|

कांगो लोकतान्त्रिक गणराज्य देश की संक्षिप्त जानकारी

देश का नामकांगो लोकतान्त्रिक गणराज्य
देश की राजधानीकिन्शासा
देश की मुद्राकांगोलिस फ्रांक
महाद्वीप का नामAfrica
समूह का नामAfrican Union
देश का गठनJune 30, 1960
देश के राष्ट्रपिता/संस्थापकPatrice Lumumba

Read Also: देश का नाम, उनकी राजधानी तथा मुद्रा की सूची

इस क्षेत्र में कम से कम 3,000 साल पहले बंटू-भाषी जनजातियों का वर्चस्व था, जिन्होंने कांगो नदी बेसिन में अग्रणी व्यापार लिंक का निर्माण किया। कांगो पूर्व में इक्वेटोरियल अफ्रीका की फ्रांसीसी उपनिवेश का हिस्सा था। कांगो गणराज्य की स्थापना 28 नवंबर 1958 को हुई थी और 1960 में फ्रांस से स्वतंत्रता प्राप्त की। यह 1969 से 1992 तक मार्क्सवादी-लेनिनवादी राज्य था, जिसका नाम पीपुल्स रिपब्लिक ऑफ कांगो था।
कांगो, उप-सहारा अफ्रीका के मध्य-पश्चिमी भाग में स्थित है, इसके दक्षिण और पूर्व में कांगो लोकतांत्रिक गणराज्य है। यह पश्चिम में गैबॉन, उत्तर में कैमरून और मध्य अफ्रीकी गणराज्य और दक्षिण पश्चिम में कैबिंडा (अंगोला) से भी घिरा है। अटलांटिक महासागर पर इसका एक छोटा तट है।राजधानी, ब्रेज़ाविले, कांगो नदी पर स्थित है, देश के दक्षिण में, कांगो लोकतांत्रिक गणराज्य की राजधानी किंशासा से कुछ दूरी पर है।
कांगो गणराज्य गिनी की खाड़ी में चौथा सबसे बड़ा तेल उत्पादक बन गया है, जो देश को कुछ क्षेत्रों में राजनीतिक और आर्थिक अस्थिरता के बावजूद समृद्धि की डिग्री प्रदान करता है और देश भर में तेल राजस्व का असमान वितरण करता है। कांगो की अर्थव्यवस्था तेल क्षेत्र पर बहुत अधिक निर्भर है, और 2015 की तेल कीमतों में गिरावट के बाद से आर्थिक विकास काफी धीमा हो गया है।
जातीय और भाषाई रूप से कांगो गणराज्य की जनसंख्या विविधतापूर्ण है, देश में 62 बोली जाने वाली भाषाओं को मान्यता दी जाती है लेकिन इसे तीन श्रेणियों में बांटा जा सकता है। कोंगो सबसे बड़ा जातीय समूह है और आबादी का लगभग आधा हिस्सा है।
  • कांगो लोकतान्त्रिक गणराज्य अफ्रीका के बीच में स्थित देश है, इसका कुछ भू-भाग अटलांटिक महासागर से मिलता है, इसे कांगो नाम कांगो नदी से मिला जिसे जाएर नदी भी कहा जाता है।
  • इसकी सीमाएं पूर्व में यूगांडा, रवांडा और अंगोला, पश्चिम में कांगो गणराज्य और उत्तर में मध्य अफ़्रीकी गणराज्य और सूडान से लगी हुई हैं। पूर्व में तंगानयिका झील इस देश को तंजानिया से अलग करती है।
  • कांगो लोकतान्त्रिक गणराज्य 30 जून 1960 को स्वतंत्र हो गया।
  • स्वतंत्रता के सिर्फ चार दिन बाद सेना के विद्रोह की शुरुआती हुई, जिसका कारण अफ्रीकी सैनिकों का क्रोध था की आजादी के बावजूद कांगो की सेना के अधिकारी गोरे लोग है वो भी बिना अपवाद के।
  • कांगो लोकतान्त्रिक गणराज्य क्षेत्रफल के लिहाज से अफ्रीका महाद्वीप का तीसरा सबसे बड़ा देश है जिसका कुल क्षेत्रफल 2,344,858 वर्ग कि.मी. (905,355 वर्ग मील) है।
  • कांगो लोकतान्त्रिक गणराज्य की आधिकारिक भाषा फ़्रांसिसी है और वंहा पर मान्यता प्राप्त कुछ क्षेत्रीय भाषाएं लिंगाला, किकोंगो, स्वाहिली, शिलूबा भी बोली जाती है।
  • कांगो लोकतान्त्रिक गणराज्य की मुद्रा का नाम कांगोलिस फ्रांक है।
  • कांगो का राष्ट्रीय पकवान "चिकन इन अ मोआम्बे" सॉस है।
  • कांगो का सबसे ऊँचा पर्वत माउंट स्टेनली है, जिसकी ऊंचाई 5,109 मीटर (16,763 फीट) है।
  • कांगो लोकतान्त्रिक गणराज्य को डीआर कांगो, डीआरसी, कांगो-किन्शासा के नाम से भी जाना जाता है जो इसे पड़ोसी देश कांगो गणराज्य से अलग करता है।
  • कांगो का विरुंगा राष्ट्रीय पार्क अफ्रीका का सबसे पुराना राष्ट्रीय पार्क है, यह दुर्लभ पर्वत गोरिल्ला, शेर और हाथियों का घर है।
  • कांगो के ध्वज में नीला रंग उम्मीद और आकाश का प्रतीक है, लाल रंग की पट्टी लोगो के रक्त का प्रतीक है,पीले रंग की पट्टी सम्रद्धि का प्रतीक है और सितारा एकता का प्रतीक है।
  • सबसे प्रसिद्ध कांगो वर्षावन जनजाति में पिग्मी जनजाति है और ल्यूबा लोग जिन्हें भी बालाबा भी कहा जाता है, कांगो में सबसे बड़ा जातीय समूह है।
  • कांगो के लोग उष्णकटिबंधीय जलवायु में मार्च से जून तक बरसात के मौसम का आनंद लेते हैं।
  • कांगो में पहला कांगो युद्ध 1996 से 1997 तक चला और दूसरा कांगो युद्ध अगस्त 1998 से जुलाई 2003 तक चला।
Angola [LM] , Burundi [L] , Central African Republic [L] , Republic of the Congo [LM] , Rwanda [L] , South Sudan [L] , Tanzania [L] , Uganda [L] , Zambia [L] ,
अंतरराष्ट्रीय सीमा की परिभाषा: L = Land Border (भूमि सीमा)| M = Maritime Border (समुद्री सीमा)

📊 This topic has been read 90 times.

« Previous
Next »